अन्य

  • जायरा का प्रकरण हमारे समाज के बारे में क्या बताता है?
    अंडर 30 - करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच सोलह साल की कश्मीरी लड़की माता-पिता को बड़ी मुश्किलों से राजी करने के बाद ऑडिशन देकर फिल्म दंगल में काम करने के लिए चुनी जाती है। फिर अभिनय के कारण युवाओं के लिए रोल मॉडल बनने लगती है। किंतु एक दिन अचानक फेसबुक पर मिली धमकियों से आहत होकर अपना माफीनामा सार्वजनिक कर यह कहने को मजबूर कर दी जाती है, मुझे कोई रोल मॉडल न माने! मैं किसी की रोल मॉडल नहीं हूं। मेरा कोई अनुसरण न करे। इतना कहते ही जायरा पर चौतरफा हमले शुरू हो जाते हैं। अब उसे दूसरे पक्ष के...
    04:46 AM
  • जब धरती के हर चक्कर के साथ सूर्योदय देखा
    जब मैं छोटा था तो जेट विमानों को उड़ते देखता था। पहला जेट जो इंडिया में आया वह वैम्पायर था। एजुकेशन के दौरान सीटी मारते हुए उड़ने वाला हवाई जहाज मैंने पहली बार देखा। बस वह हवाई जहाज जे़हन में बैठ गया। जब वक्त आया तो मैं एनडीए में शामिल होने खड़कवासला आया। वहां मेरी ट्रेनिंग हुई। फ्लाइंग ट्रेनिंग हुई, जिसमें मैं पास हो गया और इस तरह जेट उड़ाने का सपना सच हुआ। उस वक्त रूट कम थे। प्रतिस्पर्द्धा भी कम थी। अंत: कुछ सरलता से पायलट बन गया पर संघर्ष जीवनभर चलता है। जैसे नासिक में मिग उड़ाते वक्त वह...
    03:52 AM
  • बेनामी संपत्ति की पहचान का ढांचा तैयार, कार्रवाई कब?
    अंडर 30 -करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच नोटबंदी के बाद कालेधन के विरुद्ध मुहिम का अगला निशाना बेनामी सम्पतियां हो सकती है। प्रधानमंत्री मन की बात में इस पर खुलकर बोल चुके हैं। दरअसल, 1988 में ही बेनामी प्रॉपर्टी प्रोहिबिशन एक्ट बनाया गया था किंतु राजनीतिक इच्छाशक्ति की कमी के कारण तत्कालीन सरकार और बाद की सरकारों ने इस कानून को ठंडे बस्ते में डाल दिया था। वर्तमान सरकार ने इस कानून में संशोधन कर बेनामी प्रॉपर्टीज प्रोहिबिशन अमेंडमेंट एक्ट 2016 लाया। इसमें अधिकतम तीन साल की सजा और...
    January 21, 06:55 AM
  • नियंत्रण रेखा पर तनाव नहीं बढ़ा सकेगा पाक
    पिछले दिनों करीब सत्तर देशों की भागीदारी वाले भू-राजनीतिक सम्मेलन रायसीना डायलॉग का उद्घाटन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान से फिर कहा कि आतंकवाद का रास्ता छोड़ने पर ही उससे बातचीत संभव है। यह हमारी घोषित नीति रही है लेकिन, नए साल में भारत के प्रति पाकिस्तान की नीति काफी कुछ 2016 की घटनाओं पर आधारित होगी। बीता साल ऐसा रहा, जिसमें पाकिस्तान का मुगालता काफी-कुछ बढ़ा है। 2014 के आखिरी महीने में पेशावर आर्मी स्कूल पर आतंकी हमले के बाद 2015 में पाकिस्तानी फोकस आतंकवाद पर रहा। तब पाक को...
    January 21, 06:48 AM
  • यूजीसी छात्रों से सीधे बात करे, तभी सुधरेगा पढ़ाई का स्तर
    भारतीय जनसंचार संस्थान, नई दिल्ली के छात्र रोहिन कुमार का निष्कासन लगातार सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है। रोहिन ने सोशल मीडिया पर अपने एक प्रोफेसर की सेवाएं समाप्त करने का विरोध किया था। संस्थान का कहना है कि छात्र ने वहां की आचार संहिता का उल्लंघन किया है। पिछले दो वर्षों से यह देखने में आ रहा है कि कई केंद्रीय एवं राज्य स्तरीय विश्वविद्यालयों में प्रशासन और छात्रों के बीच विवाद बढ़ते ही जा रहे हैं। इसका मूल कारण यह है कि विश्वविद्यालय आंतरिक राजनीति से बाहर नहीं आ पा रहे हैं।...
    January 20, 05:56 AM
  • विज्ञान के कल्पना लोक में क्या हम बेहतर स्थिति में होंगे?
    इस माह हमने दुनिया में दो सबसे बड़ी टेक्नोलॉजी कॉन्फ्रेंस देखीं- लॉस वेगस कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स शो और डेट्रॉइट ऑटो शो। कई चीजें हैं, जिनके बारे में बात की जा सकती है, जिनमें कनेक्टेड डिवाइसेस और होम्स का बढ़ता विस्तार शामिल है और जिसने हमें स्मार्ट टूथब्रथ व स्मार्ट बेडशीट और न जाने क्या-क्या दिया है। किंतु ऑटोमोबाइल्स का क्रमिक विकास मुझे सबसे ज्यादा रोमांचित करता है। यदि आपने जेटसन्स जैसे साइंस फिक्शन वाले कार्टून देखे हों तो आपको भीड़भरे ट्रैफिक में मानव हस्तक्षेप के बिना खुद-ब-खुद...
    January 19, 04:30 AM
  • जानवरों को बचाने के लिए पाबंदी, पर उसी से उन्हें खतरा
    गत 8 जनवरी को तमिलनाडु भर से छात्र और युवा चेन्नई के मरिना पर इकट्ठे हुए और जल्लीकट्टू पर पाबंदी के विरोध में रैली निकाली। यह सिलसिला अब भी जारी है। 2011 से तमिलनाडु रेग्यूलेशन ऑफ जल्लीकट्टू एक्ट नंबर 27, 2009 से यह प्रथा संचालित होती रही है। 7 मई 2014 में सुप्रीम कोर्ट ने प्रदेश का कानून खारिज करते हुए जल्लीकट्टू पर पूरी तरह पाबंदी लगा दी। पाबंदी का कारण जानवरों के प्रति क्रूरता रोकना और बैलों को संरक्षण देना है लेकिन, इस फैसले के कारण कई बैल मालिक और किसान अपने बैल कत्लखानों को बेचने पर मजबूर हो जाएंगे।...
    January 18, 07:20 AM
  • भाषा दमन का नहीं, अवसरों का माध्यम
    सरकारी पत्र-व्यवहार और सोशल मीडिया में सरकार द्वारा हिंदी का इस्तेमाल करने के मुद्दे से हमारे देश के दो आवश्यक सच उजागर हुए हैं। एक तो यह कि कट्टर हिंदी समर्थक चाहे जो कहें, भारत में हमारे पास एक राष्ट्रीय भाषा नहीं है बल्कि कई भाषाएं हैं। दूसरा यह कि इन अतिउत्साहियों में ऐसी लड़ाई भड़काने की दुर्भाग्यपूर्ण प्रवृत्ति है, जो वे हार जाएंगे- वह भी ऐसे वक्त जब वे चुपचाप युद्ध जीत रहे थे। हिंदी हमारी लगभग 50 फीसदी आबादी की मातृभाषा (हालांकि, इस आंकड़ें से उन लोगों को अलग नहीं किया गया है जो गढ़वाली या...
    January 17, 07:19 AM
  • बुनियादी शिक्षा में ही बोना होगा इनोवेशन का बीज
    भारतीय विज्ञान कांग्रेस के 104वें उद्घाटन समारोह में माननीय प्रधानमंत्री ने 2030 तक देश को विज्ञान के क्षेत्र में विश्व के शीर्ष तीन राष्ट्रों में देखने की इच्छा व्यक्त की थी। इसके लिए उन्होंने भावी पीढ़ी में इनोवेशन एवं सृजनात्मक विकास को बढ़ावा देने पर बल दिया। प्रधानमंत्री के इस स्वप्न को पूर्ण करने में कई चुनौतियां है, जिन्हें स्वीकारना होगा। मुख्य चुनौती शिक्षा के क्षेत्र में है। इस क्षेत्र में सर्व शिक्षा अभियान, स्कूल चले हम, प्रौढ़ शिक्षा एवं मध्याह्न भोजन जैसे कार्यक्रम चलाए गए। इससे...
    January 17, 07:13 AM
  • प्रतिभाएं स्वदेश में ही रहेंगी और निर्यात होगा मुनाफे वाला
    अंडर 30- करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच अमेरिका अपने नए 45वें राष्ट्रपति का स्वागत करने को तैयार है और उसकी नई घरेलू नीतियां खराब दिखाई देती हैं किंतु उसका भारत को लाभ मिलेगा। तीन उदारणों से यह स्पष्ट है- आव्रजन नीति : नया प्रशासन अमेरिका में वैध व अवैध दोनों तरह का आव्रजन घटाना चाहता है। हर साल करीब 50 हजार भारतीयों को एच-1बी/ वर्क वीज़ा अमेरिका में काम करने के लिए मिलता है। ज्यादातर आईटी पेशेवरों को। भारतीयों को अमेरिका में काम मिल जाता है, क्योंकि वे कुशाग्र बुद्धि के होते हैं। अब...
    January 16, 07:23 AM
  • रोज ना सुन रहे हैं तो आप कुछ अच्छा करेंगे
    जब मैं बच्चा था तो घंटों पिताजी को ठोका-पीटी करते देखता रहता था। वे इंजीनियर थे और वीकेंड पर हम चीजों के हिस्से-पुर्जे अलग करके उन्हें फिर जोड़ने का मजा लेत थेे। यह हमारा अलग तरह का मनोरंजन था। उस समय यह बात समझ में नहीं आई लेकिन, इससे मैंने ऐसी बहुत-सी चीजें सीखीं, जो जि़दगी में कुछ बनने के लिए जरूरी होती हैं। ये बातें थीं- लगातार प्रयास करते रहना, समस्या के रचनात्मक समाधान खोजना और प्रयोग करने की प्रवृत्ति। इसलिए पुराने को छोड़कर नए को अपनाने की मकर संक्रांति की भावना में मैं एक ऐसे प्रश्न का...
    January 16, 07:20 AM
  • सैन्य बलों की खामियां उजागर होना उन्हें बेहतर बनाएगा
    अंडर 30- करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच बीएसएफ़ के जवान द्वारा खराब खाने की शिकायत करने वाले वीडियो के बाद अब सेना के जवान ने प्रताड़ित किए जाने की शिकायत सोशल मीडिया में की है। जब सैनिकों का उदाहरण देकर पूरे देश को करीब दो महीने कतार में खड़ा किया, वहां खुद सैनिकों के साथ ऐसा व्यवहार दुर्भाग्यपूर्ण है। हमेशा देश को खुद से पहले रखने वाले सैनिकों को कभी वन रैंक वन पेंशन को लेकर जान गंवानी पड़ी है तो कभी सर्जिकल स्ट्राइक की विश्वसनीयता को लेकर प्रश्न पूछे गए, लेकिन यहां मामला ज़रा पेचीदा...
    January 14, 04:45 AM
  • कांग्रेस को मजबूत बनाने का मौका गंवा रहे हैं राहुल
    अंडर 30- करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच रोम जब जल रहा था तो बादशाह नीरो बांसुरी बजा रहा था। आधे से ज्यादा रोम जलकर खाक हो गया, लोग बेघर हो गए। ऐतिहासिक तथ्यों की गहराई में न जाते हुए पहली सदी के उत्तरार्द्ध में घटी इस घटना को प्रतीकात्मक बोध कथा के रूप में लिया जाना चाहिए। घटना की विवेचना करने पर दो बातें सामने आती हैं। एक, नीरो अत्यंत गैर-जिम्मेदार और लापरवाह शासक था। दो, वह आपात स्थितियों को संभालने के काबिल नहीं था। ऐसी ही कुछ दशा आज कांग्रेस की है। जनवरी का पहला सप्ताह सभी दलों...
    January 13, 05:04 AM
  • बजट में छोटे उद्योगों पर ध्यान देकर जॉब बढ़ाएं
    देश में रोजगार बढ़ाने के लिए मैन्यूफैक्चरिंग और खासतौर पर अतिलघु, लघु और मध्यम उद्योग (एमएसएमई) क्षेत्र महत्वपूर्ण है। इस दृष्टि से आगामी बजट में इस क्षेत्र के अनुकूल कदम उठाना उिचत होगा। जीडीपी में योगदान, औद्योगिक उत्पादन और नौकरियां निर्मित करने की दृष्टि से इस क्षेत्र ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। हमारे जीडीपी में इसका योगदान मुश्किल से 38 फीसदी है, जबकि जर्मनी में यह 52 फीसदी, चीन में 58 फीसदी और दक्षिण अफ्रीका में 42 फीसदी है। जाहिर है भारत जैसी विशाल अर्थव्यवस्था में जीडीपी में योगदान व...
    January 13, 04:39 AM
  • सामाजिक जागरूकता से ही रुकेंगी बेंगलुरू जैसी घटनाएं
    अंडर 30 - करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच बेंगलुरू हमारे देश के उन सर्वश्रेष्ठ महानगरों में से है जहां देश-विदेश से लोग कामयाबी की नई संभावनाओं की तलाश में हर रोज हजारों की संख्या में पहुंचते हैं। जाहिर है जब दुनिया भर से लोग यहां आते हैं तो वे अपने साथ लाई विचारधारा और संस्कृति को यहां का हिस्सा बना देते हैं। चूंकि विकसित देशों में न तो युवतियों को छोटे कपड़े पहनने से रोका जाता है, न ही उन्हें रात में ऑफिस जाने के लिए बीसियों बार सोचना पड़ता है। वहां छींटाकशी का दोषी पाए जाने पर भी...
    January 12, 04:52 AM
  • इस्लामी शरीर, वैज्ञानिक मन से जाना विवेकानंद को
    मेरे पिता जाफर हुसैन कॉपर प्रोजेक्ट में नौकरी करते थे। उनके कारण परिवार राजस्थान के खेतड़ी में रहने आया। तब मैं दस-ग्यारह साल का था। आप जानते हैं कि खेतड़ी के महाराजा अजीत सिंह और स्वामी विवेकानंद के बीच कितना स्नेह था। महाराजा स्वामीजी का अत्यधिक आदर करते थे तथा उनके कार्यों में मदद किया करते थे। स्वामीजी भी उन्हें बहुत स्नेह देते थे। वहां के जनमानस में विवेकानंद की स्मृति बसी है। हमारा परिवार जब वहां रहने आया तो इन जनश्रुतियों का मुझ पर बड़ा प्रभाव पड़ा। स्वामी विवेकानंद खेतड़ी में तीन बार...
    January 12, 04:02 AM
  • लोकतंत्र को धर्मतंत्र न बनने देना हमारा कर्तव्य
    सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला देते हुए इस तथ्य की पुष्टि कर दी है कि लोकतंत्र में धर्मतंत्र जैसा कुछ नहीं हो सकता। मतलब कोई भी व्यक्ति या पार्टी जनता से जाति, धर्म, समुदाय या भाषा के आधार पर वोट नहीं मांग सकते। ऐसा होने पर निर्वाचन आयोग संबंधित प्रत्याशी का चुनाव रद्द कर सकता है। लोकतंत्र में जनता सर्वोपरि है, इसके बावजूद कुछ चुनिंदा जाति या समुदाय को बहकाकर वोट हासिल करना या किसी धर्म गुरु का समर्थन पाकर सत्ता में आना लोकतंत्र में भी किसी धर्मतंत्र से कम प्रतीत नहीं हाेता है। ऐसे में देश...
    January 11, 05:05 AM
  • अमेरिका भुगत रहा है बंदूक को आज़ादी से जोड़ने का नतीजा
    अंडर 30-करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच फ्लोरिडा में विमानतल पर एक बंदूधारी के हमले में पांच लोगों की मौत वहां उपस्थित लोगों और उनके परिजनों के लिए भयावह है, लेकिन अमेरिकी जनता के लिए मास शूटिंग अब रोज का किस्सा बन चुकी है। बंदूकधारियों ने पिछले वर्षों में बेतरतीब गोलियां बरसाई हैं, चाहें वो कोलारेडो में बैटमेन फिल्म देख रहे दर्शक हों या फिर सैंडी हुक्स एलिमेट्री स्कूल में पढ़ रहे बच्चे हों। हर बार अमेरिकी राजनीति में बहस छिड़ जाती है और बड़ी जोरदार दलीलें दी जाती हैं कि इन घटनाओं को...
    January 10, 05:16 AM
  • तथ्यों की गहराई में जाकर सरकारी नीतियों पर राय बनाएं
    अंडर 30 -करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच एक जनवरी को पेट्रोल-डीज़ल की कीमतें बढ़ाई गईं। दिल्ली में पेट्रोल 70.60 रुपए प्रति लीटर तो डीज़ल 57.82 प्रति लीटर हो गया। जनता में इससे गुस्सा है। पेट्रोल कीमतों को यूपीए के शासन में 2013 और डीज़ल को 2014 में एनडीए शासन में बाजार के हवाले किया गया। इसके बाद से अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें घरेलू बाजार में इन दोनों पेट्रो उत्पादों की कीमतें तय करने लगीं। यह साहसी फैसला था, क्योंकि दोनों पदार्थों पर सब्सिडी की वजह से कृत्रिम मांग पैदा होती थी...
    January 9, 05:46 AM
  • जब चंबल नदी की मूर्ति पर नेहरू मुग्ध हुए
    मैं 1947 से मूर्तियां बना रहा हूं। मेरे बेटे अनिल का 1957 में जन्म हुआ और वह भी मेरे साथ स्कूल और कॉलेज के जमाने से ही मूर्तियां बना रहा है। वह एक क्वालिफाइड आर्किटेक्ट है। वह 12 साल अमेरिका में रहा है। जेजे स्कूल ऑफ आर्ट्स में जब मैंने एडमिशन लिया, तो टीचर ने पहले ही साल में देखा कि मैं बहुत अच्छा काम कर रहा हूं, तो उन्होंने सीधे मुझे सेकंड ईयर में भेज दिया। इस तरह हर साल फर्स्ट क्लास फर्स्ट करते हुए 1950 में गोल्ड मेडल मिला। मूर्ति बनाने की शुरुआत मिट्टी से होती है। मिट्टी को रोकने के लिए उसमें बीच में...
    January 9, 05:43 AM