Home » Himachal » Shimla » Scramble Between CITU Workers And Megamart Security

सीटू कार्यकर्ता और मेगामार्ट सुरक्षाकर्मियों में हाथापाई

भास्कर न्यूज | Feb 18, 2013, 04:27AM IST
सीटू कार्यकर्ता और मेगामार्ट सुरक्षाकर्मियों में हाथापाई
शिमला। छोटा शिमला स्थित विशाल मेगामार्ट के बाहर रविवार को खूब हंगामा हुआ। पहले तो सीटू कार्यकर्ताओं ने प्रबंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। फिर जब कुछ कार्यकर्ता अपनी मांगों को लेकर प्रबंधन से बातचीत के लिए अंदर घुसे तो सुरक्षाकर्मियों के साथ हाथापाई हो गई। बाद में यहां कार्यकर्ताओं और मेगामार्ट सुरक्षाकर्मियों के बीच जमकर हाथापाई हुई। मेगामार्ट मैनेजर के साथ भी मारपीट की गई। 
 
गुस्साए कार्यकर्ताओं ने सुरक्षाकर्मियों की धुनाई कर दी और मेगामार्ट का शटर भी बंद कर दिया। बाद में पुलिस ने प्रबंधन की शिकायत पर 20 से अधिक कार्यकर्ताओं के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।
 
पुलिस के अनुसार सुबह करीब साढ़े 11 बजे सीटू के 40 से अधिक कार्यकर्ता मेगामार्ट के बाहर जमा हो गए। यहां नौकरी से निकाले गए दो मजदूरों की बहाली की मांग करते हुए कार्यकर्ताओं ने प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। इस दौरान पुलिस भी यहां तैनात रही। दोपहर करीब 12 बजे सीटू का एक दल प्रबंधन से बात करने के लिए अंदर जाने लगे। 
 
इसी बीच मार्ट में तैनात सुरक्षाकर्मियों ने इन्हें रोक लिया। गुस्साए कार्यकर्ता इसके बाद सुरक्षाकर्मियों पर टूट गए और इन्हें यहां से भगा दिया। साथ ही मैनेजर की पिटाई भी कर दी। डीएसपी सिटी पंकज शर्मा ने बताया कि २क् कार्यकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है और जल्द ही सभी को नामजद किया जाएगा।
 
श्रम अधिकारी भी पहुंचे
 
श्रम विभाग के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। सीटू सचिवमंडल सदस्य विजेंद्र मेहरा ने कहा कि रविवार का दिन होने के बावजूद प्रबंधन ने मेगामार्ट को खोल रखा है। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन प्रबंधन का साथ दे रहा है और आंदोलनरत कर्मचारियों को धमकाया जा रहा है। उन्होंने विभाग के अधिकारी से मांग की कि मार्ट में भी श्रम कानूनों को लागू किया जाए।
आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
3 + 1

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment