Home » Haryana » Hisar » INLD To Protest Against Govt. From 15th

सावधान हुड्डा, 15 फरवरी से INLD पोल खोलने की तैयारी में

भास्कर न्यूज | Feb 10, 2013, 06:03AM IST
सावधान हुड्डा, 15 फरवरी से INLD पोल खोलने की तैयारी में

 चंडीगढ़। शिक्षक भर्ती घोटाले में पार्टी सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला और प्रधान महासचिव अजय चौटाला को १०-१० साल की सजा होने के बाद प्रदेशभर में कार्यकर्ता सम्मेलन कर चुका इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) अब प्रदेश सरकार को विधानसभा के अंदर और जनता के बीच घेरने की दोहरी रणनीति पर काम करेगा। शनिवार को यहां हुई इनेलो की राज्य कार्यकारिणी की बैठक में १५ फरवरी से मार्च महीने के अंत तक जहां सत्तारूढ़ कांग्रेस के खिलाफ 'पोल खोल अभियानÓ चलाने का फैसला लिया गया वहीं 22 फरवरी से शुरू होने वाले विधानसभा के बजट सत्र में भी सरकार को घेरने का ऐलान किया गया।


कार्यकारिणी की बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा और विधायक अभय चौटाला ने इस बात पर भी नाराजगी जताई कि पार्टी के बड़े नेताओं को ओमप्रकाश चौटाला से मिलने से रोका जा रहा है। अभय ने कहा कि पार्टी नेताओं को जेल भिजवाने के लिए कांग्रेस व सीबीआई की ओर से रची गई साजिश को बेनकाब करने के लिए पार्टी ने पहले चरण में जिलास्तर पर कार्यकर्ता सम्मेलन किए जो बेहद सफल रहे। अब दूसरे चरण में पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता 15 फरवरी से मार्च महीने के अंत तक प्रदेशभर में कांग्रेस के कारनामों को उजागर करने के लिए 'पोल खोल अभियानÓ चलाएंगे। इसके तहत सभी गांवों और शहरों के सभी वार्डों में जनसभाएं की जाएंगी। दूसरे चरण का अभियान पूरा होने के बाद पार्टी के सभी 18 प्रकोष्ठ जिला मुख्यालयों पर अलग-अलग बैठक करेंगे।



कई प्रस्ताव पारित : बैठक में बिल्डर्स को लाभ पहुंचाने के लिए सरकार की भूमि अधिग्रहण नीति के दुरुपयोग की निंदा की गई। भूमि घोटालों की जांच सुप्रीम कोर्ट के सिटिंग जज से कराने, बढ़ाई गई बिजली दरें वापस लेने, बिगड़ती कानून-व्यवस्था को सुधारने और स्वाइन फ्लू व हैपेटाइटस-सी को रोकने के लिए कदम उठाने की मांग की गई। इस बारे में डॉ. केसी बांगड़, गोपीचंद गहलोत, रामपाल माजरा, कृष्ण पंवार व निशान सिंह की ओर से बैठक में रखे गए प्रस्ताव पारित किए गए।


कैबिनेट के फैसले के लिए एक व्यक्ति जिम्मेदार नहीं


अभय ने कहा कि कैबिनेट की ओर से लिए गए फैसले के लिए किसी एक व्यक्ति को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता। कांग्रेस विधायक संपत सिंह इनेलो के खिलाफ बयानबाजी करके मंत्रिमंडल में जगह पाना चाहते हैं।
चौटाला से देवगौड़ा और बादल को मिलने नहीं दिया


अभय ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा व पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल समेत कई नेताओं को केंद्र सरकार के दबाव में ओमप्रकाश चौटाला को मिलने नहीं दिया गया। यही नहीं,इनेलो नेताओं को परेशान करने का प्रयास किया जा रहा है।



ये मुद्दे उठाएंगे सदन में
इनेलो नेता बजट सत्र में राज्यपाल के अभिभाषण और बहस के दौरान बिजली-पानी के संकट, कानून-व्यवस्था की बिगड़ती स्थिति, प्रदेश में फैले व्यापक भ्रष्टाचार, भूमि घोटाले, एसवाईएल और राबर्ट वॉड्रा से जुड़े मामले उठाएंगे। ठप पड़े विकास, राज्य की खराब आर्थिक स्थिति, सरकार की फर्जी घोषणाओं और निरंतर बढ़ते स्वाइन फ्लू के मामलों पर भी सरकार से जवाब मांगा जाएगा। इन मुद्दों के साथ-साथ पार्टी के विधायक अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों व जिलों से जुड़े दूसरे मामले भी सदन में उठाएंगे।



मांगेराम का स्वागत
अभय चौटाला व अशोक अरोड़ा ने कहा कि पूर्व वित्त मंत्री मांगेराम गुप्ता प्रदेश के वयोवृद्ध व सम्मानित राजनेता हैं। अगर गुप्ता इनेलो में आते हैं तो पार्टी का हर कार्यकर्ता व नेता उनका दिल से स्वागत करेगा।
 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
8 + 10

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment