Home » Chhatisgarh » Raipur » News » Controversy In Congress Jogi Protest

नोबेल को कांग्रेस में लेने पर बवाल, जोगी विरोध में

भास्कर न्यूज | Jan 26, 2013, 05:58AM IST
नोबेल को कांग्रेस में लेने पर बवाल, जोगी विरोध में
रायपुर। एनसीपी के प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा देकर कांग्रेस प्रवेश की कोशिश कर रहे नोबेल वर्मा के विरोध में पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी खड़े हो गए हैं। उन्होंने साफ कहा कि उनसे इस बारे में किसी ने न तो पूछा है और न ही सहमति ली है।
 
जोगी ने दैनिक भास्कर से बातचीत में कहा कि नोबेल को कांग्रेस में लेने के बारे में गलत बातें प्रचारित की जा रही हैं। इस संबंध में अब तक किसी  ने भी उनसे बात नहीं की है। वैसे भी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि कोई पार्टी में वापस आता है तो  आए पर उसे तीन साल तक काम करना होगा। उसके बाद ही पार्टी उनको कोई पद देने पर विचार करेगी।
 
जोगी ने कहा कि ऐसा नहीं लगता कि नोबेल तीन साल इंतजार करेंगे। अगर वे तीन साल तक सामान्य कार्यकर्ता की हैसियत से काम करेंगे तो हमें कोई आपत्ति नहीं है। पर इस बात को हमें नहीं भूलना चाहिए कि पिछले 10 सालों से चंद्रपुर क्षेत्र में कांग्रेस के कई कार्यकर्ता पसीना बहाकर काम कर रहे हैं।
 
किसानों के हित में वहां हमारे नेताओं ने लगातार आंदोलन किया है। ऐसे में हमें चुनाव के समय किसी बाहर से आए नेता को मौका देने के बजाय हमारे कार्यकर्ताओं को मौका देना चाहिए।
 
प्रक्रिया में है : पटेल
 
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नंदकुमार पटेल ने कहा कि नोबेल वर्मा का आवेदन हमें मिला है। अभी सब कुछ प्रक्रिया में है।
 
इसलिए हो रहा विवाद
 
नोबेल ने उस समय एनसीपी ज्वाइन की थी जब विद्याचरण शुक्ल ने कांग्रेस की जोगी सरकार के विरोध में राज्य में बिगुल फूंका था। वीसी के नेतृत्व में 2003 के विधानसभा चुनाव के पहले एनसीपी ने पूरे राज्य में आंदोलन किया। नोबेल चंद्रपुर से विधायक भी चुने गए। जोगी विरोधी मुहिम में वीसी के साथ लगातार नोबेल सक्रिय रहे।
 
इधर, वीसी की कांग्रेस में वापसी के बाद केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री डॉ. चरणदास महंत के साथ प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार पटेल, नेता प्रतिपक्ष रविंद्र चौबे नोबेल को कांग्रेस में वापस लाने का प्रयास कर रहे हैं। ये कांग्रेस की अंदरूनी राजनीति में जोगी विरोधी माने जाते हैं। इस विरोध को कांग्रेस के गुटीय विवाद से जोड़कर देखा जा रहा है।
 
अब क्या होगा ? 
 
प्रदेश कांग्रेस के तीन प्रमुख नेता पटेल, चौबे और महंत ने नोबेल को वापस लेने की प्रक्रिया शुरू की है तो उनकी वापसी तो हो जाएगी।
 
पीसीसी के प्रस्ताव पर प्रदेश प्रभारी बीके हरिप्रसाद वरिष्ठ नेताओं से बात कर नोबेल की वापसी का आदेश जारी करेंगे। पर कांग्रेस में जोगी के विरोध के चलते नोबेल को कोई महत्वपूर्ण पद या विधानसभा चुनाव में टिकट मिलने में खासी परेशानी हो सकती है।
 
BalGopal Photo Contest
आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
10 + 3

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

BalGopal Photo Contest

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment