Home » Bihar » Patna » RJD Supremo Lalu Son Tej Pratap Join Politics

लालू-राबड़ी पुत्र ने बढ़ाया राजनीति में ‘तेज’ कदम, देखें तस्वीरें

Bhaskar News | Sep 23, 2012, 09:58AM IST
लालू-राबड़ी पुत्र ने बढ़ाया राजनीति में ‘तेज’ कदम, देखें तस्वीरें

पटना। पहले लालू प्रसाद। फिर राबड़ी देवी। उसके बाद तेजस्वी यादव। अब तेज प्रताप और मीसा भारती। जी हां, लालू प्रसाद के एक और बेटे और बेटी मीसा भारती की पॉलिटिक्स में एंट्री होने जा रही है।

 

राज्य में लालू-राबड़ी शासन के दौरान साधु यादव और सुभाष यादव पावर सेंटर थे। सत्ता हाथ से जाने के बाद लालू प्रसाद के दोनों साले राजनीतिक क्षीतिज से तिरोहित हो गये। अब लालू-राबड़ी अपने कुनबे को राजनीति में स्थापित करने की तैयारी में हैं।

 

परिवारवाद का विरोध करने वाले लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप अब राजद की राजनीति के नये चेहरे होंगे। राजनीति में उनकी बढ़ती दिलचस्पी से यह साफ हो गया है कि लालू-राबड़ी खानदान में पावर का एक और सेंटर स्थापित होने जा रहा है। स्थानीय बीएन कॉलेज से ग्रेजुएशन कर रहे तेज प्रताप अब तक पार्टी-पॉलिटिक्स से दूर ही रहे हैं। लेकिन हाल में कैंपस से जुड़े मुद्दों पर उनकी रुचि व सक्रियता लगातार बढ़ रही है। पटना विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा देने को लेकर वे सक्रिय हुए हैं। लालू प्रसाद का राजनीतिक सफर भी पटना विश्वविद्यालय की छात्र राजनीति से शुरू हुआ था।

 

पॉलिटिक्स से दूर-दूर रहने और थोड़ा आध्यात्मिक मिजाज वाले कहे जाने वाले तेज प्रताप के लिए लालू प्रसाद ने औरंगाबाद में दो पहिया वाहनों का एक शो रूम खुलवा दिया है। पर अचानक छात्र राजद के अध्यक्ष स्वदेश कुमार को हटाने का ऐलान तेज प्रताप ने सबको चौंका दिया। यही नहीं, उन्होंने अध्यक्ष पद के लिए किसी संजीव सरदार के नाम की घोषणा भी कर डाली।

 

तेज प्रताप के इस फैसले की जानकारी राजद के किसी भी बड़े नेता को नहीं थी। यही वजह है कि छात्र राजद के अध्यक्ष पद के लिए नये नाम का नोटिफिकेशन जारी नहीं हो सका है। हालांकि, माना जा रहा है कि इस तब्दीली के ऐलान के पीछे पार्टी के कुछ बड़े नेताओं की सहमति थी और इसके बगैर यह संभव भी नहीं था।

 

राजद में इस बात के कयास लगाये जा रहे हैं कि अगले लोकसभा चुनाव तक लालू प्रसाद अपनी बड़ी बेटी मीसा भारती को राजनीति में उतार सकते हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में वह तेजस्वी यादव को इंट्रोडच्यूस कर चुके हैं। चुनाव के दौरान उनकी अनेक सभाएं भी हुई थीं। वह युवा राजद का काम देखते हैं।

 

छात्र राजद को भंग करने की जानकारी नहीं: पूर्वे

 

छात्र राजद को भंग करने संबंधी तेज प्रताप के ऐलान की जानकारी प्रदेश राजद अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे को नहीं है। भास्कर डॉट कॉम से बातचीत में उन्होंने कहा: मुझे इसकी आधिकारिक जानकारी नहीं है। जब उनसे पूछा गया कि क्या तेज प्रताप भी राजनीति में आ रहे हैं? डॉ पूर्वे ने कहा कि सबको राजनीति में आने का अख्तियार है। तेज प्रताप पार्टी में आकर काम करना चाहते हैं, तो इसमें हर्ज ही क्या है?

 

पार्टी में नाराजगी, पर चुप्पी का आलम

 

लालू-राबड़ी परिवार से पॉलिटिक्स में एंट्री से राजद नेताओं का बड़ा हिस्सा नाराज हैं। लेकिन वह अपनी नाराजगी जाहिर नहीं करना चाहता। भास्कर डॉट कॉम ने राजद के कई नेताओं से बातचीत की। उनमें से ज्यादातर मानते हैं कि परिवावाद ने पार्टी को बहुत नुकसान पहुंचाया है। सत्ता से बाहर होने में इसका बड़ा रोल रहा है। पर मुश्किल यह है कि यह बात लालू प्रसाद से खुलकर कहे कौन?


 
 
नीतीश की साइकिल स्कीम को बस से दिया लालू ने जवाब
जब जनता ने निकाली भड़ास, तो कुछ यूं हुआ, देखिए ऐसी और तस्वीरें!
कॉलेज शिक्षिका को दिया अश्लील असाइनमेंट, और उसके बाद...
ग्रोथ के मामले में पूरी दुनिया में 21वें नंबर की सिटी, देखिए खास तस्वीरें!

Ganesh Chaturthi Photo Contest
आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
5 + 10

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

Ganesh Chaturthi Photo Contest

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment