Home » Magazine » Career Mantra » Article Of Career Mantra

पहल करें और दूसरों के लिए रास्ता तैयार करें

एन. रघुरामन | Feb 21, 2013, 11:32AM IST
पहल करें और दूसरों के लिए रास्ता तैयार करें
अपना काम कुछ ऐसा होने की कल्पना कीजिए: आप कुछ घूंट अंदर लेते हैं, उसे मुंह के अंदर थोड़ी देर तक घुमाते हैं और फिर बेसिन में थूक देते हैं। इसके बाद इस पेय की गुणवत्ता के बारे में बताना शुरू कर देते हैं। लोग आपकी बातों को ध्यान से सुनते हैं, उसके नोट बनाते हैं और आपकी बातों पर तालियां बजाते हैं। अपनी बात खत्म कर आप लोगों से हाथ मिलाते हैं और इसी प्रक्रिया को फिर से दोहराने के लिए अगले शहर या देश के लिए निकल जाते हैं। इस काम के लिए लोग आपको पैसे भी देते हैं और आपके काम को टेस्टर नाम देते हैं। आप एक टी टेस्टर, कॉफी टेस्टर या फिर वाइन टेस्टर हो सकते हैं। सुनालिनी मेनन भारत की पहली महिला कॉफी टेस्टर हैं, जबकि शतबी बासु देश की पहली महिला बारटेंडर हैं। 
 
सुनालिनी रोज देखती कि उसके चाचा चाय की पत्तियों पर गर्म पानी उड़ेलते हैं, उसकी कुछ घूटों को मुंह में लेकर थोड़ी देर तक घुमाते हैं और फिर उसे बेसिन में उगल देते हैं। इसके बाद वे जल्दी से बाहर निकल आते हैं और टी इस्टेट की देखभाल करने वाले मैनेजर को जोर से चिल्लाकर कुछ बताते हैं। बातचीत के अंत में वे मैनेजर को यह सलाह देते हैं कि उसे अपने टी प्लांट्स के साथ क्या करना चाहिए। सुनालिनी उनके काम से इतना प्रभावित हुई कि वूमन्स क्रिश्चियन कॉलेज, चेन्नई से फूड टेक्नोलॉजी में एमएससी करने के बाद कॉफी बोर्ड में कॉफी टेस्टर बनने के लिए उसने परीक्षा दी और इसमें पहले स्थान पर रही। वर्ष 1970 में उसने असिस्टेंट कॉफी टेस्टर के रूप में काम शुरू किया और दो दशक तक अलग-अलग क्षेत्र, मौसम, मिट्टी और वातावरण में उपजाई जाने वाली कॉफी का अनुभव हासिल किया। 
 
इसके बाद उसने कॉफी लैब्स प्राइवेट लिमिटेड नामक एक कंपनी की शुरुआत की। यह एक अलग तरह का संगठन है जो भारत में पैदा होने वाली अलग-अलग तरह की कॉफी के स्वाद की समीक्षा करता है और उत्पादकों, निर्यातकों तथा उपभोक्ताओं को इसकी गुणवत्ता के बारे में बताता है। कंपनी कॉफी कंपनियों, किसानों और ब्लेंडर्स के साथ मिलकर काम करती है और आठ साल की मेहनत के बाद अब लाभ कमाने की हालत में आई है। एक महीने में कम से कम तीन देशों की यात्रा करना सुनालिनी के काम का हिस्सा है और कमोबेश यही हालत शतबी बासु की भी है। कुछ महीने पहले मैं सुनालिनी के साथ एक वाइन टेस्टिंग ट्रिप पर जॉर्जिया गया था। दुनिया के सबसे खूबसूरत देशों में शामिल जॉर्जिया पहले रूस का हिस्सा था और अब यूरोपीय संघ का एक अंग है। 
 
पहली चीज जो मैंने उसके मुंह से सुनी वो यह कि शराब कड़वे स्वाद की थी। 1970 के करीब इंडियन होटल मैनेजमेंट की डिग्री पूरी करने के बाद उसने मुंबई के ताज होटल से अपने कॅरिअर की शुरुआत की। उसने बारटेंडर के रूप में काम शुरू किया, हालांकि उस समय महिलाओं को यह काम करने की इजाजत नहीं थी, क्योंकि इसमें रात के समय भी देर तक रुकना पड़ता था। ताज होटल के प्रबंधन ने शराब के प्रति उसके ज्ञान और उसकी ललक को देखते हुए उसे घर से लाने-ले जाने की सुविधा उपलब्ध कराई। वह ग्राहकों के लिए जो भी ड्रिंक तैयार करती, उसकी एक बूंद का स्वाद खुद चखती, फिर उसे ग्राहकों को परोसती। फिर वह विस्तार से उन्हें बताती कि ड्रिंक कैसे तैयार किया गया है और इसमें कौन-सी चीजें मिलाई गई हैं। सच तो यह है कि एक समय ऐसा था, जब लोग पहले लाउंज में झांककर यह देखते थे कि ड्रिंक कौन बना रहा है। 
 
यदि वहां शतबी नजर आती, तभी लोग ड्रिंक का ऑर्डर देते। 25 साल की कड़ी मेहनत के बाद सुनालिनी और शतबी को अपने-अपने क्षेत्रों में कामयाबी मिली। यहां यह याद रखना जरूरी है कि इस बीच उनकी शादियां हुईं, दोनों ने अपने बच्चों को संभाला और लगातार आगे बढ़ती रहीं, जबकि उनके सामने कोई पुराना उदाहरण नहीं था। उन्हें आगे बढऩे का रास्ता पता नहीं था, लेकिन उन्होंने अपना रास्ता खुद तैयार किया। इन क्षेत्रों में कॅरिअर बनाने वाले युवा आज उनके बनाए रास्ते पर चल रहे हैं। इसका फायदा यह हुआ कि उन्हें अपने-अपने कार्यक्षेत्र में प्रयोग करने का मौका मिला और वे अलग-अलग चीजों को मिलाकर अपने उत्पादों को नया रूप देने में सफल रहे। गलतियां हुईं लेकिन उन्हें आसानी से माफ कर दिया गया क्योंकि कुछ नया करने वाले वे पहले लोग थे। 
 
फंडा य है कि... 
 
किसी नए क्षेत्र में पहली बार कदम बढ़ाने का अतिरिक्त फायदा यह होता है कि आप अपना रास्ता खुद तैयार कर सकते हैं। 
 
 
 
 
 
आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
4 + 7

 
विज्ञापन
 
Ethical voting

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

बिज़नेस

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment