Home » Union Territory » New Delhi » News » Rakshabadhan, Inflation, New Delhi

बहनें आज और कल दोनों दिन बांध सकती हैं भाईयों की कलाई पर राखी

Bhaskar news | Aug 20, 2013, 03:09AM IST
बहनें आज और कल दोनों दिन बांध सकती हैं भाईयों की कलाई पर राखी

नई दिल्ली। रक्षाबंधन का पर्व इस वर्ष ग्रहों के योग के चलते मंगलवार और बुधवार दोनों दिन मनाया जा रहा है। बहने अपने भाइयों की कलाई पर मंगलवार सुबह 10 बजकर 30 मिनट से दिन के १ बजकर 30 मिनट तक रक्षा सूत्र बांध सकती हैं। ज्योतिषाचार्य पं.राजेश कुमार शर्मा ने बताया कि जो लोग मंगलवार को रक्षाबंधन का त्योहार मना रहे हैं वे सुबह 10 बजकर 30 मिनट से दिन के 1 बजकर 30 मिनट के मध्य रक्षा सूत्र बांधें। ज्योतिषाचार्य के मुताबिक जो लोग बुधवार को यह त्योहार मनाएंगे वे सुबह 7 बजकर 26 मिनट के पहले भद्रा मुक्त समय में राखी बांधें।


पंडित रामनरेश उपाध्याय ने बताया कि मंगलवार को पूर्णिया तिथि सुबह ९ बजकर 26 मिनट से शुरू होकर बुधवार सुबह 7 बजकर 25 मिनट तक योग कर रही है। लेकिन पूर्णिमा तिथि के आगमन के साथ ही भद्रा का भी योग शुरू हो रहा है। जिसका समापन मंगलवार रात 8 बजकर 28 मिनट पर हो रहा है। ऐसे में मंगलवार को ८ बजकर 28 मिनट के बाद भी रक्षाबंधन मनाया जा सकता है।


महंगाई में भी गुलजार होगी भैया की कलाई


भाई की कलाई पर राखी बांधने के लिए भले ही इस साल बहनों को कुछ अधिक खर्च करना पड़ रहा है फिर भी दुकानों पर मौजूद सबसे खूबसूरत राखी खरीदने के लिए बहनें महंगाई से कोई समझौता नहीं कर रही हैं। इस साल महंगाई बढऩे से राखी के दामों में भी 15 से 25 प्रतिशत कीमत का इजाफा हुआ है। यह इजाफा ट्रांसपोर्ट, रॉ मटेरियल और लेबर कॉस्ट के बढऩे की वजह से हुई है। इस साल राखी की डिजाइनों में भी कई वेरायटी बाजारों में देखने को मिल रही है। जबकि इस साल भी सोने चांदी और प्लेटिनम वाले ब्रेसलेट राखी के तौर पर खरीदे जा रहे हैं।


खान मार्केट के एक व्यापारी ने बताया कि इस साल राखी का ट्रेंड भी बदला है और लड़कियां पारंपरिक डिजाइन में जड़ी के वर्क वाली राखी खास पसंद कर रही हैं। यही नहीं बड़े आकार वाली और चटकीले रंगों वाली राखी भी पसंद की जा रही है। इसके अलावा प्रतीकात्मक ओम, गणेश, शिव, साईंराम, स्फटिक व रुद्राक्ष आदि वाले राखी भी बाजार में उपलब्ध है। सोना चांदी के डिजाइनर राखी की भी खरीद बढ़ी है। इनमें प्रेशियस-सेमीप्रीशियस पत्थर जडि़त राखी, चंदन वाली राखी, म्युजिकल, काटूर्न कैरेक्टर वाले राखी  भी बाजार में भारी मात्रा में मिल रहे हैं। पिछले कुछ दिनों से सोना, चांदी और प्लेटिनम  के ब्रेसलेट का भी चलन बढ़ा है जिसे बहनें राखी के रूप में भाई की कलाई पर बांधना पसंद कर रही हैं ।
जिनकी कीमत पांच हजार से शुरू होती हैं। इन सबके बीच बंधनी और रेशम के धागे वाली राखियां भी बड़ी वेरायटी के साथ बाजार में खूब बिक रही हैं।


 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
2 + 6

 
विज्ञापन
 
Ethical voting

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

बिज़नेस

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment