Home » Lifestyle » Awkash » Home - Family

शादी को तीन ही महीने बीते थे और वह गर्भवती हो गई...

DainikBhaskar.com | Sep 13, 2013, 11:00AM IST
शादी को तीन ही महीने बीते थे और वह गर्भवती हो गई...
घर-परिवार: विमल जब ब्याह की तैयारी कर रही थी, तब ससुराल वाले कहते नहीं थकते थे बेहद सुंदर है, गुणी है.. और जाने क्या-क्या। शादी होने के दस दिन में सबके तेवर बदल चुके थे। हर बात में विमल को टोकना। उसकी बनाई चीजों को खराब बताना। कई बार उसकी परोसी थाली तक फेंक दी जाती थी। शादी को तीन ही महीने बीते थे और वह गर्भवती हो गई। उस स्थिति में उसकी हालत और खराब हो गई। शरीर से थक जाती थी और दिन भर ससुर, ननद और आने-जाने वालों के ताने। पति से भी कहे तो कितना, क्योंकि वह दिन भर काम पर चले जाता था। रात को कुछ दुखड़ा रोती और मन ही मन घुटने लगी। एक दिन विमल की मां आई। उसने कुछ पूछा तो भी विमल कुछ न बोली। तभी घर में से किसी ने विमल को कहा कि न जाने कैसे घर की बहु उठा लाए, हमारा तो जीवन खराब करके रख दिया। यह सुनकर विमल का पति भी सन्न रह गया। 
 
पति ने विमल की मां को समझाया मेरे रहते आप चिंता न करें। अब संघर्ष दो लोगों का है। अकेली विमल का नहीं। इतना सुनने के बाद विमल की मां ने उससे सिर्फ एक ही बात कहीं बेटा हर चीज रो कर भी सहना है और हंस कर भी, तो बेहतर है, हंस कर सही जाए। साथ ही ज्यादा से ज्यादा चुप रहने की कोशिश करो, बेजा वार्तालाप विवादों को जन्म देते हैं। बस इस बात की दोनों पति-पत्नी ने गांठ बांध ली। दोनों माता-पिता बन चुके थे पर दोनों का संघर्ष जारी था। बस मौन रहकर अपने कर्तव्य निभाते रहे। धीरे-धीरे दोनों का बर्ताव लोगों की निगाह में चढ़ने लगा। परिजनों को ही लगने लगा कि दोनों बेहद सरल हैं। अब परिजन मिसाल देते हैं कि बहू हो तो विमल जैसी।
  
KHUL KE BOL(Share your Views)
 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

Email Print Comment