Home » Chhatisgarh » Raipur » News » 'Raman Budget' Charmed Everyone

सबको लुभाया, धन-धान से भरपूर आया... 'रमन का बजट'

भास्कर न्यूज | Feb 24, 2013, 06:19AM IST
सबको लुभाया, धन-धान से भरपूर आया... 'रमन का बजट'
रायपुर। आशा के अनुरूप मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने शनिवार को वर्ष 2013-14 के लिए चुनावी बजट पेश किया। इंडक्शन चूल्हा और तीन हजार रुपए तक के मोबाइल फोन पर लगने वाला वैट 14 फीसदी से कम कर 5 फीसदी कर दिया गया है।
 
किसानों को धान खरीदी पर प्रति क्विंटल 270 रुपए बोनस देने का ऐलान किया। इसके साथ ही एकल बत्ती कनेक्शन पर अब हर महीने 30 के बजाय 40 यूनिट बिजली मुफ्त मिलेगी। 
 
44 हजार 129 करोड़ रुपए के बजट के फोकस में मूल रूप से किसानों को रखा गया है। पिछली बार 6244  करोड़ रुपए का कृषि बजट इस बार 8542 करोड़ रुपए का हो गया है।
 
किसानों को चार माह के अंदर बोनस मिल जाएंगे। वैट कम करने से इंडक्शन चूल्हा 180 रुपए से 450 रुपए तक सस्ता हो जाएगा। एलईडी बल्ब एवं लाइट पर भी वैट 14 फीसदी से कम कर 5 प्रतिशत कर दिया गया है। किसी भी वस्तु पर न तो कर की दर बढ़ाई गई है और न ही  कोई नया कर लगाया गया है।  
 
बैरियर फ्री स्टेट की परिकल्पना को ध्यान में रखते हुए वाणिज्यिक कर जांच चौकी को 31 मार्च 2014 तक  बंद रखने का निर्णय लिया गया है। बेरोजगारों को हर महीने दिया जाने वाला भत्ता 500 से बढ़ाकर 1000 रुपए किया गया है। इसी कड़ी में दूरस्थ क्षेत्रों में स्कूल और कॉलेज खोलने के लिए बजट में प्रावधान किया गया है। राज्य में 100 नए हाईस्कूल खोले जाएंगे।
 
300 हायर सेकंडरी स्कूल खोले जाएंगे। इसी प्रकार राज्य के दूरस्थ क्षेत्रों में 18 नए कॉलेज खोले जाएंगे। मुंगेली, सुकमा एवं रामानुजगंज में नए पॉलीटेक्निक कॉलेज प्रारंभ किए जाएंगे। बजट घोषणाओं के अनुसार राज्य में एक रेलवे ओवरब्रिज, पांच फ्लाईओवर, 74 पुल, नौ नए जिला मुख्यालयों में सर्किट हाऊस भी बनाए जाएंगे। 
 
हर व्यक्ति 5330 का कर्जदार 
 
31 मार्च 2012 की स्थिति में छत्तीसगढ़ पर 13 हजार 327 रुपए का कर्ज है। इस दृष्टि से देखा जाए तो राज्य के हर व्यक्ति पर 5330 करोड़ रुपए का कर्ज आता है। मुख्यमंत्री ने दावा किया कि देश में छत्तीसगढ़ पर सबसे 
कम कर्ज है।
 
इनके दाम होंगे कम
 
इंडक्शन चूल्हा
3000 रुपए तक मोबाइल  
लालटेन व कंप्यूटर पार्ट्स  
अनब्रांडेड टोस्ट
सुगंधित दूध 
 
इन पर प्रवेश कर खत्म
 
सौर जनित उपकरण, पाठ्य पुस्तक निगम की किताबों के पेपर, सोयाबीन तेल के प्लांट-मशीनरी और पार्ट्स
 
करों में रियायत  
 
उद्योगों में लगने वाले लाइट डीजल पर वेट 25 से घटाकर 14 प्रतिशत किया गया  
आयातित फर्नेश आइल का प्रवेश कर 10 से घटाकर 5 प्रतिशत  
आयरन ओर पैलेट और स्टील स्क्रैप पर एंट्री टैक्स 1 से घटाकर 0.5 प्रतिशत  
 
प्रमुख घोषणाएं
 
बीपीएल छात्रों को छात्रवृत्ति अब 100 और 125 के बजाय 300 रुपए
मानसरोवर यात्रा जाने वालों का अनुदान बढ़ेगा 
85 अधिसूचित विकासखंडों में मोबाइल मेडिकल यूनिट की स्थापना होगी  
सिकलसेल के शोध के लिए इंस्टीट्यूट खुलेगा
रायगढ़ का मेडिकल कॉलेज अस्तित्व में आएगा  
आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय 500 और सहायिकाओं का मानदेय 250 रुपए बढ़ा  
महिला स्व सहायता समूह की महिलाओं को अब 6 के बजाय 3 प्रतिशत ब्याज पर लोन  
सड़कों को सुधारने के लिए 400 करोड़ रुपर अतिरिक्त दिए गए  
रायपुर एवं कोंडागांव में खेल अकादमी स्थापित होगी  
राज्य में बिजली उत्पादन 1500 मेगावाट बढ़ाने का लक्ष्य  
काउंटर इंसरजेंसी और एंटी टेररिस्ट स्कूल बिलासपुर में खोला जाएगा   
वरिष्ठ पत्रकारों के लिए सम्मान निधि योजना एवं सभी पत्रकारों के लिए बीमा योजना लागू  
 
रायपुर से राजनांदगांव के बीच मेट्रो की प्रक्रिया शुरू करने को एक करोड़ रुपए 
कोंडागांव में बनेगी शिल्प सिटी
अंबिकापुर और जगदलपुर में रायपुर की तर्ज पर बनेगा साइंस सेंटर   
जगदलपुर और दंतेवाड़ा में नवीन महाविद्यालय कन्या छात्रावास खुलेंगे
सरगुजा और बस्तर संभाग मुख्यालय में शुरू होगा ‘प्रयास’ आवासीय विद्यालय
 
विकास पर फोकस
 
केवल यही नहीं, हमारा हर साल का बजट चुनावी होता है। प्रदेश के हर क्षेत्र और हर वर्ग के विकास पर फोकस है। राज्य के सीमित संसाधन हैं, इसलिए पेट्रोल-डीजल सस्ता करने को लेकर केंद्र सरकार को विचार करना चाहिए। किसानों को बोनस देने में कोई देर नहीं हुई। हम केंद्र से उम्मीद कर रहे थे कि वह समर्थन मूल्य बढ़ाएगी, पर ऐसा नहीं हुआ।
- डॉ. रमन सिंह, मुख्यमंत्री
 
बेहद निराशाजनक बजट
 
बजट बेहद निराशाजनक है। सीएम जिस ब्रrास्त्र की बात करते थे, वह चलने के पहले ही फ्यूज हो गया। जनता और किसानों के लिए कुछ नहीं है। बोनस देने के लिए कांग्रेस दबाव बना रही थी। गैस सिलेंडर, डीजल-पेट्रोल पर भी वैट कम नहीं किया गया। शिक्षाकर्मियों के लिए कुछ नहीं है। आयरन ओर में छूट का सीधा लाभ किसे मिलेगा ये लोग जानते हैं।  -  रविंद्र चौबे, नेता प्रतिपक्ष
 
भास्कर ने जैसा बताया वैसा ही आया बजट
 
किसानों को मिल गया बोनस
किसानों को धान पर बोनस दिया जाएगा ।
इंडक्शन चूल्हा और मोबाइल से वैट कम होने के संकेत।
सड़क मरम्मत का बजट बढ़ेगा।
कंप्यूटर पार्ट्स से वैट कम करने की संभावना।
स्व सहायता समूह की महिलाओं को लोन पर दिए जाने वाले ब्याज की दर तीन फीसदी घटाने की तैयारी।
वन विभाग में तीन डिवीजन
नए हाईस्कूल और हायर सेकंडरी स्कूल खोले गए   
डेढ़ दर्जन नए कॉलेज खोले जाएंगे ।
 फॉरेस्ट के तीन नए डिवीजन बनेंगे।
आंगनबाड़ी की महिलाओं और बच्चों का हफ्ता बढ़ेगा, मानदेय भी बढ़ेगा। 
डेयरी स्थापना को बढ़ावा देगी सरकार, तीन लाख तक लोन तीन प्रतिशत ब्याज पर देने की संभावना।
 
तीन दिन से भास्कर में बजट की खबरें पढ़ रहा हूं : धर्मजीत
 
बजट में होने वाली घोषणाएं दैनिक भास्कर ने पहले ही प्रकाशित कर दी थीं। इस बात को लेकर कांग्रेस विधायक धर्मजीत सिंह ने बजट भाषण समापन के दौरान चुटकी ली। उन्होंने कहा कि बजट की संभावनाएं तो पहले ही अखबार में आ गई हैं। तीन दिन से वे दैनिक भास्कर में बजट की खबरें पढ़ रहे हैं। बाद में पत्रकारांे से नेता प्रतिपक्ष रविंद्र चौबे ने भी कहा कि बजट पहले ही लीक हो गया था। विधानसभा के परिसर में भी सत्तापक्ष और विपक्ष के विधायकों के बीच भास्कर में छपी खबरें चर्चा में रहीं।

 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
5 + 8

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment