संपादकीय

  • देखिये ट्रेनडिंग न्यूज़ अलर्टस
Home >> Abhivyakti >> Editorial

Editorial

तानाशाही नहीं है राजमार्गों पर शराब बिक्री रोकना

तानाशाही नहीं है राजमार्गों पर शराब बिक्री रोकना
करीब एक माह पहले हमें पता चला कि सुप्रीम कोर्ट ने हाईवे के 500 मीटर के दायरे में शराब की बिक्री पर रोक लगा दी है। हमेशा की तरह हमें मीडिया के विभिन्न मंचों पर कई प्रकार की राय और विचार जानने को मिले। असंख्य बहसें इस फैसले के फायदे और नतीजों पर शुरू हो गईं। सच कहूं तो मैं इस पाबंदी के समर्थन मंें हूं और इसका कारण बिल्कुल सरल-सा है। यह शायद हाईवे पर शराब पीकर वाहन चलाने से होने वाली दुर्घटनाएं रोकने का पुख्ता तरीका न हो, पर कम से कम अच्छी शुरुआत तो है। सबसे महत्वपूर्ण बिंदु तो यह है कि चाहे शराब पीकर...
08:44 AM

सरकार युद्ध की तैयारी में व्यस्त, लोग अपने काम में

सरकार युद्ध की तैयारी में व्यस्त, लोग अपने काम में
अमेरिकी जनता को आशंका है कि उनका और उत्तर कोरिया के बीच कभी भी युद्ध की स्थिति बन सकती है। वातावरण गर्म है और वहां एक देश उत्तर कोरिया के सामने दो दुश्मन हैं। अगर युद्ध हुआ तो वह उत्तर कोरिया और अमेरिका का होगा या इसमें दक्षिण कोरिया भी शामिल होगा। यह सवाल उठ रहे हैं, लेकिन अमेरिका और एशिया महाद्वीप की अर्थव्यवस्था पर कितना असर होगा, इसका अनुमान नहीं लगाया जा सकता। उत्तर कोरिया को सबसे बड़ी चुनौती अगर मिल सकती है, तो वह होगी दक्षिण कोरिया से। बाहरी दुनिया बिल्कुल नहीं जानती कि वहां आखिर चल क्या...
08:44 AM

जल्दी और सस्ते में नाकामी सफलता की पक्की कुंजी

जल्दी और सस्ते में नाकामी सफलता की पक्की कुंजी
हमारे भविष्य की सारी सफलताओं में बाधा है हमारी मौजूदा सफलता। कम्फर्ट हमारी उपलब्धि का शत्रु होता है। जैसे-जैसे हम बड़े होते जाते हैं और जिंदगी में कुछ लक्ष्य हासिल करते हैं तो हमारा रुझान, कुछ रूटीन और परिचय का काम करने के कम्फर्ट जोन में आने का हो जाता है। असली तरक्की तो इस कम्फर्ट जोन के बाहर होती है। हम अनजानी, जोखिमभरी और नई चीजें करके ही तरक्की हासिल करते हैं। खुद की पुनर्खोज करनी है तो इसके लिए काम करने के परिचित क्षेत्र से एक कदम बाहर निकालना होगा। हमें नई भूमिका में कूदना पड़ सकता है। खुद...
08:39 AM

समय को हाथ में रखें, जब मौका मिले सीखें

समय को हाथ में रखें, जब मौका मिले सीखें
मेरे जीवन में संगीत शुरू से ही था। उसी से आरंभ और उसी से यात्रा आगे बढ़ी। घर में वातावरण था। पंडित मणिराम और पंडित जसराज हमारे यहां आया करते थे। मेरे मामाजी उनसे शास्त्रीय संगीत की शिक्षा ग्रहण करते थे। आदमी कौन-सी दिशा लेता है, यह कहा नहीं जा सकता। मेरे एक मित्र थे बर्लिन में। उन दिनों यूरोप में बर्लिन को खास स्थान प्राप्त था, क्योंकि वह छोटी-सी जगह थी। दुश्मनों के बीच थी, चारों ओर विश्वयुद्धों में जिन्हें मित्र राष्ट्र कहा गया वही थे। वहां मेरे मित्र और कुछ लोगों ने अंतरराष्ट्रीय संगीत के...
08:34 AM

हम भी कम कर सकते हैं अदालतों के काम का बोझ

हम भी कम कर सकते हैं अदालतों के काम का बोझ
सुप्रीम कोर्ट के 67 साल के इतिहास में यह पहली बार होगा,जब इन गर्मियों में पांच जजों वाली तीन बेंच नियमित रूप से हर दिन काम करेगी और राष्ट्रीय महत्व से जुड़े कई मुद्दों का निपटारा करने की कोशिश करेंगी। दरअसल, अदालतों में लंबित मामलों के पहाड़ को देखते हुए मुख्य न्यायाधीश जस्टिस जेएस खेहर ने हाल ही में सुप्रीम कोर्ट के 28 में से 15 जजों की गर्मी की छुट्टियां रद्द कर दी हैं। आगामी 11 मई से इन जजों की तीन अलग-अलग खंडपीठ करीबन 5,298 मामलों पर सुनवाई करेगी; जिसमें मुस्लिम समुदाय से जुड़े तीन तलाक, निकाह हलाला व...
April 28, 08:48 AM

उड़ी का दूसरा चरण है कुपवाड़ा में हुआ हमला

गुरुवार की सुबह वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास कुपवाड़ा में सेना के शिविर पर आतंकी हमला पिछले साल हुए उड़ी हमले की याद दिलाता है। उस समय भी शिविर में सोए हुए जवानों पर आक्रमण किया गया था और इस बार भी सुबह चार बजे का यह हमला उसी तरह घात लगाकर किया गया है। वह हमला जाड़ा और बर्फबारी शुरू होने से पूर्व किया गया था और इस बार हमले के लिए बर्फबारी खत्म होने और गर्मियों की शुरुआत का मौसम चुना गया है। इस वक्त सीमा पार से प्रेरित आतंकी हमले बढ़ते हैं क्योंकि घुसपैठ करने के लिए मौसम अनुकूल हो जाता है। देखना यह...
April 28, 08:45 AM

शोषण के शिकार समाज को ऐसे ही मरहम की जरूरत

केंद्र सरकार के इस फैसले की प्रशंसा होनी चाहिए कि अागामी 1 मई अर्थात श्रमिक दिवस से विशिष्ट-अतिविशिष्ठ व्यक्तियों की कारों में सामंती मानसिकता का प्रतिनिधित्व करने वाली लाल बत्ती नहीं होगी। केंद्र सरकार ने इसका बहुत ही खूबसूरत तर्क दिया है कि देश का हर व्यक्ति वीआईपी है। हालांकि, सेंट्रल मोटर व्हिकल एक्ट, 1989 में संशोधन के बाद ही इस बारे में अधिसूचना जारी की जा सकेगी। आज के परिप्रेक्ष्य में लाल बत्ती महज एक अतिरिक्त सुविधा भर नहीं, बल्कि एक ऐसी संस्कृति का प्रतीक बन गई है, जिसकी भारत जैसे...
April 27, 10:51 AM

देश को विकल्पहीनता की ओर धकेलता दिल्ली चुनाव

उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड की धमाकेदार और गोवा व मणिपुर विधानसभा में जोड़-तोड़ वाली जीत के बाद दिल्ली नगर निगम चुनाव में भाजपा की जबरदस्त जीत ने फिर साबित कर दिया है कि देश पर राष्ट्रवाद का सम्मोहन हावी है और उसे मोदी व भाजपा के अलावा कुछ दिखाई नहीं दे रहा है। भाजपा ने आम आदमी पार्टी से 2015 के विधानसभा चुनावों की करारी हार का बदला लगभग ले लिया है और यह साबित कर दिया है कि संगठन और विचारधारा के बिना भाजपा और संघ परिवार का विकल्प बनना आसान नहीं है। यह संदेश कांग्रेस के लिए तो है ही और उससे ज्यादा आप के लिए...
April 27, 10:43 AM

