अभिव्यक्ति
अभिव्यक्ति
 

संपादकीय

कार्यपालिका की बेरुखी ने न्यायपालिका को रुलाया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने भारत के मुख्य न्यायाधीश टीएस ठाकुर का रो पड़ना महज निजी...
 

चुनने का अधिकार सिर्फ मानव जाति को मिला है

चुनने का अधिकार सिर्फ मानवजाति को दिया गया हैं। हर एक प्राणी अपने प्रारब्ध का शिकार हैं।

आईपीएल और सूखे के बीच समझदारी भरा समाधान हो

सूखे और बाढ़ के प्रभाव में गरीबों के घर छोड़कर भागने की घटनाएं तो अक्सर होती रहती हैं।

कल्पेश याग्निक का कॉलम: यहां यदि खेलोगे तो यह मेरी मौत पर खिलखिलाना होगा

यहां यदि खेलोगे तो यह मेरी मौत पर खिलखिलाना होगा। यहां यदि खेलोगे तो यह मेरी मौत पर...

कल्पेश याग्निक का कॉलम: कोहिनूर नहीं- लाना है तो निवेश, काला धन और दाऊद लाओ

कोहिनूर। पीएफ। उत्तराखंड। तीन असंबद्ध, अलग विषय। किन्तु एक ही पाठ पढ़ा रहे हैं। कि...

सौ दृष्टिहीन बालिकाओं का जीवन ज्ञान से रोशन किया

‘दृष्टि’ की बच्चियां संगीत, योग और नाटक जैसी प्रतियोगिताओं में बड़े स्कूलों के सामान्य...
 
 
 
 
विज्ञापन
 
 

बड़ी खबरें

 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 

जीवन मंत्र

 

स्पोर्ट्स

 

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें