Home » International News » International » Brutal Torture And Execution In 19th Century China Disturbing Images

PHOTOS: आज से नहीं बरसों से बर्बर है चीन, अपराधियों को देता था भयानक सजा

dainikbhaskar.com | Jan 22, 2013, 00:00AM IST
PHOTOS: आज से नहीं बरसों से बर्बर है चीन, अपराधियों को देता था भयानक सजा
अपराधियों और राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों की हत्याएं करने का चलन दुनिया में काफी समय से है। शासकों द्वारा कैद किए गए अपने प्रतिद्वंद्वियों और किसी अपराध के दोषी को बेहद क्रूर तरीके से मौत के घाट उतारा जाता था।
 
 
चीन की बात करें तो हम पाएंगे कि भारत के विपरीत वहां हार साल औसतन 70 लोगों को फांसी दी जाती है. वहीं 19वीं सदी के चीनी लोग सजा देने के मामले में सबसे ज्यादा बर्बर हुआ करते थे. न्याय प्रक्रिया का हिस्सा होने के कारण ऐसे कठोर दंडों को समाज द्वारा स्वीकार भी किया जाता था। आज हम आपको 19वीं सदी के चीन में ले चलते हैं, जहां एक गलती की सजा भी दर्दनाक मौत समझी जाती थी. 
 
 
अंदर की स्लाइड में देखें बर्बर चीन में कैसे दी जाती है सजा...
BalGopal Photo Contest
आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
2 + 8

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

BalGopal Photo Contest

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment