Home » Chhatisgarh » Bilaspur » If You Get A Bad Meal In The Train, You Have To Dial A Special Number

अगर ट्रेन में आपको मिले खराब खाना तो डायल करें एक 'खास नंबर'

भास्कर न्यूज | Jan 26, 2013, 00:47AM IST
अगर ट्रेन में आपको मिले खराब खाना तो डायल करें एक 'खास नंबर'

बिलासपुर। आपको ट्रेन में परोसा गया खाना बासी है, मात्रा कम है या फिर कीमत से ज्यादा राशि ली जा रही है। खान-पान से संबंधित ऐसी कोई भी परेशानी हो तो इसकी शिकायत सीधे रेल मंत्रालय से तत्काल कर सकते हैं। इसके लिए टोल फ्री नंबर 1800111321 की सुविधा दी गई है। यह सुविधा 24 जनवरी से शुरू कर दी गई है, जो हर दिन सुबह 7 बजे से रात के 10 बजे तक मिलेगी।


रेल मंत्रालय ने स्टेशन से लेकर चलती ट्रेन में खान-पान की सुविधा दी है, लेकिन शुद्धता, मात्रा या कीमत को लेकर हर यात्री को शिकायत रहती है। सुबह का बना खाना रात में भी परोस दे दिया जाता है। इतना ही नहीं, यात्रियों से ज्यादा कीमत भी वसूल ली जाती है। इस समस्या से न सिर्फ यात्री, बल्कि रेल मंत्रालय भी परेशान है।


हाल ही में खान-पान की कीमतों में इजाफा किया गया है, जिसके बाद यात्री यही सवाल कर रहे हैं कि क्या बढ़ी कीमतों पर बेहतर खाना-नाश्ता मिलेगा। रेल मंत्रालय इसी सवाल के जवाब में खान-पान को बेहतर बनाने के लिए कारगर कदम उठा रहा है। 


महाप्रबंधक से लेकर निचले स्तर के अफसरों को खान-पान के लिए संजीदगी बरतने के निर्देश दिए गए हैं। इसी सिलसिले में टोल फ्री नंबर भी जारी किया गया है, ताकि पीडि़त अपनी शिकायत दर्ज करा सकें।     



टोल फ्री नंबर की सुविधा 24 जनवरी 2013 की सुबह 7 बजे से लागू हुई है। आम यात्रियों को इसका लाभ हर रोज सुबह 7 बजे से रात 10 बजे तक मिलेगा।



सीधे मंत्रालय तक पहुंचेगी शिकायत



टोल फ्री नंबर की खासियत यह है कि आपकी शिकायत सीधे रेल मंत्रालय तक पहुंचेगी। टोल फ्री नंबर की कॉल सीधे रेल भवन के 5वें माले पर जाएगी, जहां कैटरिंग से जुड़े मंत्रालय स्तर के अफसर बैठते हैं। यहां हर दिन आने वाली शिकायतों को संबंधित जोन तक तत्काल पहुंचाया जाएगा, ताकि समस्या दूर करने के साथ दोषियों पर कार्रवाई की जा सके।


पहले ही दिन 2 हजार शिकायतें



भारतीय रेल की खान-पान व्यवस्था से यात्री कितने परेशान हैं, इसे पहले दिन दर्ज हुईं 2००० शिकायतों से समझा जा सकता है। दैनिक भास्कर ने टोल फ्री नंबर पर संपर्क किया तो पता चला कि सुबह 7 बजे से देर शाम 7 बजे तक 2 हजार से ज्यादा शिकायतें दर्ज हुई हैं। सबसे ज्यादा शिकायत बासी खाना परोसने और कीमत से ज्यादा राशि लेने की मिली है।


देशभर के लिए सिर्फ 5 लाइनें


रेलवे बोर्ड ने हैल्प लाइन नंबर जारी तो किया है, लेकिन इस पर शिकायत दर्ज कराना आसान नहीं है। स्थिति जानने के लिए भास्कर ने टोल फ्री नंबर पर संपर्क किया। नंबर जुड़ते ही कंप्यूटराइज्ड वाइस से कठिन अंग्रेजी में कॉल रिसीव करने वालों की व्यस्तता जाहिर की गई। अगले एक मिनट में संपर्क कराने की बात की गई। टोन बजता रहा और आखिर चार मिनट बाद फोन अपने आप कट गया। ऐसी स्थिति हर बार रही। लगातार 20 मिनट तक बार-बार नंबर डायल करने पर संपर्क हो सका। कॉल रिसीव करने वाले कर्मचारी से कारण पूछा गया। पता लगा कि देशभर के लिए एक ही टोल फ्री नंबर है, जिसके लिए 5 लाइनें हैं। यानी एक समय में अधिकतम 5 लोगों की शिकायतें दर्ज हो सकती हैं। देशभर के लिए यह सुविधा नाकाफी है, लिहाजा शिकायत दर्ज कराने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ेगा।

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
4 + 5

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment