अन्य

  • अब अगला कदम बलूचिस्तान की आज़ादी हो
    कुछ माह पूर्व ही इस लेखक ने संभावना जताई थी कि पश्चिम एशिया में नए इजरायल का जन्म हो सकता है। उस लेख की स्याही सूखी भी नहीं कि यह दायित्व भारत के कंधों पर आ पड़ा है। भारतीय सेना ने नियंत्रण-रेखा पर सर्जिकल आॅपरेशन करके सात आतंकी ठिकाने तबाह कर दिए हैं। अब परिस्थितियां कैसा मोड़ लेंगी इस पर अभी कुछ कहना जल्दबाजी होगी। किंतु यह स्पष्ट है कि पाकिस्तान की मस्ती को समाप्त करने के लिए भारत को ही पहल करनी पड़ रही है। पश्चमी भारत और उस के निकट बसे क्षेत्रों में पाकिस्तान जैसी आतंकी गतिविधियां चला रहा है,...
    04:01 AM
  • पड़ोसी देश का दंश न झेलें पर प्रतिक्रिया में अति भी न करें
    अंडर 30करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच हमारे समाज और हमारी पीढ़ी में आज कई मुद्दे हावी हैं। पिछले दिनों हमने देखा कि मुंबई और हैदराबाद में हाई अलर्ट घोषित कर दिया है। दोनों में बहुत अलग कारणों से अलर्ट जारी किया गया था, लेकिन ये हमारे वक्त के दो सबसे बड़े खतरों के बारे में था- क्रमश: आतंकवाद एवं पर्यावरण विनाश। उड़ी में हमले को अभी हफ्ताभर भी नहीं हुआ था। ध्यान दें कि यह वही दिन था जब महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने पाकिस्तानी कलाकारों से कहा कि वे देश छोड़ दें या फिर नतीजे भुगतने के लिए...
    03:06 AM
  • कल्पेश याग्निक का कॉलम: आतंक के विरुद्ध भारतीय ताकत की गर्वभरी झलक
    देश गर्व से भर उठा है। पहली बार आतंक के विरुद्ध भारतीय युद्ध की झलक, शक्तिशाली रूप से सामने आई है। और इसकी सबसे बड़ी विशेषता यह है कि खुलकर इसे घोषित किया गया है। इससे पहले नियंत्रण रेखा पर की जाने वाली सैन्य कार्रवाई कभी भी स्वीकार नहीं की जाती थी। इसे सामने लाने के कारण ही आज देश के नौजवानों की भुजाएं फड़कने लगी हैं। जिन्हें यह शिकायत थी कि हमारे सैनिक हमेशा शहीद क्यों होते रहेंगे- उनके पास आज सैनिकों के साहस की प्रशंसा के शब्द कम पड़ रहे हैं। और आतंक की फैक्टरी बने पाकिस्तान की हालत तो म्यांमार से...
    02:49 AM
  • टेक्नोलॉजी की महाशक्ति रहे जापान को क्या हो गया है?
    अंडर 30करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच जापान की नकारात्मक ब्याज दरों पर भरोसा करना किसी के लिए भी कठिन है। उसके केंद्रीय बैंक द्वारा हाल में की गई नीतिगत समीक्षा और नीतिगत ठहराव व आर्थिक मंदी आज की दुनिया में उत्पन्न गैर-परंपरागत समस्याओं पर रोशनी डालते हैं। किसी वक्त टेक्नोलॉजी की महाशक्ति रहा यह राष्ट्र लंबे समय से आर्थिक गिरावट का सामना कर रहा है। इसने सारे प्रयास कर लिए, लेकिन कोई उल्लेखनीय परिणाम नहीं निकला। 2012 में आम चुनाव के तत्काल बाद सरकारी खर्च बढ़ाने, ब्याज दरें घटाने...
    September 29, 04:14 AM
  • क्या महिलाओं को दिया जाने वाला सम्मान दिखावा है?
    अंडर 30करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच हाल ही में आत्म-रक्षा में महिला द्वारा पुरुष पर हमला करने की थीम पर फिल्म प्रदर्शित हुई। इसमें महिलाअों के चरित्र को लेकर पितृ सत्तात्मक व्यवस्था में तय मानकों पर सवाल उठाए गए हैं। अनिरुद्ध राय चौधरी और शुजीत सरकार की यह फिल्म पुरुषों के साथ अंतरंग रिश्तों में महिला की सहमति तथा महिलाओं के खिलाफ होने वाले अत्याचार जैसे मुद्दों पर भी प्रकाश डालती है। किंतु क्या यह हमारे विचारों को आमूल बदल पाएगी? महिलाओं के खिलाफ हिंसा की हाल की घटनाओं से...
    September 28, 05:08 AM
  • सिंधु जल संधि: पूरा इस्तेमाल ही सही सबक
    उड़ी हमले की पृष्ठभूमि में भारतीय टिप्पणीकारों ने गुस्से में पाकिस्तान के खिलाफ पाक अधिकृत कश्मीर, यहां तक कि लाहौर के नज़दीक मुरीदके में आतंकी ठिकानों पर अचूक हमला करने से लेकर सिंधु नदी जल समझौता रद्द करने तक के नाटकीय कदम उठाने के सुझाव दिए हैं ताकि पाकिस्तानी अर्थव्यवस्था को घुटनों के बल लाया जा सके। उनके गुस्से को समझा जा सकता है। किंतु हजम न हो सकने वाला सच यह है : भारत के पास कई विकल्प हैं, राजनयिक, आर्थिक और सैन्य, लेकिन इनमें से ज्यादातर व्यावहारिक विकल्प पहले आजमाए जा चुके हैं। खासतौर...
    September 28, 05:00 AM
  • अंडर -30: अब हम मान्यता पाने नहीं, प्रतिभा दिखाने विदेश जाते हैं
    कला की सीमा नहीं होती। गीत के सुर सभी जगह समान ही होते हैं। सुबह-शाम, भारत में, विदेश में हर जगह सुनने में मधुर ही लगते हैं। सारे क्षेत्रों में मानव ने अपनी सुविधा के लिए सीमाएं तय की हैं। कला के लिए जात-पात, भाषा, सौंदर्य, स्थान, देश, धर्म ऐसे कोई बंधन नहीं होते। कला सिर्फ मनोरंजन नहीं होती बल्कि इसे आजीविका का साधन भी बनाया जा सकता है। अनेक अभिनेता-अभिनेत्रियों ने देश के बाहर नाम कमाया है। हॉलीवुड में भी अपनी प्रतिभा दिखाई है। मौजूदा दौर के युवाओं में जीओटी, प्लैश, फ्रेंड्स जैसे हॉलीवुड सीरियलों...
    September 27, 04:08 AM
  • आतंक से संघर्ष में अमन चाहने वाले नागरिक आहत न हों
    अंडर 30करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच उम्मीद है कि संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक को भारत-पाक अहमियत देंगे। नवाज़ शरीफ ने कहा है, पाकिस्तान बातचीत के मार्फत अमन चाहता है। लेकिन बातचीत लंबे अरसे के लिए पीछे चली गई है। रिश्तों में झुलसाने वाली गरमी छाई है। वानी का मारा जाना, कश्मीर में उपद्रव, सशस्त्र बलों की जवाबी कार्रवाई, मोदी का बलूचिस्तान का मास्टर स्ट्रोक- यह सब एक्शन से भरा है। भारतीय होने के नाते मैं महसूस करता हूं कि भारत शायद गमिर्यों तक स्थिति को संभाल सकता था। सेना ने...
    September 26, 05:01 AM
  • सपने देखना सिखाने वाले फादर गिल्सन
    मुझे आज भी याद है कि जब दसवीं कक्षा के ह्यूमेनिटीज सेक्शन में नई क्लास में शामिल हुआ तो कितना घबराया हुआ था। नौवीं कक्षा पास करने के बाद मुझे साइंस पढ़ने के लिए अयोग्य घोषित कर दिया गया था। इसके पहले मैं 8वीं कक्षा में फेल हो चुका था और उन दिनों मुझे सारे लोग स्कूल के खराब लड़कों में शूमार करते थे। ऐसा लड़का जो हमेशा किसी न किसी से लड़ता रहता है और पढ़ाई में जिसकी बिल्कुल रुचि नहीं है। एेसे में नए विषय के साथ नई कक्षा। मेरी इस नई क्लास में सबकुछ बड़ा अजीब-सा था: कक्षा का कमरा, वहां के बच्चे और यहां तक की...
    September 26, 04:55 AM
  • मेक इन इंडिया तो ठीक, यूं भी बदली जा सकती है तस्वीर
    अंडर 30करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच आज केंद्र सरकार के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम मेक इन इंडिया की बहुत चर्चा है। क्यों न विदेशियों को हमारे यहां उत्पादन करने के लिए बुलाने पर जोर देने के साथ हम अपना उत्पादन बढ़ाएं। याद करें पहले गांवों को नमक के अलावा कुछ भी खरीदने की जरूरत नहीं पड़ती थी, सब कुछ खुद का बनाया हुआ होता था। भारतीय गांव आत्म-निर्भर थे। हां, जरूरतें भी सीमित थीं। अपनी निजी जिंदगी में झांकने पर पता चलता है कि ज्यादातर चीजें जरूरत की नहीं सिर्फ शौक के लिए हैं। भारत की...
    September 24, 04:17 AM
  • असली बिग बॉस तो उत्तर कोरिया में बैठा देख रहा है
    अंडर 30करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच क्या आपने कभी सोचा है कि भारतीय रियलिटी शो बिग बॉस का विचार कैसे आया? इसका उत्तर है बिग ब्रदर, से, जो ऐसी अवधारणा जिसे सबसे पहले जॉर्ज ऑरवेल ने अपनी ख्यात किताब 1984 में गढ़ा था। इसमें सरकार का अपने नागरिकों और उनकी जिंदगी पर खौफनाक नियंत्रण है। उसकी निगाह हर चीज पर है और वह सबकुछ सुन रही होती है। दुनियाभर के प्रतिरोध और विपरीत परिस्थितियों के बावजूद उत्तर कोरिया ऑरवेल की कल्पना को हकीकत में बदलने पर तुला हुआ है। सरकार विरोधी छोटी-सी हरकत किसी को...
    September 23, 03:26 AM
  • बदलाव के इस दौर से नौकरशाही अछूती क्यों?
    न्यायपालिका, कार्यपालिका एवं आर्थिक व्यवस्था आदि क्षेत्रों में तमाम बदलाव आए हैं, लेकिन देश की नौकरशाही में स्थिति लगभग वैसी ही है। उसमें कोई बदलाव दिखाई नहीं देता। इसका मुख्य कारण यह है कि जिस एक विशेष सरकारी सेवा का आधिपत्य है वह किसी भी हालत में मौजूदा स्वरूप बदलने नहीं देना चाहती है। सातवें वेतन आयोग ने अपने सिफारिश में बदलाव के सुझाव दिए हैं, लेकिन उसकी इन सिफारिशों पर कोई ध्यान नहीं दिया गया। वे बेअसर रहीं। वेतन आयोग ने वेतन पदोन्नति और डेप्यूटेशन में सभी सेवाओं को बराबर अवसर देने की...
    September 23, 03:19 AM
  • सैनिकों को सुरक्षा कवच दें, लड़ाई अपने आप जीत जाएंगे
    अंडर - 30 :करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच उड़ी में आतंकी हमलों में 18 सैनिकों के शहीद होने से पूरा राष्ट्र शोक में डूब गया है। इस पाकिस्तानी करतूत पर अखबार, टीवी और सोशल मीडिया में बहुत रोष जताया जा रहा है। घर-परिवार छोड़कर हमारी रक्षा में लगे सैनिकों के शहीद होने से मन बेचैन हो गया। हमारी सेना की जवाबी कार्रवाई में आठ-दस घुसपैठिए आतंकी तो मारे गए पर एक जवान फिर शहीद हो गया। बस यही ख्याल आता रहा कि क्या निंदा, राजनयिक कदम और बैठकें रद्द करने से पाकिस्तान सुधर जाएगा? इस सवाल का जवाब खोजने...
    September 22, 03:49 AM
  • रेल बजट को लेकर इन बातों पर गौर करेंं
    पिछले हफ्ते के लेख में हमने देखा था कि रेल विभाग कितनी अच्छी तरह काम कर रहा है, ऐसे में रेल बजट को अलग पेश करने की बजाय केंद्रीय बजट में मिला देने का कोई औचित्य नहीं है। बुधवार को तो केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भी इसे मंजूरी दे दी है। किंतु दुनिया में ऐसा पहली बार नहीं हुआ है। बाद में ऐसे कदम वापस लेने पड़े हैं। जहां तक विकसित देशों जैसे फ्रांस, जर्मनी और डेनमार्क की बात है तो वहां सरकार रेलवे को अरबों डॉलर की सब्सिडी देती हैं अौर उसके बाद भी रेलवे घाटे में रहती है। ब्रिटेन में यही हुआ और मार्गरेट थैचर के...
    September 22, 03:43 AM
  • हताशा में आज़ादी, भाईचारे के सिद्धांत छोड़ता फ्रांस
    अंडर - 30 :करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच फ्रांस में आतंकी हमलों के बाद से वहां मुस्लिमों के साथ ज्यादतियों पर अंतरराष्ट्रीय समुदाय को गौर करना चाहिए। समानता, स्वतंत्रता, भाईचारे का नारा देने वाला देश आतंकी गतिविधियों से इतना हताश नज़र आता है कि उसने अपने देश की आबादी के एक प्रमुख हिस्से की स्वतंत्रता की फिक्र करना छोड़ दिया है तथा फ्रांस में मुस्लिम और ईसाई समाज के बीच खाई को और बड़ा कर दिया है। हाल ही में फ्रांस के तटवर्तीय इलाकों में बुरकिनी पर प्रतिबंध लगाना इसी का उदाहरण है।...
    September 21, 03:21 AM
  • यूएन को दबंग व निष्पक्ष महासचिव चाहिए
    हम ऐसे चुनाव की दहलीज पर पहुंच चुके हैं, जो आने वाले वर्षों में भू-राजनीति की दिशा तय करेंगे। मैं अमेरिकी चुनाव की बात नहीं कर रहा हूं, जिसका बेशक उतना ही महत्व है। मैं संयुक्त राष्ट्र (यूएन) के अगले महासचिव के अधिक शालीन चुनाव की बात कर रहा हूं। संयुक्त राष्ट्र का यह चुनाव आमतौर पर लगभग गोपनीयता जैसी खामोशी से होता है। महासचिव पद के भौगोलिक क्रम को लेकर एक अनौपचारिक-सी सहमति रही हैै। 1971 के बाद से एक लैटिन अमेरिकी, अफ्रीकी (जिसकी जगह फिर अफ्रीकी ने ही ली थी) और एक एशियाई ने संयुक्त राष्ट्र का शीर्ष...
    September 21, 03:15 AM
  • आर्थिक प्रहार करने की क्षमता निर्मित करनी होगी
    अंडर - 30 :करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच उड़ी में सेना पर हमले से देशभर में मुख्यत: दो प्रकार की प्रतिक्रिया है। एक में पाकिस्तान को वैश्विक स्तर पर अलग-थलग करने पर जोर है ताकि दुनिया (खासतौर पर अमेरिका) इसके साथ बदमाश राष्ट्र जैसा व्यवहार करे। दूसरी प्रतिक्रिया में ईंट का जवाब पत्थर से देने की बात की गई है। पाकिस्तान को अलग-थलग करना खतरनाक हो सकता है, क्योंकि पाक सरकार कमजोर होगी और अातंकी गुटों को अधिक ताकत व समर्थन मिलेगा। हमारे लिए पड़ोस में सीरिया या इराक (आईएसआईएस के साथ) पैदा...
    September 20, 02:17 AM
  • हमारे सामने हाइब्रिड वॉर की चुनौती
    दक्षिण कश्मीर में आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के दो माह बाद सेना फिर वहां पूरी ताकत के साथ सड़कों पर जारी उपद्रव के केंद्र में लौट आई। उसे सामान्य हालात बहाल करने को कहा गया है। समझने की बात यह है कि सेना कानून-व्यवस्था बहाल नहीं कर रही है, बल्कि उसे एक तरह से पूरी सार्वजनिक व्यवस्था ही बहाल करनी है, जो पूरी तरह पंगु हो गई है और पुलिस बल इससे निपटने में नाकाम रहा है। सेना को आबादी के अदृश्य नेतृत्व वाले हठी तबके से निपटना है, जिसे नियंत्रण-रेखा के पार से वित्तीय, वैचारिक, मनोवैज्ञानिक व योजना के...
    September 20, 02:14 AM
  • हमें असली सुरक्षा तो साइबर वार से निपटने की तैयारी देगी
    अंडर - 30 :करंट अफेयर्स पर 30 से कम उम्र के युवाओं की सोच आज जब हर हाथ में सेलफोन और कंप्यूटर है, जब हम डिजिटल इंडिया को साकार करने में लगे हैं, देश में साइबर अपराध एक बहुत बड़ी समस्या बनकर उभरा है। साइबर ज्ञान अब विषय के रूप में किसी स्कूल या यूनिवर्सिटी का मोहताज़ नहीं रह गया है पर साइबर अपराध की समझ बढ़ाने के लिए इन्हीं स्कूलों और कॉलेजों को आगे आना पड़ेगा, जिससे युवा शक्ति को साइबर सुरक्षा के लिए मूलभूत जानकारी मिल सके। साइबर कानून को प्रभावशली तरीके से लागू करने के लिए हर व्यक्ति को इसे समझना होगा...
    September 19, 02:05 AM
  • पेट्रोल खपत से चार गुना बायोफ्यूल की क्षमता
    उत्तराखंड के काशीपुर में बायोइथेनॉल उत्पादन संयंत्र शुरू हो गया है। यह भारत का पहला ऐसा संयंत्र है, जिसकी गिनती दूसरी पीढ़ी के संयंत्रों में होती है। सबसे बड़ी बात तो यह है कि यह स्वदेश में विकसित टेक्नोलॉजी से बना है, जिसे डीबीटी-आईसीटी सेंटर फॉर बायोसाइंसेंस ने विकसित किया है और जो दुनिया की ऐसी किसी भी टेक्नोलॉजी से स्पर्द्धा करने में सक्षम है। जैविक ऊर्जा को समर्पित इस सेंटर की स्थापना केंद्रीय जैव-प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने 2008 में मुंबई के इंस्टीट्यूट ऑफ केमिकल टेक्नोलॉजी में की थी।...
    September 19, 02:03 AM