Home » Union Territory » New Delhi » News » Damini Case Justice, Saket Court, Acussed Hanging Punishment, Delhi Police, Medanta Hospital, New Delhi

दामिनी के दरिंदें कैसे पहुंचे फांसी तक, पढ़िए फैसले के पीछे की पूरी कहानी

इंद्र वशिष्ठ\संतोष ठाकुर | Sep 14, 2013, 03:33AM IST
दामिनी के दरिंदें कैसे पहुंचे फांसी तक, पढ़िए फैसले के पीछे की पूरी कहानी

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की दक्षिण-पूर्वी रेंज के संयुक्त पुलिस आयुक्त विवेक गोगिया का कहना है कि गैंगरेप मामले में साइंटिफिक जांच को उच्चतम स्तर पर ले जाया गया। छात्रा के नाखूनों से सैंपल लिए गए। छात्रा के शरीर पर मिले दांतों के निशानों को साबित किया गया। दांतों की फॉरेंसिक एविडेंस को पहली बार इस मामले में साक्ष्य के रूप में लिया गया। विवेक गोगिया के नेतृत्व में दक्षिण जिला पुलिस द्वारा गैंगरेप मामले की तफ्तीश की गई।


जजमेंट पुलिस के लिए एक सबक


विवेक गोगिया का कहना है कि गैंगरेप के जजमेंट को पुलिस के लिए एक सबक के रूप में मानते है। इस मामले की तफ्तीश में जो तरीके अपनाए गए, उनको पुलिस की ट्रेनिंग में शामिल करेंगे, ताकि मामलों की तफ्तीश में इन कदमों को शामिल किया जा सके।


साक्ष्यों को लेकर तनाव में थी पुलिस


गोगिया ने बताया कि शुरू में  इस तनाव में थे कि क्या पर्याप्त साक्ष्य जुटा पाएंगे। वारदात में इस्तेमाल बस में लगी अल्युमिनियम की पत्ती के नीचे से भी साक्ष्य जुटाए गए। वारदात के बाद अपराधियों ने बस को धो दिया था। महज 17 दिन में पूरी चार्जशीट बना कर कोर्ट में पेश कर दी थी। पुलिस की चार्जशीट की सभी धाराओं को मानते हुए कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई। पुलिस द्वारा एकत्र साक्ष्यों को विशेष सरकारी वकील और उनके साथियों ने बहुत ही अच्छे तरीके से कोर्ट में पेश किया।


 


ये भी पढ़िए...


देखिए कैसे हुई मोदी की ताजपोशी, हाथ जोड़कर किया पार्टी को जिताने का वादा


मोदी के पीएम उम्मीदवार बनने पर जश्न में डूबी दिल्ली, मनाई गई दीवाली


छोटे मगर असरदार भाषण में बहुत कुछ कह गए मोदी, जताया सभी का आभार


सजा-ए-मौत के बाद दामिनी की मां बोली, गले में हूक अटकी थी अब सांस आई


जन्मदिन से ठीक चार दिन पहले मोदी को मिला तोहफा, आडवाणी ने लगाया गले


मोदी और आडवाणी की RARE PICS, कभी इतने करीब...कि अब दूर हो गए


कभी आडवाणी के सबसे करीबी थे मोदी...अब इतना बड़ा हो गया कद


अहम खबरें...


दामिनी के दरिंदें कैसे पहुंचे फांसी तक, पढ़िए फैसले के पीछे की पूरी कहानी


सजा-ए-मौत के बाद दामिनी की मां बोली, गले में हूक अटकी थी अब सांस आई


कोर्ट के फैसले के बाद बोला दामिनी का दोस्त, 'तुम्हारी आखिरी इच्छा पूरी हुई'


दामिनी के पिता ने कहा नौ माह बाद मिला सुकून फिर भी एक टीस बाकी!


छात्रसंघ चुनाव: ढपली, ढोलक और तालियों की थाप पर लाल सलाम के लगे नारे


PIX: चुनाव के बीच इन्होंने जमाया रंग, देखिए दिनभर कहां कैसा रहा माहौल


डीएमआरसी ने दिया यात्रियों को तोहफा, सफर के साथ मिलेगी ये खास सुविधा

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
2 + 1

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

बिज़नेस

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment