संपादकीय

Home >> Abhivyakti >> Editorial
  • कल्पेश याग्निक का कॉलम : जाे 12वें किलोमीटर पर मिला, देश तो वो है
    इन्सान की आंखें माइक्रोस्कोप की तरह हैं। ये दुनिया को उसके वास्तविक आकार से बहुत बड़ा कर देखती हैं। (यानी बढ़ा-चढ़ा कर पेश करती हैं) - खलील जिब्रान पत्नी के शव को कंधे पर रख कोई 12 किलोमीटर चले दाना मांझी के फोटो ने समूचे देश को झकझोर दिया। इतने अमानवीय कैसे हो सकते हैं? फिर चर्चित हुआ एक नक्शा। पत्नी के शव को कंधे पर रखे व्यक्ति को ही भारत के नक्शे के रूप में सोशल मीडिया पर प्रसारित, प्रचारित किया गया। असंख्य लोगों ने उसे देखा, बांटा और पसंद किया। पसंद यानी सही माना। या यही स्थिति है ऐसा माना। इस...
    August 27, 03:50 AM
  • शनि शिंगणापुर, त्र्यंबकेश्वर के बाद अब हाईकोर्ट की तरफ से मुंबई की हाजी अली दरगाह के भीतरी हिस्से में महिलाओं के प्रवेश की इजाजत मिलने से यह बात साबित हो रही है कि धार्मिक कट्टरता के विरुद्ध अगर किसी तबके से सबसे सार्थक चुनौती आ सकती है तो वह महिलाओं की तरफ से। महिलाओं की इस चुनौती के विरुद्ध धर्मतंत्र की प्रतिक्रिया की आशंका समाप्त नहीं हो जाती, लेकिन एक उम्मीद जरूर बनती है कि अगर किसी धर्म के भीतर से उसकी कट्टरता को चुनौती मिलती है तो उसमें बदलाव की संभावना ज्यादा रहती है बनिस्पत बाहर से...
    August 27, 03:40 AM
  • राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने संघ परिवार के संगठनों से प्रधानमंत्री की सार्वजनिक आलोचना न करने की अपील करके मौजूदा एनडीए सरकार और उसके मुखिया मोदी को वैधता प्रदान की है। भागवत का मौजूदा बयान भले संघ परिवार की दरार पाटने के लिए हो, लेकिन यह देश के हित में भी है। इस बयान का संदर्भ मोदी के उस बयान से है, जिसमें उन्होंने अस्सी प्रतिशत गोरक्षकों को असामाजिक बताया था और दलितों पर हमला करने वालों को आड़े हाथों लिया था। प्रधानमंत्री के उस बयान पर विश्व हिंदू परिषद और गोरक्षक दलों के...
    August 26, 03:22 AM
  • अगर द ऑस्ट्रेलियन अखबार के आंकड़ों पर यकीन करते हुए मान लें कि फ्रांस की कंपनी डीसीएनएस द्वारा मुंबई के मडगांव बंदरगाह पर बनाई जा रही स्कॉर्पीन श्रेणी की छह पनडुब्बियों के 22,000 पेज के आंकड़े चोरी हो गए हैं तो यह भारत की रक्षा तैयारियों के लिए बड़ा झटका है। यह घटना तब हुई है जब भारत ने रक्षा क्षेत्र को सौ फीसदी विदेशी निवेश के लिए खोल दिया है। हालांकि, फ्रांस की कंपनी के साथ यह समझौता 11 साल पहले 2005 में तत्कालीन यूपीए सरकार ने किया था, लेकिन इन आंकड़ों का उस समय लीक होना चिंता का विषय है जब इन...
    August 25, 03:37 AM
  • कन्नड़ अभिनेत्री और कांग्रेस की पूर्व विधायक राम्या को महज इतना कहने पर कि पाकिस्तान जहन्नुम नहीं है देशद्रोही बताना असहिष्णुता की इंतहा है। यह एक प्रकार से सशंकित देशप्रेम है जो किसी की सामान्य असहमति से खंडित हो जाता है और उसे सहमत करने, उससे तर्क करने और उसकी उपेक्षा करने की बजाय उसे दंडित करना जरूरी मानता है। यह सही है कि राम्या का बयान देश के रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर के उस बयान पर सीधे चोट करता है, जिसमें उन्होंने कहा था कि उन्हें पाकिस्तान नहीं जाना है, क्योंकि वह तो नरक है, लेकिन...
    August 24, 05:12 AM
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कश्मीर घाटी के विपक्षी नेताओं को बातचीत के लिए बुलाकर जो पहल की है वह 45 दिनों के गतिरोध को तोड़ने की दिशा में उठाया गया एक महत्वपूर्ण कदम है। यह कदम पहले ही उठाया जाना चाहिए था, लेकिन शायद सरकार असंतोष का सारा दोष पाकिस्तान पर लगाकर मामले के ठंडे होने का इंतजार कर रही थी। उसी सिलसिले में प्रधानमंत्री ने लालकिले से दिए भाषण में घाटी की मौजूदा अशांति को बलूचिस्तान और पाक अधिकृत कश्मीर से जोड़ने की कोशिश की। ये कोशिशें अंतरराष्ट्रीय राजनय के लिए उपयोगी हो सकती हैं,...
    August 23, 04:38 AM
  • आपके भीतर मौजूद बुद्ध को आकार देता है दुख
    छोटी-सी बात को लेकर अधिकतर लोग दुखी हो जाते हैं, क्योंकि उनके मन की नहीं होती है। किंतु दुख में जो छिपा है, वह आपको आकार देने के लिए तो नहीं है? कहीं दुख ने आपको वह मौका तो नहीं दिया, जहां से दुख आपके भीतर एक बोधिवृक्ष को आकार दे दे, क्योंकि मनुष्य दु:ख के परिणामों से परिपक्व होता जाता है। कहते हैं अज्ञान आनंद की अवस्था-सा है। शायद इसलिए कि अहसास ही नहीं है तो फिर कष्ट क्यों कर होगा? सुकरात का कथन है, असंतोषी मनुष्य का जीवन संतोषी पशु-जीवन से कहीं बेहतर है। इस असंतोष का संबंध जिज्ञासा और ज्ञान के...
    August 22, 05:35 AM
  • कल्पेश याग्निक का कॉलम: हमें पता नहीं चलेगा- किन्तु आज सवेरा होते ही होंगी लाखों सिंधु समान लड़कियां लड़ने को तैयार
    हमें पराजय से भयभीत होना समाप्त करना होगा - अन्यथा पराजय हमें ही समाप्त कर देगी। - अज्ञात कुछ पल होते ही परिवर्तन के लिए हैं। कुछ स्पर्धाएं होती ही हैं साहस जगाने के लिए। कोई होता ही इसलिए है कि कोई, उसे होते हुए देखकर, वैसा ही होना चाहे। शुक्रवार, 19 अगस्त 2016 की तिथि भारतीय संदर्भों में सिंधु साहस की तिथि है। समूचे देश में उत्साह का चरम वातावरण बन गया। मानो हर मोहल्ला ही गोपीचंद एकेडमी हो। धड़कने थामे, संभवत: -बल्कि निश्चित ही- हम करोड़ों भारतीय नागरिकों ने पहली बार इतने ध्यान से बैडमिंटन खेलते...
    August 20, 04:31 AM
  • रियो ओलिंपिक में भारतीय खिलाड़ियों के निराशाजनक प्रदर्शन के बीच नरसिंह यादव को कोर्ट ऑफ आर्बिट्रेशन फॉर स्पोर्ट्स की तरफ से चार साल के लिए प्रतिबंधित किए जाने ने भारतीय खेलों के माथे पर दाग लगा दिया है। नरसिंह यादव से ज्यादा इस बदनामी के लिए भारत सरकार जिम्मेदार है, जिसने नेशनल एंटी डोपिंग एजेंसी (नाडा) के फैसले को पलटवा कर उन्हें ओलिंपिक में हिस्सा लेने का मौका दिया। अब चूंकि सरकार के इस फैसले से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किरकिरी हुई है, इसलिए यह संदेह पुख्ता हो रहा है कि नरसिंह यादव के मामले...
    August 20, 04:27 AM
  • अगस्त के पहले सप्ताह में अमेरिका की दूसरी सबसे बड़ी एयरलाइन डेल्टा एयरलाइंस के अटलांटा स्थित मुख्यालय में कंप्यूटर की गड़बड़ी के कारण 2,000 से अधिक उड़ानों को रद्द करना पड़ा था। ब्रिटेन, अमेरिका में हजारों यात्री विमानतलों पर अटके रहे। कई जगह तो बोर्डिंग कार्ड डॉट मैट्रिक्स मशीनों पर प्रिंट करना पड़े थे। यह अराजकता बताती है कि आईटी सिस्टम के विफल होने पर बड़ी कंपनियां कितनी असहाय हो जाती हैं। विमानन विशेषज्ञ डेल्टा के सिस्टम को उसके प्रतिद्वंद्वियों से बहुत बेहतर मानते हैं। अन्य एयरलाइन भी आईटी...
    August 19, 04:46 AM
  • स्टॉकहोम में स्वीडिश कॉफी चेन वेसगाटन- एस्प्रेसो हाउस की युवा वेटर कहती है, यहां केवल टूरिस्ट ही कैश में पैसा देते हैं। जब विदेशी टूरिस्ट एटीएम से निकाले नोट देते हैं तब काउंटर पर बैठे व्यक्ति को खुले पैसे देने में मुश्किल जाती है। स्वीडन के लोग बहुत कम करेन्सी नोटों का उपयोग करते हैं। वर्ष 2000 के बाद कार्ड से पेमेंट में दस गुना बढ़ोतरी हुई है। पांच में से केवल एक पेमेंट ही नगद होता है। उत्तरी यूरोप के अधिकतर देशों में दुकानों पर नो कैश के साइनबोर्ड बढ़ रहे हैं। लेकिन, दक्षिण और पूर्वी यूरोप में...
    August 19, 04:43 AM
  • पिछली सदी में औसत उम्र तो खूब बढ़ी है पर वह बेहतर भोजन, आवास, लोक-स्वास्थ्य और कुछ दवाओं का नतीजा है। अब तो बुढ़ापे पर ही लगाम लग जाएगी। आज जो 120 की उम्र सीमा मानी जाती है, कई लोग वहां तक पहुंच जाएंगे। डीएनए को लंबी उम्र के हिसाब से बदल लिया जाएगा। 45 वर्षीय माइकल रे रोज 1,900 कैलोरी ग्रहण करते हैं, जरूरत से 600 कैलोरी कम। ब्रेकफास्ट में सलाद, दही और खास तरह के मफीन्स (एक तरह का केक)। सिर्फ 100 कैलोरी में उन्हें 10 फीसदी पोषक तत्व मिल जाते हैं। अपनी डाइट को वे 15 साल से कम (कैलोरी रिस्ट्रिक्शन यानी सीआर) कर रहे हैं।...
    August 19, 04:39 AM
  • बलूचिस्तान पर आक्रामक रवैया पाक को चेतावनी
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के उद्बोधन में और कुछ ही दिन पहले हुई सर्वदलीय बैठक में बलूचिस्तान में पाकिस्तान द्वारा किए जा रहे मानव अधिकार हनन का मुद्दा उठाया। भारत अब तक कश्मीर मुद्दे को लेकर रक्षात्मक भूमिका में रहा, जबकि वह इस मामले में कबायली हमले झेलकर आज़ादी के बाद से ही पीड़ित पक्ष रहा है। इससे कश्मीर हड़पने की कोशिशें और वहां के अवाम पर जुल्म करने के इल्ज़ाम लगाने का पाकिस्तान का दुस्साहस बढ़ता ही गया। किंतु अब हालात एकदम उलटे हैं! हम पाकिस्तान से उसकी ही जबान में बात कर...
    August 19, 04:34 AM
  • काल बड़ा बांका-लड़ भतीजा-काका
    उत्तरप्रदेश में अकेले बलबूते पर पूर्ण बहुमत से सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने देश के 70वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लखनऊ में राष्ट्रीय ध्वज के आरोहण के वक्त मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की उपस्थिति में यह कहते हुए कि वे शिवपाल यादव का अपमान बरदाश्त नहीं कर सकते, उनकी कथित उपेक्षा के मद्देनजर अपनी पार्टी के विभाजन संबंधी जो आशंका व्यक्त की है, उसे सहज या स्वाभाविक नहीं माना जा सकता। भले ही यह पहला अवसर नहीं है, जब उन्होंने सपा के नेताओं और अखिलेश सरकार के...
    August 19, 04:27 AM
  • भाजपा के नए कार्यालय के उद्घाटन के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा के संघर्षों को कांग्रेस से ज्यादा बताकर नई राजनीतिक बहस छेड़ दी है। जब लालकृष्ण आडवाणी ने अयोध्या के लिए रथयात्रा निकाली तो उन्होंने ऐसी बहस छेड़ी थी। उनकी कोशिश भाजपा को आज़ादी के बाद की कांग्रेस पार्टी के रूप में स्थापित करने की थी और कांग्रेस की कमजोरियों व दूसरी पार्टियों की अल्पकालिक रणनीतियों के चलते वैसा हो भी गया। किंतु मोदी जब आज़ाद भारत में भाजपा के संघर्ष की तुलना गुलाम भारत की कांग्रेस से करते हैं तो...
    August 19, 04:24 AM
  • बिहार के गोपालगंज में जहरीली शराब पीकर 15 लोगों के मरने की घटना दुखद है। इसके लिए राज्य में पूर्ण शराबबंदी लागू करने वाली सरकार एक हद तक दोषी है, लेकिन सारा दोष उसके मत्थे मढ़कर शराबबंदी आंदोलन पर ठीकरा फोड़ना उचित नहीं है। सरकार ने आरंभिक तौर पर दावा किया है कि सब्जी बेचने वाले और दिहाड़ी मजदूरी करने वाले उन लोगों की मौत शराब से नहीं, बीमारी से हुई है। अनुमान यही है कि यह त्रासदी जहरीली शराब के कारण ही हुई है। यह एक स्थापित तथ्य है कि जब-जब किसी राज्य या शहर में शराब बंदी होती है, तो वहां अवैध शराब...
    August 18, 02:57 AM
  • राष्ट्रपति की मंजूरी के बाद बेनामी सौदे पर प्रतिबंध लगाने वाला कानून अब और सख्त हो गया है, लेकिन असली सवाल यह है कि क्या इसे सख्ती से लागू किया जाएगा? जाहिर है कि सरकार ने अगर बेनामी सौदे की सजा तीन साल से बढ़ाकर सात साल कर दी है तो जरूर उसका लक्ष्य देश में बड़े पैमाने पर फैले काले धन के कारोबार पर लगाम लगाना है। इसी के साथ सरकार यह स्वीकार भी कर रही है कि रीयल एस्टेट के कारोबार में बड़ी मात्रा में यह काम होता है। तभी उसके निशाने पर इस तरह का क्षेत्र है। इससे पहले भी सरकार रीयलएस्टेट सेक्टर के लिए...
    August 17, 03:29 AM
  • कहने की स्वतंत्रता, सुनने की जिम्मेदारी ही लोकतंत्र
    अक्सर संवाद की जरूरत को हम सब बड़ी शिद्दत के साथ महसूस करते हैं। किंतु अपने अहंकार की कंदराओं से झांकते हुए हमें दूसरे से पहल की उम्मीद होती है। हम खुद शुरुआत करने में हेठी समझते हैं। हम भूल जाते हैं कि संवाद का टूटना, संबंधों का टूटना है। हमारे सामाजिक-राजनीतिक जीवन में भी संवाद की अहमियत कम नहीं है। व्यक्तियों की तरह समूहों के बीच भी मत-विभिन्नता के कारण टकराव रहता है। लोकतंत्र अपनी बात कहने की स्वतंत्रता और दूसरे की सुनने-समझने की जिम्मेदारी डालकर ऐसी व्यवस्था प्रदान करता है, जिसमें आपसी...
    August 15, 06:25 AM
  • कल्पेश याग्निक का कॉलम: शरीर तोड़ें-मोड़ें, उम्र को अंक बनाकर अंक में भर लें, दौड़ें- हमें यह सिखाता है ओलिम्पिक
    खेल दो तरह के होते हैं- दमखम और कौशल। दमखम अधिक हो तो कौशल कुचल जाता है। कौशल अधिक हो तो दमखम दम तोड़ देता है। जीवन की यही त्रासदी है। मज़ा भी इसी में है। - अज्ञात ओलिम्पिक, सर्वोच्च प्रतीक है मानवीय क्षमताओं को तोड़ने का। खिलाड़ियों के लिए तो इसमें बहुत छोटा लक्ष्य है - स्वर्ण। या कि शेष पदक। देशों और दलों/टोलियों के लिए उससे कुछ ही बड़ा लक्ष्य है - प्रतिष्ठा। या कि वर्चस्व। यानी जीत के इर्द-गिर्द। किन्तु हम, संसार के साधारण मनुष्यों के लिए ओलिम्पिक एक प्रचंड ललकार है : कि आओ, निडर बन जाओ! और, जिन...
    August 13, 07:39 AM
  • भारतीय रिजर्व बैंक के शीघ्र विदा होने वाले गवर्नर रघुराम राजन का दर्द और बैंकों के पूंजीकरण और उनकी बैलेंस शीट को दुरुस्त करने के बारे में दिए गए सुझाव दोनों ध्यान देने लायक हैं। उससे हमारा फायदा ही होगा। उन्होंने यह कहा है कि वे कुछ समय और रुकना चाहते थे ताकि बचा हुआ काम कर सकें, लेकिन न तो सरकार ने उनसे आग्रह किया और न लोगों ने बेवजह की आलोचना बंद की। अच्छी बात है कि वे जाते-जाते यह कह रहे हैं कि उन्होंने अपने 90 से 95 प्रतिशत उद्देश्य पूरे कर लिए हैं। यह उनसे ज्यादा भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए...
    August 13, 04:30 AM