नॉलेज भास्कर

  • देखिये ट्रेनडिंग न्यूज़ अलर्टस
Home >> Abhivyakti >> Knowledge Bhaskar

Knowledge Bhaskar

किन हालात में हो वसीयत और अनिवार्यता क्या है?

हाल ही में वसीयत का एक मामला सामने आया, जिसमें एक व्यक्ति ने पांच वर्ष पूर्व ही परिजन के नाम वसीयत लिख दी थी। पांच वर्ष पश्चात उक्त व्यक्ति की मृत्यु हो गई, लिहाजा संपत्ति परिजन को दे दी गई। वसीयत में दी जाने वाली संपत्ति दो प्रकार की होती है, एक पैतृक और दूसरी खुद के द्वारा अर्जित की हुई। पैतृक संपत्ति को विधिवत पीढ़ियों को ही हस्तांतरित करना होता है। स्वअर्जित संपत्ति को आप अपने विवेक किसी को भी दे सकते हैं। यदि संपत्ति पैतृक है तो वसीयत की भूमिका बेहद सीमित रह जाती है। लेकिन यदि खुद के द्वारा...
May 25, 08:28 AM

सेहत... जन्मजात दिमागी बीमारी में सर्जरी

हमारे देश में क्रेनियोवर्टेबल जंक्शन (सीवीजे) की समस्या बहुत आम है। मस्तिष्क और मेरुदण्ड जहां मिलते हैं, उसमें यदि कोई रोग है तो इसका उपचार सर्जरी में है। इस तरह के जन्मजात दोष के मामले भी सर्जरी से सुधारे गए हैं। पहली बार किसी बच्चे की इस तरह की सर्जरी की गई। जानिए इसके बारे में- साढ़े चार साल का छोटा बच्चा राहुल क्रेनियोवर्टेब्रल जंक्शन (सीवीजे) की बीमारी से पीड़ित था, जब राहुल को अस्पताल लाया गया तो वह बिस्तर से उठ नहीं सकता था। सीवीजे एक ऐसा नाजुक और जटिल हिस्सा होता है जहां, खोपड़ी और सर्वाइकल...
May 24, 04:53 AM

रेयरेस्ट ऑफ रेयर केस में हालात और मृत्युदंड

मृत्युदंड के समर्थन और विरोध में हमेशा बहस चलती रही है लेकिन, निर्भया कांड में सुनाई गई मौत की सजा पर प्रतिक्रिया देखी जाए तो इसका स्वागत ही हुआ है। संयुक्त राष्ट्र के 192 सदस्य देशों में से 140 देशों में मृत्युदंड का प्रावधान हटा दिया गया है, तो क्या इसलिए हम भी ऐसा करें? इस परिप्रेक्ष्य में अदालत के कई फैसलों को समझना बहुत जरूरी है। निर्भया कांड में सुनाई गई मौत की सजा का आधार निर्ममता, घिनौना वहशी कृत्य था, जो किसी भी दृष्टि से इंसानी सोच नहीं कही जा सकती। इस तरह के मामले दुर्लभ में दुर्लभतम...
May 18, 05:56 AM

स्ट्रोक में कारगर इलाज टीपीए

अत्याधुनिक तकनीकों ने मस्तिष्क में मौजूद क्लॉट को निकालना भी संभव बना दिया है। ब्रेन स्ट्रोक भारत सहित पूरे विश्व में मृत्यु और विकलांग होने का एक प्रमुख कारण है। जीवनशैली और खानपान की आदतों में बदलाव के कारण आज उम्रदराज लोग ही नहीं युवा भी तेजी से इसकी चपेट में आ रहे हैं। भारत में हर 40 सेकंड में एक व्यक्ति स्ट्रोक की चपेट में आता है और हर चार मिनट में स्ट्रोक के कारण किसी की मृत्यु होती है। उच्च रक्तचाप स्ट्रोक का एक प्रमुख कारक है इसे नियंत्रित कर इसके खतरे को 30.40 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है।...
May 17, 04:49 AM

पैरों में लकवा और इलाज

स्पाइनल काॅर्ड दिमाग का संदेश शरीर के अन्य अंगों तक पहुंचाता है। ऐसे में स्पाइनल कॉर्ड में किसी भी प्रकार चोट लग जाना यानी स्पाइनल काॅर्ड इंज्यूरी को पूरे शरीर के लिए बेहद गंभीर माना जाता है। अब स्टेम सेल थैरेपी जैसे नवीनतम उपचार ने स्पाइनल काॅर्ड की इंज्यूरी से जूझ रहे लोगों को उम्मीद की एक नई किरण दिखाई है। स्पाइनल काॅर्ड में चोट लगने की वजह से विश्वभर में लाखों युवा, बच्चे और बुजुर्ग किसी न किसी विकार विकलांगता या मौत का शिकार हो जाते हैं। आंकड़ों के अनुसार लगभग लाखों लोग प्रत्येक वर्ष...
May 10, 08:46 AM

बचत और निवेश... तेजी वाले बाजार में निवेश का फैसला एकदम न लें

हर निवेशक बाजार में आई तेजी का फायदा उठाना चाहता है। नए निवेशकों को लग रहा है कि वे इतनी तेजी में जब बाजार हर दिन नई ऊंचाई छू रहा है, रातों रात पैसा कमाकर निकल सकते हैं। लेकिन बाजार में पैसा लगाना आसान है, पैसा कमाना इतना आसान नहीं है। यदि लंबी अवधि के लिए पैसा नहीं लगाते हैं तो लाभ होगा या नहीं पता नहीं... पिछले तीन माह से बाजार में बहुत तेजी है। निवेशक बाजार में पैसा लगाने के लिए तैयार हैं। वे चाहते हैं कि किसी भी तरह से किसी इक्विटी फंड में पैसा लगाकर बाजार की स्थिति का फायदा उठाया जाए, जिसके लिए...
May 9, 07:34 AM

खानपान की पसंद का अधिकार, कानून और अदालतें

पिछले कुछ समय से देश में खाने पीने की आदतें, पसंद, नापसंद आदि को लेकर खूब चर्चाएं हैं। ये भी कहा जाता है कि इस संबंध में कानून भी आ सकता है। लेकिन खाना-पीना व्यक्ति के मौलिक अधिकार से जुड़ा मामला है। इससे छेड़छाड़ नहीं की जा सकती। एक ओर उत्तरप्रदेश की सरकार ने बूचड़खानों को धड़ल्ले से बंद करा दिया है। संविधान की धारा 48 में यह व्यवस्था है कि राज्य विशेषकर गाय, बछड़ों अन्य दुधारू और वाहक पशुओं की नस्ल की सुरक्षा के लिए उनकी हत्या पर प्रतिबंध लगाने के लिए कदम उठाएगा। यह राज्यों पर छोड़ा है कि वे लोगों की...
May 4, 07:01 AM

कितना घातक है ब्लैडर कैंसर

जिन्हें भी यूरिन पास करने में तकलीफ हो या यूरिन में रक्त आए तो तुरंत किसी कैंसर रोग विशेषज्ञ को दिखाएं। ये ब्लैडर कैंसर के प्रारंभिक लक्षण हो सकते हैं। इसके कुछ संकेतों से पहचानकर फर्स्ट स्टेज में ही अलर्ट हुआ जा सकता है। ब्लैडर कैंसर के अधिकतर मामले 60 पार की उम्र के लोगों में देखे जाते हैं लेकिन, आधुनिक जीवनशैली युवाओं को भी इसका शिकार बना रही है। ब्लैडर कैंसर: ब्लैडर पेल्विक क्षेत्र में गुब्बारे के आकार का एक अंग होता है। यह हमारे यूरिनरी सिस्टम का हिस्सा होता है, जिसमें किडनी से छनकर आया...
May 3, 08:47 AM

बचत और निवेश... म्युचुअल फंड को लेकर बाजार में भ्रम क्या है और सच क्या

इन दिनों मेरे पास म्युचुअल फंड में निवेश को लेकर कई तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं। यह मेरे लिए कोई नई बात नहीं है। जब शेयर बाजार में तेजी की स्थिति है तो इस तरह के सवाल आना लाजमी है। मेरा मानना है कि म्युचुअल फंड को लेकर बहुत गलत धारणाएं हैं। ये कुछ इस तरह से हैं और इनकी वास्तविकता क्या है, इसे समझिए- 1. यदि एसआईपी के जरिये निवेश किया है तो म्युचुअल फंड में वैल्यू कम नहीं होगी- यह मान्यता ठीक नहीं है। एसआईपी की जहां तक बात है तो यह निवेश का एक तरीका है। जिस तरह से बैंक में रिकरिंग डिपॉजिट होता है, जो...
May 2, 08:42 AM

कानून और अधिकार- बुजुर्गों की स्वअर्जित संपत्ति में बहू के हक पर फैसला

भले ही बेटी को माता-पिता के घर में बेेटे के समान अधिकार हो, लेकिन ससुराल में मामला अलग है। कई महिलाएं संपत्ति में हिस्सा मांगकर बुजुर्गों को परेशान कर रही हैं। हाल ही में अदालत ने बुजुर्गों के पक्ष में फैसला देते हुए कहा कि जब तक संपत्ति बुजुर्ग द्वारा स्वअर्जित है, तब तक बहू को रखना या नहीं रखना उनकी इच्छा पर निर्भर है। हाल ही में दिल्ली की एक अदालत ने दादी सास के पक्ष में एक फैसला सुनाया कि उसके पोते की पत्नी दादी सास की मर्जी के बिना घर में नहीं रह सकती। समाज और खासकर बड़े शहरों में बुजुर्ग...
April 27, 10:57 AM

कम चीरफाड़ में घुटना बदलना

हाल में एक 50 वर्षीय महिला उपचार के लिए आई। उनके घुटनों के जोड़ अंदर की तरफ मुड़ जाते थे, इसलिए उन्हें चलने में काफी परेशानी होती थी। हर कदम पर उनके घुटने सिमट जाते थे। वे बहुत दूर तक चल नहीं पाती थीं और अपने घरेलू काम करने में भी उन्हें बहुत परेशानी होती थी। जांच के बाद सामने आया कि वे यूनिकम्पार्टमेंटल आॅस्टियो आॅर्थराइटिस से पीड़ित हैं। जिसमें उनके घुटने का मध्यवर्ती हिस्सा शामिल है। हालांकि महिला की हड्डियां अच्छी थीं और उनकी शरीर रचना व अलाइनमेंट भी ठीक था, लेकिन उनके घुटनों दोनों तरफ दस...
April 26, 08:34 AM

निवेशक इन चीजों से सावधान रहें, तो घोटालों से बचे रहेंगे

हाल ही में उत्तरप्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स ने अब्लेज इंफॉर्मेटिक्स नाम की कंपनी के निदेशक और दो कर्मचारियों को गिरफ्तार किया है। यह वही कंपनी है, जो सोशलट्रेंडबिज. इन, फ्रीहब.कॉम, इंटमार्ट.कॉम और फ्रेंजअप.कॉम जैसे अलग-अलग नामों से कंपनियां चलाती थी। कई लोगों ने अलग से इनकम जुटाने के लिए अपनी बचत का अच्छा-खासा हिस्सा इनमें लगा रखा था। हिसाब और खाता सभी बनाए गए थे। करीब 11 लाख लोग इसके सदस्य बन गए थे। इसमें एमएलएम की अवधारणा मार्केटिंग में लागू कर रखी थी, जिसमें एक सदस्य के नीचे और सदस्य बनाना होते...
April 25, 07:59 AM

डूबती कंपनियों में पैसा फंसा है तो ऐसे निकल सकेगा

हाल ही में विजय माल्या का बंगला नीलाम हुआ और बैंकों ने उससे पैसा जुटाया। दिवालिया हो चुकी कंपनियों के लिए कुछ समय पहले दिवालिया कानून बना है, जिसमें न केवल बैंकों का वरन जो छोटे निवेशक हैं, उनका भी पैसा दिलाने का प्रावधान हैं। यदि मामला सही है तो इसका सही मायने में उपचार दिवालिया संहिता 2016 में ही है। इसमें कई तरह के प्रावधान हैं जो कर्ज देने वाले विभिन्न श्रेणी के लोगों को पैसा वापस दिलाने में मदद करेंगे। इस कानून में प्राथमिकता देनदार को भुगतान करने पर दी गई है। जब अंतिम रूप से सरकार और अन्य...
April 20, 09:41 AM

सेहत... मोटापा और पीठ की सर्जरी

59 वर्षीय सरला गुप्ता मोटापे से पीड़ित थीं (बीएमआई 46.6), पीठ के असहनीय दर्द से परेशान थीं। यह दर्द उनके शरीर के निचले अंगों तक चला गया था। सरला वास्तव में पीठ में खिंचाव और मोटापे के कारण पिछले दो वर्ष से अपंग जैसी हो गई थीं और कुछ भी नहीं कर पा रही थीं। उन्होंने दर्द निवारक दवाइयां भी लीं, लेकिन इससे सिर्फ कुछ घंटों के लिए दर्द से राहत मिलती थी। बाद में विभिन्न जांचों से पता लगा कि वह रीढ़ की हड्डी की गंभीर बीमारी लंबर स्पाइनल स्टेनोसिस की शिकार हैं और इसका एकमात्र उपचार डीकम्प्रेशन फ्यूजन सर्जरी है...
April 19, 10:10 AM

पति से ज्यादा पढ़ी लिखी हैं तो कमाएं, गुजारा भत्ता क्यों?

अभी तक यही देखने में आया है कि तलाक पति की इच्छा से हो या फिर पत्नी की, दोनों ही स्थितियों में गुजारा भत्ते की मांग पत्नी ही किया करती है। अब अदालतें उन महिलाओं को गुजारा भत्ता देने की मांग खारिज कर रही हैं। खासतौर पर उन मामलों में जहां पति से नाजायज रूप से वसूली की इच्छा हो, ताकि जीवनभर कुछ करने की जरूरत न हो। दिल्ली की साकेत जिला अदालत ने इसी संदर्भ में एक फैसला दिया। जिसमें अदालत ने पत्नी के गुजारा भत्ते को बढ़ाए जाने की याचिका को खारिज कर दिया। अदालत ने कहा- पढ़ी-लिखी, सक्षम और योग्य पत्नी जो...
April 13, 08:35 AM

सेहत: पार्किंसंस में डीप ब्रेन स्टिमुलेशन

सामान्य तौर पर हाथों में कंपकंपी ही पर्याप्त है यह समझने के लिए कि कोई व्यक्ति पार्किंसंस रोग से पीड़ित है लेकिन, इसके साथ मांसपेशियों का कड़ापन या सामान्य गतिविधियां प्रभावित होना जैसे लक्षण भी दिखाई देते हैं। इस बीमारी की शुरुआत में चेहरे पर बहुत कम या तो कोई भाव दिखाई नहीं देते हैं या चलते समय हाथ नहीं हिलते हैं, बोलते समय आवाज बिल्कुल धीमी हो सकती है या उच्चारण अस्पष्ट हो सकते हैं और जैसे-जैसे बीमारी बढ़ती है ये लक्षण गंभीर होते जाते हैं। इस प्रकार की स्थितियों में यह बहुत महत्वपूर्ण है...
April 12, 09:21 AM

बचत और निवेश: नौकरीपेशा अपना फाइनेंस कैसे ठीक रख सकते हैं?

पिछले हफ्ते मैं अपने मित्र रमन से मिला। वह एक एफएमसीजी कंपनी में मार्केटिंग हेड है। तनाव में था, जॉब बदलने की सोच रहा था। उसकी चिंता उसके फाइनेंस को लेकर थी। वह मेरे साथ उसे बांटना चाहता था। मुझे आश्चर्य था कि उसकी सेलरी काफी अच्छी थी, तो वह कैसे वित्तीय संकट में आ गया। दो घंटे बातचीत के पश्चात समझ में आया कि उसकी परेशानी सेलरी को लेकर नहीं थी, वरन उसके वित्तीय मैनेजमेंट को लेकर थी। साथ ही उसका पैसे खर्च करने का तरीका सही नहीं था। उससे मिलकर मुझे जो समझ में आया वह बता रहा हूं, ताकि उसकी तरह से कोई और...
April 11, 08:43 AM

कानून और अधिकार : अदालतों की कार्यवाही सीधे देखने का अधिकार

सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में एक महत्वपूर्ण आदेश दिया है कि अदालतों में कैमरे लगाए जाएं। इससे जनता अदालतों की कार्यवाही को देख सकेगी। कई विकसित देशों में इस तरह की अनुमति नहीं है, लेकिन हमारे देश में इसकी लंबे समय से मांग हो रही है। यह फैसला नागरिक अधिकारों को ध्यान में रखते हुए किया गया है। न्यायपालिका कई वर्षों से अदालतों में कैमरे लगाने के खिलाफ रही है, लेकिन अंतत: पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने सीसीटीवी कैमरा लगाने के आदेश दिए। इसमें ऑडियो रिकॉर्डिंग नहीं हो सकेगी। देश के समस्त राज्यों के...
April 6, 10:39 AM

रूमेटाइड ऑर्थराइटिस व सर्जरी

रूमेटाइड ऑर्थराइटिस ऐसी तकलीफ है कि इसमें दर्द सहन नहीं होता है और पैरों में सूजन भी होने लगती है। जिन लोगों का काम खड़े रहने का है, जैसे ट्रैफिक पुलिस या एयर होस्टेस उन्हें ज्यादा परेशानी होती है। गंभीर मामलों में अंतिम विकल्प सर्जरी है, इसमें भी जॉइंट फ्यूजन सर्जरी सबसे कारगर है। शीना (38) एक सक्रिय एयर होस्टेस हैं, पर वे पिछले ढाई साल से गठिया (रूमेटाइड आॅर्थराइटिस) से पीड़ित थीं। उनके पैरों में काफी दर्द रहता था। सूजन और दर्द के कारण एयर होस्टेस के रूप में वे अपना काम भी सही ढंग से नहीं कर पा...
April 5, 07:36 AM

बचत और निवेश... बीमा पॉलिसी : क्या आपको मिलेगा कितना एजेंट को

इंश्योरेंस को लेकर निवेशक हमेशा निश्चिंत हो जाता है। वह एजेंट पर भरोसा करता है कि उसे दस साल में या बीस साल में इतना पैसा मिल जाएगा। यदि वह इंश्योरेंस प्रोडक्ट के रिटर्न का आकलन करे तो यह 5 फीसदी से कुछ ही ज्यादा होगा। वैसे भी, इंश्योरेंस में रिटर्न की अपेक्षा नहीं रखनी चाहिए, क्योंकि यह निवेश से बिल्कुल अलग है। वर्षों से लोग इंश्योरेंस में निवेश करते ही हैं। इंश्योरेंस में अब ऐसा कुछ भी नया नहीं रह गया है, यह केवल बीमा एजेंटों द्वारा चलाया जा रहा शिगूफा है, जिससे वे अपने खुद के लिए पैसा बनाते...
April 4, 06:41 AM
पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

* किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.