अभिव्यक्ति

  • देखिये ट्रेनडिंग न्यूज़ अलर्टस
Home >> Abhivyakti

Abhivyakti

अभिव्यक्ति
 

संपादकीय

कल्पेश याग्निक का कॉलम: जब आप किसी के ‘मोटापे’ पर हंसते हैं तब वह भीतर मौत जैसा कुछ झेलता है

वह सड़क पर दौड़ रहा था। लोग मखौल उड़ा रहे थे। वह वास्तव में दौड़ पा ही नहीं रहा था। उसका वज़न ही...
 

अमेरिका में फैली कटुता से उपजी पहली त्रासदी

डोनाल्ड ट्रम्प के राष्ट्रपति चुने जाने के बाद अमेरिका में जो धार्मिक, नस्लीय और जातीय...

निकायों का चुनावी मॉडल और सुशासन की चुनौती

दो दशकों के सफल गठबंधन के बाद ये दोनों दल खासतौर पर शिवसेना अपना दामन छुड़ाकर अकेले चलने के...

पहले हम तो पाक को आतंकी देश घोषित करें

पड़ोसी राष्ट्र के खिलाफ राज्यसभा में चर्चा के लिए पेश विधेयक का पारित होना क्यों जरूरी?

खराब हवा के कारण बढ़ती मौतों को गंभीरता से ले केंद्र

पर्यावरण को लेकर हमारे यहां जनता से लेकर शासकों तक उपेक्षा न भी कहें तो अजीब-सी उदासीनता है।

सईद को ‘बुरा’ आतंकी मानने की पाकिस्तानी मजबूरी

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वां में कोर्ट के बाहर हुए तीन विस्फोटों में कई लोग मारे गए।
 
 
 
विज्ञापन

RECOMMENDED

       
       

      पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

      दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

      * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.