Home » Bihar » News » Bihar Department Of Tourism's Website Hacked

BIHAR LIVE: सरकार के टूरिज्‍म डिपार्टमेंट की वेबसाइट को हैकरों ने हैक कर लिया है ।

DainikBhaskar.com | Feb 23, 2013, 13:05PM IST

बिहार पर्यटन विभाग की आधिकारिक साइट आचनक हैक होने से शीर्ष प्रशासनिक महकमें में अफरा-तफरी मच गयी। साइट पर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लिखे हुए हैं।


हालांकि इस बात की जानकारी नहीं मिल पायी है कि यह कारस्तानी किसकी है। पुलिस विभाग ने साइबर सेल के आईजी प्रवीण वशिष्ठ को मामले की छानबीन के निर्देश दिये गये हैं। हैदराबाद बम विस्फोट के तीसरे दिन सरकारी साइट हैक होने को आतंकी कार्रवाई से जोड़ कर देखा जा रहा है। इस बीच कुछ घंटों के बाद साइट को हैकिंग से मुक्त करा लिया गया।



इसके पहले आज उस समय खलबली मच गयी जब पर्यटन विभाग का साइट खोला गया तो उस पर अंग्रेजी में धमकी लिखी हुई थी। एक तस्वीर चस्पां है जिसके हाथों में राष्ट्रीय झंडा लिपटा हुआ है और एक आदमी के चेहरे पर मास्क डाला हुआ है और वह मुस्कुरा रहा है। साइट पर अंग्रेजी में कोडिंग की गयी लगी है। उसमें इस्तेमाल पीके का अर्थ पाकिस्तान माना जा रहा है। जानकारी के अनुसार मास्क लगे जिस चेहरे का इस्तेमाल किया गया है वह चर्चित अंग्रेजी फिल्म वी फॉर वेनडेटा से लिया गया है। फिल्म का किरदार साइबर के जरिए अपनी मर्जी की करता है।



हैकर्स ने भारत सरकार को चुनौती भी दी है कि वह ऐसी बचकाननी हरकत न करे। लेकि न यह साफ नहीं है कि यह धमकी किस संदर्भ में दी गयी है।इस बीच राज्य पुलिय हेड क्वार्टर ने मामले की छानबीन का जिम्मा साइबर क्राइम के आईजी प्रवीण वशिष्ठ को दी गयी है।


इस बीच राज्य के पर्यटन मंत्री सुनील कुमार पिंटू ने कहा कि बिहार में पर्यटकों की बढ़ती तादाद को देखते हुए यह हरकत की गयी है। उन्होंने कहा कि मामले की छानबीन की जा रही है और यह पता किया जा रहा है कि इसके पीछे किसका हाथ है। मालूम हो कि राज्य में विदेशी पर्यटकों की तादाद बढ़ी है और वे बिहार की ओर आकर्षित हो रहे हैं। भारत आने वाले छह में से एक विदेशी पर्यटक बिहार का रुख कर रहे हैं।

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
8 + 9

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment