Home » Haryana » Faridabad » Sitting At The Hut Rajendra Babu Had Prepared The Outline Of The City

PICS: इसी हट में बैठ कर राजेंद्र बाबू ने तैयार की थी शहर की रूपरेखा

पंकज कुमार | Dec 03, 2012, 01:49AM IST
PICS: इसी हट में बैठ कर राजेंद्र बाबू ने तैयार की थी शहर की रूपरेखा

फरीदाबाद. यूं तो इस शहर को मुगल सम्राट जहांगीर के खजांची शेख फरीद ने 1607 में बसाया था,  लेकिन आजादी के बाद देश के महत्वपूर्ण शहरों में फरीदाबाद को शुमार कराने का श्रेय देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद को जाता है।


वे फरीदाबाद विकास बोर्ड (अब नगर निगम) के पहले चेयरमैन थे। इसे विडंबना ही कहेंगे कि देश व विदेश में शहर को जिसने पहचान दिलाई, उसकी एक अदद मूर्ति तक इस शहर में नहीं है।



ट्रस्ट ने जिंदा रखीं यादें : राष्ट्रपति बनने के बाद भी वे शहर के विकास में खासी दिलचस्पी रखते थे। एक सामाजिक संगठन डॉ. राजेंद्र प्रसाद मेमोरियल ट्रस्ट द्वारा इनकी जयंती पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।ट्रस्ट के अथक प्रयास से सेक्टर-23ए संजय कॉलोनी में इनके नाम पर एक चौक की स्थापना की गई है।


हार्डवेयर से सेक्टर 24-25 की तरफ जाने वाली सड़क का नाम प्रथम राष्ट्रपति के नाम पर रखा गया है। 1990 में गठित ट्रस्ट से जुड़े पदाधिकारी नगर निगम कार्यालय में इनकी प्रतिमा लगाने की मांग कर रहे हैं।


जहां बैठकर उन्होंने शहर के ढांचे की लकीर खींची थी। हाल ही में निगम सदन ने इसे पास कर दिया है। लेकिन अभी तक मूर्ति स्थापित करने की आगे कोई कार्रवाई नहीं हो सकी।

Modi Quiz
आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
6 + 2

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment