Home » International News » International » News

हमारे यहां के लखपति अमेरिका में रोडपति

नई दिल्ली/वॉशिंगटन | Feb 22, 2013, 08:18AM IST
अमेरिका में जो गरीबी रेखा के नीचे हैं भारत में वे ‘सुपर रिच’ कहे जाएंगे। उन पर अलग से टैक्स भी लग सकता है। प्रणब सेन कमेटी ने 12.77 लाख रुपए सालाना आमदनी वाले लोगों को ‘सुपर रिच’ वर्ग में रखने का प्रस्ताव दिया है। 
 
अमेरिका में 12 लाख रुपए सालाना आमदनी वाला परिवार गरीबी रेखा के नीचे आता है। वहां 2.16 करोड़ रुपए आमदनी वालों को ‘सुपर रिच’ माना जाता है। अमेरिकन कम्युनिटी सर्वे में यह तथ्य सामने आया है। रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय मूल के 8.2 फीसदी लोग बीपीएल के दायरे में हैं। यानी करीब 2.62 लाख लोग। 
 
हालांकि अन्य जातीय समूह की तुलना में भारतीय लोग कम गरीब हैं। पूरे अमेरिका में 4.27 करोड़ लोग गरीबी रेखा के नीचे हैं। वहां गरीबी दर का राष्ट्रीय आंकड़ा 14.7 प्रतिशत है। सबसे अधिक गरीबी कनेक्टिकट, डेलावेयर, हवाई, मेरीलैंड, नेवाडा, न्यूहैंपशायर, न्यूजर्सी, वर्जीनिया और साउथ कैरोलीना राज्य में है। 
 

22 फरवरी की अन्य महत्वपूर्ण:
 
हैदराबाद ब्लास्ट: लश्कर ने लिया अफजल का बदला?
LIVE: ऑस्ट्रेलियाई कप्तान क्लार्क ने चुनी पहले बल्लेबाजी  
10 ऐसे भीषण युद्ध,जिनसे एक झटके में कंगाल हुए देश,लोगों को मांगनी पड़ी भीख  
भगवा आतंक पर शिंदे के खेद पर संघ और भाजपा में मतभेद  
हमारे यहां के लखपति अमेरिका में रोडपति
सलमान खान बनेंगे बॉलीवुड के पहले 'कुंवारे बाप'!  
नितिन गडकरी के कार में मिली जिसकी लाश, नहीं बंद हो सकती उसकी जांच  
हिंदू लेखक के हत्‍यारे को सम्‍मानित करने की मांग, मुलायम ने पाक को बताया छोटा भाई  
हिमाचल में घुसने से रोके गए रामदेव तो 'कंपनी' लेगी कोर्ट की शरण
सोनिया ने सुषमा और शिंदे से पूछा, अब तो ठीक है 
 

 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
8 + 2

 
विज्ञापन
 
Ethical voting

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

बिज़नेस

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment