संपादकीय

Home >> Abhivyakti >> Editorial
  • कल्पेश याग्निक का कॉलम: जयललिता की ज़िंदगी से  ले सकते हैं ये 6 सीख
    यदि आप पुरुषों को हराना चाहते ही हैं - तो आपको नारी बनना होगा। - अज्ञात जब जयललिता, तमिल मैग्ज़ीन कुमुदम में अपने जीवन की समूची यात्रा, कहानी रूप में लिख रही थीं, तो अन्नाद्रमुक नेताओं को यह रास न आया। मरुदुर गोपालन रामचंद्रन (एमजीआर) को कहा गया कि किसी तरह यह धारावाहिक बंद हो जाए। तब जयललिता 30 की हो चुकी थीं। पता नहीं, उन्होंने स्वयं वह बीच में ही बंद कर दिया या दबाव बढ़ा - किन्तु कहानी बंद जरूर हो गई। यानी उनकी अपनी कहानी कहने के लिए भी उन्हें संघर्ष करना पड़ा। जयललिता ने कितना सटीक कहा था कि उनकी...
    December 10, 05:46 AM
  • हजार रुपए और 500 रुपए के नोट बंद करने का प्रभाव देश के जनजीवन पर साफ नज़र आता है। नरेन्द्र मोदी सरकार के इस कड़े फैसले के एक माह बाद भी लोग करेंसी की कमी से जूझ रहे हैं। बैंकों में पहले जैसी भीड़ तो नहीं है पर लोगों की परेशानी कम नहीं हुई है। इधर, नोटों के विमुद्रीकरण ने अार्थिक गतिविधियों को प्रभावित किया है। कई उद्योग और व्यापार मंदी की समस्या का सामना कर रहे हैं। स्वयं रिजर्व बैंक ने जीडीपी अनुमान को 7.5 से घटाकर 7.1 प्रतिशत कर दिया है। विश्व की सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था के लिए यह अनुमान उजली...
    December 10, 05:31 AM
  • पांच सौ और हजार रुपए के पुराने नोट वापस लिए जाने को एक महीना हो गया है, लेकिन परिदृश्य में कोई खास बदलाव नहीं आया है। संसद के भीतर शोर-गुल है, बाहर वही नेता विरोध प्रदर्शनों में लगे हैं और एटीएम के सामने लंबी कतारें लगी हैं। संसद में सार्थक बहस होती तो शायद कोई रास्ता निकलता, स्थिति में सुधार होता और आम जनता को राहत मिलती। विपक्ष चाहे जनता का हिमायती बनने का दिखावा कर रहा हो, लेकिन लोगों को राहत दिलाने के संसदीय तरीके में लगता है उसका उतना भरोसा नहीं है। यही वजह है कि रक्षा प्रतिष्ठान दिवस पर मजबूत...
    December 9, 03:45 AM
  • नोटबंदी के कारण उन क्षेत्रों में सुस्ती की आशंका है, जो परम्परागत रूप से नकद व्यवहार पर निर्भर रहे हैं जैसे दैनिक जीवन की खपत की वस्तुओं से जुड़ा व्यापार-व्यवसाय। इसे देखते हुए संभावना जताई जा रही थी कि भारतीय रिजर्व बैंक रेपो रेट में कटौती करेगा, लेकिन उसने इसे 6.25 फीसदी पर ही बरकरार रखने का निर्णय किया है। यह वह दर होती है, जिस पर केंद्रीय बैंक व्यावसायिक बैंकों को पैसा देता है और अन्य बैंकों की दरें इसी के आधार पर तय होती हैं। जैसी परिस्थिति है उसमें आर्थिक वृद्धि को बढ़ावा देने और उपभोक्ता का...
    December 8, 05:23 AM
  • जब देश अपने समय की शक्तिशाली महिला राजनेता में से एक जयललिता को भावांजलि दे रहा है, तब उत्तर प्रदेश में उसी तरह की जीवटता दिखाने वालीं महिला नेता मायावती ने डॉ. बाबासाहेब आम्बेडकर की पुण्यतिथि के मौके पर उत्तर प्रदेश की समाजवादी सरकार और खासतौर पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर कड़े प्रहार किए हैं। बहुजन समाज पार्टी ने यह सभा बुलाई तो थी संविधान निर्माता को श्रद्धांजलि देने के लिए, लेकिन मायावती के भाषण ने उसे राजनीतिक रंग दे दिया। उनके कार्यकाल में बनाई हाथियों की प्रतिमाओं पर अखिलेश के तंज...
    December 7, 05:03 AM
  • अमृतसर में आतंकवाद और युद्ध से जर्जर अफगानिस्तान की मदद के लिए हुई हार्ट ऑफ एशिया बैठक में पाकिस्तान को एक बार फिर अातंकवाद पर असुविधाजनक स्थिति का सामना करना पड़ा। खासतौर पर जिस अफगानिस्तान के लिए बैठक हुई उसी ने दो टूक कहा कि पाकिस्तान जो मदद उसे पुनर्निर्माण के लिए दे रहा है, यदि वह उस राशि को अपने यहां आतंकवाद खत्म करने में लगाए तो बेहतर होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान का नाम लिए बिना आतंकवाद की चर्चा कर दी। इससे बौखलाए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ के सलाहकार...
    December 6, 06:53 AM
  • कल्पेश याग्निक का कॉलम: साहसपूर्ण नोटबंदी के बाद अपमानजनक इंस्पेक्टर राज और हदबंदी जैसा माहौल क्यों?
    क्या करना है - यह निर्णय है। क्या नहीं करना है - यह क्रियान्वयन है। क्या लोग मानेंगे - यह परिणाम है। किन्तु आज कोई यह सब क्यों सोचेगा? - अज्ञात अपने ही पैसे न छू पाने को विवश साधारण नागरिकों को अब अपमानित किया जा रहा है। नरेन्द्र मोदी सरकार के अफसर उन्हें अब धमका रहे हैं। इसका सोर्स बताओ। उसका कारण गिनाओ। इतना गहना रख सकते हैं। उतना अवैध मानेंगे। जब्त कर लेंगे। एक हेय दृष्टि। एक हीन भाव। इंस्पेक्टर राज की क्रूर वापसी। वोे भी उन ईमानदारों के लिए जो करंसी बदलाव के कष्ट सहते हुए, इस निर्णय के...
    December 3, 09:10 AM
  • यह तो अच्छा हुआ कि संसद का सत्र चल रहा था और रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने पश्चिम बंगाल सचिवालय के आसपास और राज्य के दूसरे हिस्सों में सेना के अभ्यास की जानकारी दे दी, वरना ममता बनर्जी की चिंताएं पहले से ही तनाव में गुजर रहे देश को और भी परेशानी में डाल सकती थीं। किंतु रक्षा मंत्री के बयान से यही तथ्य निकल रहा है कि सेना के नियमित अभ्यास की मुकम्मल सूचना ममता सरकार को नहीं दी गई थी, इसीलिए ममता बनर्जी सारी रात सचिवालय में बैठकर लोकतंत्र की रखवाली का दावा करती रहीं। उनके पुलिस अधिकारियों का भी...
    December 3, 05:10 AM
  • कल्पेश याग्निक का कॉलम : ‘खून की दलाली’: क्यों अच्छा है विषाक्त वाचालों का चीखना?
    जब वे आपका फैसला करने लगें, जम्हाई लें। जब वे आपके बारे में ग़लतफ़हमी पाल लें, मुस्कराएं। जब वे आपको कम आंकने लगें, हंसिए। जब वे आपको कोसने लगें, ध्यान मत दीजिए। जब वे आपसे ईर्ष्या करने लगें, मज़े लीजिए। जब वे आपका विरोध करने लगे, बस डटे रहिए। - अज्ञात राहुल गांधी ने अच्छा किया जो खून की दलाली का जुमला उछाला। क्योंकि यदि वे ऐसा डरावना आरोप नहीं लगाते तो भाजपा अध्यक्ष अमित शाह दलाली के कांग्रेस के जेहन में हमेशा बने रहने का अनुमान सामने नहीं लाते। क्योंकि इसी के बाद खुद कांग्रेस को भी याद आया कि...
    December 3, 05:01 AM
  • नोटबंदी के इस समय में अगर सरकार व बैंकों के तमाम आश्वासनों के बावजूद वेतन दिवस पर राहत मिलने की उम्मीद लगाए लोग बुरी तरह निराश हुए हैं तो अब लोगों को यह समझ लेना चाहिए कि आने वाले दिनों में नकदी की वह सुविधा नहीं मिलने वाली है जो 8 नवंबर के पहले थी। सरकार और बैंक भले दावा कर रहे हैं कि पांच सौ के नोट छप के आ रहे हैं, एटीएम कैलीबरेट कराए जा रहे हैं और हवाई जहाजों से नोट पहुंचाए जा रहे हैं, लेकिन हर कर्मचारी और उसके परिवार के जीवन में पूर्णमासी के चांद की तरह खुशियां लेकर आने वाला वेतन दिवस लोगों को लाइन...
    December 2, 07:31 AM
  • सुप्रीम कोर्ट ने सिनेमाघरों में राष्ट्रगान की धुन बजाए जाने और उसके सम्मान में खड़े होने को अनिवार्य करके 21वीं सदी में उभरती देशभक्ति की भावना पर मुहर लगा दी है। देखना है कि इस आदेश का पालन वे लोग कितनी तन्मयता से करते हैं, जो सिर्फ फेसबुक और ट्विटर पर देशभक्ति की बहसें चलाते रहते हैं। इस देश का आम आदमी देशभक्त है और उसे देश के स्वाभिमान के प्रतीकों का आदर करने में कोई परेशानी नहीं है। वह सुबह प्रभातफेरी भी निकालता रहा है और राष्ट्रीय पर्वों पर लंबी- लंबी परेडों में देश के लिए नारे भी लगाता...
    December 1, 04:57 AM
  • प्रधानमंत्री ने अब अपनी ही पार्टी के सांसदों और विधायकों को बैंक खातों का विवरण सौंपने का आदेश देकर भारतीय जनता पार्टी में नैतिकता और शुचिता का वातावरण कायम करने की पहल की है, लेकिन उससे ज्यादा उन्होंने विपक्षियों के आरोपों का जवाब देने और उन पर और कड़ा हमला करने के लिए कमर कस ली है। चूंकि विपक्षी दलों ने आरोप लगाए थे कि भाजपा के प्रतिनिधियों और समर्थकों को सरकार के नोटबंदी का पहले से अहसास था, इसलिए उन्होंने अपना कालाधन ठिकाने लगा दिया, इसलिए मोदी ने भाजपा के जनप्रतिनिधियों के आठ नवंबर से 31...
    November 30, 05:41 AM
  • नोटबंदी के विरोध में संसद के भीतर भले ही विपक्षी एकता कायम हो गई हो, लेकिन सड़क पर वैसी एकता नहीं बन पाई है, भारतबंद पर विभाजित विपक्ष इसका प्रमाण है। नोटबंदी के कट्टर समर्थक इसे बेअसर और कमजोर विरोध कहकर इसका मजाक उड़ा सकते हैं, लेकिन अगर इसे थोड़ा रचनात्मक तरीके से देखा जाए तो यह उदारीकरण के तीसरे चरण में चल रहे देश का नाराजगी जताने का अपना नरम तरीका है। वह कालेधन से चिंतित जरूर है पर उसे मिटाने के तरीके से खफा भी है। भाजपा और उसके नेता नरेंद्र मोदी भले विपक्ष का यह कहकर मजाक उड़ाएं कि हमने...
    November 29, 04:44 AM
  • वर्ष 1912 में ब्रॉडवे क्लासिक द म्यूज़िक मैन ने सभी का दिल जीत लिया था। कलाकार हैरॉल्ड हिल ने आयोवा में शो करके लोगों को समझाया था कि युवा आबादी का स्तर घट रहा है। इन दिनों भी बच्चों को लेकर माता-पिता को विपरीत परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है। कई बार तो निराशा हाथ लगती है। आज ज्यादातर माता-पिता वर्तमान टेक्नोलॉजी को बच्चों के लिए खतरा समझते हैं। अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स की शोध रिपोर्ट में कहा गया है कि भले ही डिजिटल व सोशल मीडिया शुरुआती समझ बढ़ाने में मददगार हो, लेकिन बाद में वह बड़ी...
    November 28, 07:34 AM
  • नोटबंदी के एक हफ्ते बाद संसद का शीतकालीन सत्र शुरू हुआ था अौर उसके बाद से शुक्रवार को लगातार सातवें दिन विपक्षी सदस्यों के हंगामे के बीच दोनों सदनों का कामकाज प्रभावित रहा। विमुद्रीकरण निश्चित रूप से बहस का विषय है, क्योंकि जहां एक तरफ यह लोगों की आजीविका पर भारी पड़ता है, वहीं इसके दीर्घकालीन फायदों से भी इनकार नहीं किया जा सकता है। यह कहने के बावजूद, इन दोनों पक्षों पर पुख्ता दलीलें हैं। राष्ट्रवादी भावनाओं को छोड़ दें तो लोगों के बीच भी इसे लेकर भ्रम की स्थिति है। संसद की कार्यवाही के सीधे...
    November 26, 05:54 AM
  • भारत में कठोर नोटबंदी के हाहाकार के बावजूद अगर रुपया मजबूत होने की बजाय डॉलर के मुकाबले 35 महीनों के सबसे निचले स्तर यानी 68.86 रुपए प्रति डॉलर पर आ गया है तो इसकी बड़ी वजह देश के भीतर नहीं बाहर है। अगर मोदी रुपए को मजबूती दिलाने की कोशिश कर रहे हैं तो अमेरिका के नए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के आगमन के कारण डॉलर मजबूत हुआ है। साफ है कि हम कितनी भी कसरत कर लें, लेकिन वैश्विक स्थितियां आर्थिक कारकों को अपने ढंग से तय करती हैं। अमेरिकी फेडरल ओपन मार्केट कमेटी ने हाल में हुई बैठक में जैसे ही यह घोषणा की...
    November 25, 05:30 AM
  • पहले पाकिस्तान के भीतर आतंकी शिविरों पर और फिर देश के भीतर कालेधन पर सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारत को जैसी उम्मीद थी वैसे परिणाम अभी हासिल नहीं हो रहे हैं। न तो पाकिस्तान की तरफ से युद्धविराम के उल्लंघन में कमी आ रही है और न ही देश के भीतर स्थिति शांत हो रही है। अगर देश के भीतर सत्तापक्ष और विपक्ष के भीतर जंग छिड़ी हुई है तो सीमा पर भी युद्धविराम का उल्लंघन आम बात हो गई है। मंगलवार को माछिल में पाकिस्तान की तरफ से जिस तरह भारतीय सैनिकों को न सिर्फ निशाना बनाया गया बल्कि उनमें से एक सैनिक के शव को...
    November 24, 04:07 AM
  • नोटबंदी पर आक्रामक विपक्ष व भावुक पीएम
    नोटबंदी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसद में न आने से बढ़ती विपक्ष की आक्रामकता सरकार को भारी पड़ रही है। सरकार चाहे जितना प्रचार करे कि विपक्ष अफवाह फैला रहा है, लेकिन यह सच्चाई अब दिन के उजाले की तरह से साफ है कि नियति के तमाम कष्ट सहने वाला यह देश भले मोदी और देशभक्ति के नाम पर कुछ तकलीफ सह ले, लेकिन धीरे-धीरे उसे यह अहसास होता जा रहा है कि यह कष्ट एक शासक की सनक से पैदा हुआ है। जनता के भीतर से यह आवाज भी उठ रही है कि जिसे उसने भारत जैसे विशाल देश का चक्रवर्ती सम्राट बनाया और जिसकी 125 करोड़...
    November 23, 04:36 AM
  • सुरक्षा के लिए अलार्म है यह भयावह रेल हादसा
    इंदौर-पटना एक्सप्रेस की दुर्घटना रेल सुरक्षा की उपेक्षा करने वालों के लिए कड़ी चेतावनी है और एक बार फिर यह रेखांकित करती है कि किसी भी सरकार और शासक के लिए उसके नागरिकों की जान-माल की सुरक्षा से बड़ी कोई जिम्मेदारी नहीं होती। अगर सरकार अपने नागरिकों की बलि चढ़ाकर तरक्की का दावा करती है तो वह खोखला दावा है। इस बारे में अगर सरकार को यह चेतावनी दी जा रही है कि उसे एक लाख करोड़ खर्च करके बुलेट ट्रेन चलाने की बजाय डेढ़ लाख करोड़ रुपए खर्च करके रेलवे को सुरक्षित बनाने के उन सारे उपायों को तत्काल लागू...
    November 22, 06:02 AM
  • लोभ और लाभ के बीच  पूरे देश का नज़ारा
    लाभ से हमारा जीवन संचालित होता है। हमारे सारे लक्ष्य और उद्देश्य लाभ से प्रेरित होते हैं, लेकिन जब लाभ की आकांक्षा बढ़ती है तो लोभ आ जाता है। राम ने शबरी से कहा था, जो भी हमें प्राप्त है, वह संतुष्टि दे रहा है, वही लाभ हमें प्राप्त होता है। रावण लोभ से भरा था। उसकी इच्छाएं ही खत्म नहीं होती थी। इसीलिए उसमें काम व क्रोध भी अधिक था। पिछले कुछ दिनों से देश में करेंसी नोट बदलने के लिए अफरा-तफरी मची है, उससे दो पक्ष सामने आए हैं- लोभ और लाभ। ऐसा क्या है जो 15 करोड़ कर सकता है, वह एक करोड़ नहीं कर सकता। ज्यादा...
    November 21, 06:43 AM