गोरक्षा के कारण प्राणी रक्षा की मुहिम खतरे में

गोरक्षा के कारण प्राणी रक्षा की मुहिम खतरे में
मैं गोरक्षक हूं फिर चाहे आपमें से कई लोगों को (आज के संदर्भ में) वह कितना ही भयावह लगे। बरसों तक हममें से कुछ लोग अवैध बूचड़खानों में गायों और बछड़ों को कत्ल करने के लिए होने वाले अवैध परिवहन को रोकने का प्रयास करते रहे (कुछ राज्यों में तो हर वैध बूचड़खाने के पीछे सौ अवैध कत्लखाने हैं)। कई बार हम कामयाब होते पर ज्यादातर हम नाकाम ही होते। वे रिश्वत देकर या व्यक्तिगत प्रभाव से अथवा पुलिस की लापरवाही के कारण छूट जाते। लेकिन, जानवरों से प्रेम करने वाले हम सभी के लिए यह बहुत भयावह दृश्य होता। बदकिस्मत...
April 27, 10:29 AM

हमेशा व्यक्ति के हित में ही जारी होता है फतवा

हमेशा व्यक्ति के हित में ही जारी होता है फतवा
हाल ही में सोनू निगम पर कथित फतवे को लेकर काफी हाय तौबा मची। इससे पहले असम की गायिका नाहिद आफरीन हो या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, इन पर भी जारी फतवे ने सुर्खियां बटोरीं। लेकिन, अगर मैं आपसे यह कहूं कि इनमें से कोई भी फतवा नहीं था तो आप हैरान हो जाएंगे। दरअसल, फतवे के सही अर्थ को समझने की जरूरत है। इसके कई पहलू हैं। पहला, फतवा का अर्थ होता है धार्मिक मसलों पर कोई राय। इस्लाम से जुड़े किसी मसले पर जब शरियत के मुताबिक राय दी जाती है तो उसे फतवा कहा जाता है। इससे साफ है कि फतवे किसी मुस्लिम के लिए ही...
April 26, 08:31 AM

क्या परीक्षा से ही बच्चों का आकलन संभव?

क्या परीक्षा से ही बच्चों का आकलन संभव?
- बच्चे प्रतियोगी स्पर्धाओं के लिए मिसफिट हो जाते पहले 10वीं बोर्ड परीक्षा आधे में वैकल्पिक थी और आधे में अनिवार्य थी। 60 फीसदी बच्चे बोर्ड परीक्षा नहीं देते थे। कंटीन्यूअस एंड कॉम्प्रिहेंसिव इवेल्यूएशन(सीसीई) का सिस्टम लागू था, जिसके तहत जो बच्चे बोर्ड एग्ज़ाम नहीं देते थे उनका आंतरिक आकलन होता रहता था। यह 10वीं में लागू था। अब सभी स्कूलों में 10वीं बोर्ड की परीक्षा एक जैसी होगी। इसी तरह छठी से आठवीं तक सभी स्कूल अलग व्यवस्था और शैली अपना रहे थे। परीक्षा, पढ़ाई, रिपोर्ट कार्ड भी स्कूलों के...
April 26, 08:29 AM

नक्सलियों पर कड़ी कार्रवाई करके समर्पण कराना होगा

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में केंद्रीय रिजर्व सुरक्षा बल(सीआरपीएफ) के जवानों पर नक्सलियों का क्रूर और कायराना हमला न तो वहां के आदिवासियों के हित में है और न ही इससे राज्य की आक्रामकता किसी तरह से कम होने वाली है। उल्टे इस घटना के बाद राज्य और संगठित होकर ऑपरेशन चलाएगा तथा वे आदिवासी और नुकसान उठाएंगे, जिनकी आड़ लेकर उस इलाके में माओवाद चलाया जा रहा है। माओवाद कार्ल मार्क्स के क्रांतिकारी सिद्धांत का ऐसा खतरनाक विचलन है जो अपने मूल देश में समाप्त होकर उस देश में पनप रहा है, जहां की राजनीति माओ की...
April 26, 08:29 AM

क्या महंगी ब्रैंडेड दवाओं की बिक्री पर लगेगी लगाम?

क्या महंगी ब्रैंडेड दवाओं की बिक्री पर लगेगी लगाम?
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने एक भाषण में डॉक्टरों को जनेरिक दवाएं अनिवार्य रूप से लिखने के लिए कानूनी ढांचा बनाने पर जोर दिया है लेकिन, गौरतलब है कि यह व्यवस्था पहले से ही सिस्टम में है। भारतीय चिकित्सा परिषद (एससीआई) ने 2016 अपनी नियमावली में इसे शामिल किया था, यह अलग बात है कि इसका पालन कभी नहीं किया गया। आइए दोनों दवाओं का फर्क समझें। जब दवा कंपनी वर्षों के शोध-अनुसंधान और भारी-भरकम निवेश के बाद नई दवा विकसित करती है तो वह इसका पेटेंट कराती है ताकि कोई नकल न कर पाए। इसे ही ब्रैंडेड दवाइयां...
April 25, 07:56 AM

भाजपा-पीडीपी गठजोड़ बने रहने से शांति को मौका

जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मुलाकात के बाद यही बात निकल कर आई है कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने जिस इंसानियत के दायरे में संवाद की पहल की थी उसे फिर से शुरू करना चाहिए। यह भी सच है कि पत्थरबाजी और सुरक्षा बलों की कार्रवाई के बीच शायद ही संवाद हो पाए। महबूबा मुफ्ती ने तीन महीने का समय मांगा है और इस दौरान गृहमंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में मंगलवार को एक बड़ी बैठक भी आयोजित की जा रही है। यह अच्छी बात है कि भाजपा और पीडीपी गठबंधन को...
April 25, 07:50 AM

टीम सदस्यों पर भरोसा व निरंतरता ही जीत हासिल करने का रहस्य

टीम सदस्यों पर भरोसा व निरंतरता ही जीत हासिल करने का रहस्य
इस शनिवार को मुंबई के वानखेड़े स्टेिडयम में मैं पहली बार मौजूदा आईपीएल का 25वां मैच देखने गया, जो मुंबई इंडियन्स (एमआई) और दिल्ली डेयरडेविर्स (डीडी) के बीच था। जिस वक्त मैंने स्टेडियम में प्रवेश किया तो वहां पर समुद्री नीले रंग का सैलाब आया हुआ था। मैं समीप मौजूद समुद्र की बात नहीं कर रहा हूं बल्कि नीले रंग के झंडे लहरा रहे दर्शकों की बात कर रहा था। मेरा मतलब है कि मैच के दौरान स्टेडियम में मुंबई इंडियन्स के समर्थकों की प्रभावी मौजूदगी थी। मैच शुरू होने के पहले से ही मुंबई इंडियन्स के समर्थक...
April 24, 07:34 AM

पाकिस्तान सक्षम नहीं, दुनिया संभाले उसके एटमी हथियार

पाकिस्तान सक्षम नहीं, दुनिया संभाले उसके एटमी हथियार
जैसे ही किसी आतंकी संगठन का संबंध पाकिस्तान से होने की बातें सामने आती हैं तो सभी देशों को एक ही चिंता सताती है कि उसके यहां परमाणु हथियार भी हैं। कहीं वो आतंकी संगठनों के हाथ न लग जाएं। कुछ दिन पहले यह खबरें सामने आई थीं कि अगर पाकिस्तान अपने परमाणु हथियार सुरक्षित नहीं कर सकता, तो अमेरिका उन पर नियंत्रण स्थापित कर लेगा। वह कुछ साल पहले की बात थी, लेकिन वर्तमान दौर भी ऐसा ही है। पाकिस्तान उन नौ देशों में ही शामिल नहीं है, जिनके पास परमाणु हथियार हैं। वह वैश्विक जिहाद का अड्डा भी है, जहां से बुराई...
April 24, 07:26 AM

माल्या को देश में लाना है तो कानूनों का फर्क दूर करें

माल्या को देश में लाना है तो कानूनों का फर्क दूर करें
देश को नौ हजार करोड़ की चपत लगाने वाले भगोड़े विजय माल्या को लंदन में स्कॉटलैंड यार्ड ने पकड़कर हिरासत में लिया। यह खबर अभी ठीक से सुनी भी नहीं गई थी कि पता चला की विजय माल्या को जमानत भी मिल गई, जिसके लिए उसने करीबन 5.4 करोड़ रुपए का बॉन्ड भरा। कोर्ट ने जमानत मंजूर करते हुए आदेश दिया कि माल्या को लंदन में ही रहना पड़ेगा और वह अपने घर में नज़रबंद रहेगा। उसे 17 मई को कोर्ट के समक्ष फिर पेश होना होगा। इस मामले में सबसे बड़ी बिडंबना यह है कि जब भारतीय कानून के तहत माल्या को स्वदेश लाकर उस पर आपराधिक मुकदमा चलाया...
April 24, 07:22 AM

आप ‘लाइट्स’ और ‘कैमरा’ पर ही तो नहीं रुक गए हैं?

आप ‘लाइट्स’ और ‘कैमरा’ पर ही तो नहीं रुक गए हैं?
जब नदी में पानी की एक बूंद गिरती है तो वह ऐसी तरंगों की रचना करती है, जो सभी दिशाओं में दूर-दूर तक फैल जाती हैं। जब बारिश गिरती है तो लाखों बूंदें, लाखों तरंगें पैदा करती हैं। आपके दिमाग में पैदा होने वाले विचारों का भी आप पर यही प्रभाव पड़ता है। खुशी से भरा दिल पाने के लिए इतना ही काफी है कि अापने में अच्छे विचार पैदा करने और ज़िंदगी को सकारात्मक दृष्टि से देखने की काबिलियत हो। रचनात्मक और उम्मीद से भरा दृष्टिकोण होना बहुत जरूरी है। याद रखें, भय ही दैत्य है और साहस ही ईश्वर है। नाकामी का भय कई रूपों...
April 24, 07:17 AM

निष्पक्ष कर्मठता से गरिमा पर आंच नहीं आती

निष्पक्ष कर्मठता से गरिमा पर आंच नहीं आती
उत्तर प्रदेश आईपीएस संघ ने प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी से सहारनपुर एसपी को अपमानित किए जाने के संदर्भ में आईपीएस अफसरों की गरिमा की रक्षा की गुहार लगाई है। ऐसा प्रतीत होता है जैसे एक चक्र पूरा हो गया। आरोप लगते रहे हैं कि योगी सरकार के आने के बाद एंटी रोमिओ अभियान या हिंदू वाहिनी की अतियों में नागरिकों की गरिमा की धज्जियां पुलिस के संरक्षण में उड़ती रहीं। यानी प्रशासन के लिए सीधा सबक- जब आप राजनीतिक जोश के तहत नागरिकों की गरिमा की धज्जियां उड़ने देंगे तो एक दिन उसी राजनीतिक जोश के...
April 24, 06:50 AM

कम कीमतें और स्तर सुधारना बिज़नेस का रूल

कम कीमतें और स्तर सुधारना बिज़नेस का रूल
स्टोरी1 : अगर आप फूडी हैं और बर्मी सब्जियां जैसे- खुव सुए, यलो डम्पलिंग, मशरूम डिमसूम या नॉन वेजिटेरियन डिश में पीकिंग चिकन रावीओली के शौकिन हैं तो मेट्रो सहित किसी भी शहर में आपके विकल्प सिर्फ फाइस्टार होटल या कोई महंगा बुटिक रेस्तरां ही हो सकता है। देश का कोई भी रेस्तरां चीन, लेबनान, तुर्की, थाइलैंड, उज्बेकिस्तान, जापान, कोलंबिया से लेकर लाओस और इंडोनेशिया तक की डिशेज एक साथ उपलब्ध नहीं कराता है। यह बात ताज कोरोमंडल के कलिनरी शेफ नभोजीत घोष को लंबे समय से चिंतित कर रही थी। लेकिन, जब उनकी मुलाकात...
April 22, 07:14 AM
पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

* किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.