Home » Jyotish » Tantra Mantra » Rahasya- On Saturday Chanting This Mantra, Every Crisis Will Be Averted.

शनिवार को करें इस मंत्र का जप, टल जाएगा हर संकट

धर्म डेस्क. उज्जैन | Dec 21, 2012, 07:00AM IST
शनिवार को करें इस मंत्र का जप, टल जाएगा हर संकट

हिंदू धर्म ग्रंथों में शनिदेव को न्यायाधीश कहा गया है यानी मनुष्य के अच्छे-बुरे सभी कर्मों का प्रतिफल शनिदेव उसे प्रदान करते हैं। यही कारण है कि शनिदेव की साढ़ेसाती या ढैय्या में मनुष्य को अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यदि आप पर भी शनि की साढ़ेसाती या ढैय्या चल रही है तो नीचे लिखे मंत्र का विधि-विधान से जप करने से शनिदेव प्रसन्न होंगे और आपके सभी संकट टल जाएंगे।

वैदिक मंत्र
ऊँ शन्नोदेवीरभिष्टय आपो भवन्तु पीतये शन्योरभिस्त्रवन्तु न:।

जप विधि
- प्रति शनिवार सुबह जल्दी उठकर सर्वप्रथम स्नान आदि नित्य कर्म से निवृत्त होकर साफ  वस्त्र पहनें।
- इसके बाद शनिदेव की पूजा करें और तेल व काले तिल अर्पित करें।
- इसके बाद पूर्व दिशा की ओर मुख करके कुश का आसन ग्रहण करें।
- तत्पश्चात रुद्राक्ष की माला से ऊपर लिखे मंत्र का जप करें।
- इस मंत्र का प्रभाव आपको कुछ ही समय में दिखने लगेगा।
 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
8 + 5

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment