Home » Jammu Kashmir » Jammu » Pakistan Crossed The Border Of Vandalism, Heavy Stress On LOC

पाक ने लांघी बर्बरता की सीमा, नियंत्रण रेखा पर भारी तनाव

भास्कर न्यूज नेटवर्क/एजेंसी | Jan 09, 2013, 01:42AM IST
पाक ने लांघी बर्बरता की सीमा, नियंत्रण रेखा पर भारी तनाव
जम्मू। पाकिस्तानी सैनिकों ने भारतीय सीमा में घुसकर हमला किया है। इसमें भारत के दो जवान शहीद हो गए हैं। सूत्रों के अनुसार पाक सैनिकों ने दोनों भारतीय जवानों के सिर भी काट दिए और एक का सिर साथ ले गए। हमले में दो जवान घायल भी हुए हैं। घटना मंगलवार की है। इसके बाद देर रात पाकिस्तान की ओर से पुंछ में सात पोस्ट पर गोलीबारी भी की गई। जवाब में भारतीय सेना ने भी गोलीबारी की है।
 
हालांकि, भारतीय सेना ने सिर काटने की खबर की पुष्टि नहीं की है। सेना ने कहा है कि एक जवान का शरीर क्षत- विक्षत अवस्था में पाया गया है। लेकिन सूत्र बताते हैं कि पाकिस्‍तान के 9 बलूच रेजीमेंट के सैनिकों ने भारतीय जवानों की हत्‍या करने के बाद उनके सिर भी कुचले थे। कांग्रेस प्रवक्‍ता राशिद अल्‍वी ने भी कहा, 'जिस तरह हमारे जवान का सिर काटा गया, वह नाकाबिल-ए-बर्दाश्‍त है।' यानी उन्‍होंने सिर कलम किए जाने की बात मानी। बुधवार को उन्‍होंने यह भी कहा कि भारत के सब्र का पैमाना छलक रहा है, पाकिस्‍तान इसका इम्तिहान नहीं ले।
 
मेंढर में हुई घटना के बाद सेना और देश में गुस्‍सा है। उन्‍हें हाईकमान के ऑर्डर का इंतजार है। भारत ने पाकिस्‍तानी उच्‍चायुक्‍त को तलब किया है। रक्षा मंत्री एके एंटनी ने कहा कि पाकिस्‍तान की कार्रवाई उकसाने वाली है। उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तानी फौजियों ने भारतीय सैनिकों के साथ जो व्‍यवहार किया है, उसका पाकिस्‍तान सरकार से सख्‍त विरोध किया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि हमारे डीजीएमओ अपने पाकिस्‍तानी समकक्ष से संपर्क में हैं।
 
घटना के बाद नियंत्रण रेखा पर भारी तनाव है। सेना के मुताबिक, यह पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ का प्रयास था। पाकिस्तानी सैनिक कोहरे और घने जंगल का फायदा उठाकर भारतीय सीमा में 100 मीटर अंदर घुस आए और पैट्रोलिंग पार्टी को निशाना बनाकर हमला किया। 
 
सेना ने बताया कि दोनों ओर से आधे घंटे तक गोलीबारी हुई। इस दौरान पाकिस्तान की ओर से मोर्टार और गोले भी दागे। घायलों को उधमपुर के कमान अस्पताल शिफ्ट किया गया है। शहीद जवान लांस नायक हेमराज और सुधाकर सिंह है। हमले के बाद पाकिस्तानी भारतीय सैनिकों के हथियार भी साथ ले गए। भारतीय सेना की ओर से जवाबी हमले के बाद हमलावर भाग गए। पाकिस्तानी सैनिकों के साथ आतंकियों के भी शामिल होने का अंदेशा है। 
 
सेना प्रमुख जनरल बिक्रम सिंह ने उत्तरी कमान के प्रमुख ले.जन. केटी परनाईक से हमले की जानकारी ली है। परनाईक ने पोस्ट का मुआयना कर पाकिस्तान का विरोध जताने के लिए बॉर्डर मीटिंग भी बुलाई है। इस बीच रक्षा मंत्रालय ने बयान जारी कर पाक से संघर्ष विराम के सम्मान की उम्मीद जताई है। 
 

 

पढि़ए
EXPERTS बोले- 1971 में भारतीय सैनिकों की आंखें तक निकाल ली थीं पाकिस्‍तान ने, देना होगा मुंहतोड़ जवाब
PHOTOS: इन देशों के साथ की होती ऐसी हरकत तो घर में मार खाता पाकिस्तान
कसाब की आखिरी चिट्ठी
एटमी युद्ध छिड़ा तो जीतेगा भारत
1971 के भारत-पाक युद्ध की कुछ अनसुनी कहानियां!
वेद प्रताप वैदिक का लेख: पाकिस्‍तान का नया राग
कमलेश सिंह की टिप्‍पणी: ऐतवार का सिला यह तो ये सिलसिला ही खत्‍म हो
आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
5 + 2

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment