अभिव्यक्ति
अभिव्यक्ति
 

संपादकीय

आज शिक्षक दिवस पर पढ़ें कल्पेश याग्निक का कॉलम : असंभव के विरुद्ध

मैं, शास्त्री। मां पहचान नहीं पाईं। हिचक। दरवाजे़ पर खड़ी रहीं। उनके चेहरे पर प्रश्न बना...
 

3 शख्स और 3 शख्सियत, जिनका काम बना शिक्षक

आज बात ऐसे शिक्षकों की जो सामान्य लोग हैं लेकिन अपने कामों से लोगों को बड़ी सीख दे रहे हैं।

सपा के पलटी खाने से गैर भाजपावाद में लगा पलीता

भारतीय राजनीति में ‘गैर-भाजपावाद’ जैसी किसी परिघटना के बनने और आगे बढ़ने के आकलनों पर भी...

ट्रेड यूनियनों की हड़ताल से क्या हासिल होगा?

अखिल भारतीय औद्योगिक हड़ताल और कई जगहों पर बंद का आह्वान पहले ही राजनीतिक रंग ले चुका था।

मणिपुर में एंट्री परमिट लागू करने का औचित्य क्या?

मणिपुर में इनर लाइन परमिट (आईएलपी) के मुद्‌दे ने विस्फोटक रूप ले लिया है।

जल्दी बने अंधविश्वास के खिलाफ कड़े कानून

परिस्थितिजन्य तमाम साक्ष्य यही संकेत देते हैं कि हम्पी विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति...
 
 
 
 
विज्ञापन
 
 

बड़ी खबरें

 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 

जीवन मंत्र

 

स्पोर्ट्स

 

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें