Home » Magazine » Lakshya » NPTEL Free Engineer Cource

एनपीटीईएल इंजीनियरिंग की नि:शुल्क पढ़ाई

dainikbhaskar.com | Oct 11, 2012, 16:13PM IST
एनपीटीईएल इंजीनियरिंग की नि:शुल्क पढ़ाई
नेशनल प्रोग्राम ऑन टेक्नोलॉजी इन्हेन्स्ड लर्निग (एनपीटीईएल) आईआईटी और आईआईएससी का सम्मलित उपक्रम है, जो ऑनलाइन वेब और वीडियो कोर्स के माध्यम से इंजीनियरिंग, साइंस और ह्यूमैनिटीज स्ट्रीम में ईलर्निग की सुविधा उपलब्ध कराता है। फ्री ऑनलाइन कोर्सवेयर के माध्यम से एनपीटीईएल का उद्देश्य देश में इंजीनियरिंग शिक्षा को बढ़ाना है। http://nptel.iitm.ac.in/ पर वेब और वीडियो कोर्स बिल्कुल नि:शुल्क है। वहीं अगर कोई व्यक्ति सीडी ऑर्डर करता है तो उसकी कीमत 200 रुपए प्रति सीडी हो सकती है। इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि यहां आपको आईआईटी और आईआईएससी का शानदार स्टडी मटीरिअॅल उपलध हो जाता है और वह भी बिना किसी फीस के। आप इसे दुनिया के किसी भी कोने से एक्सेस कर सकते हैं, जिसके लिए आवश्यकता सिर्फ एक इंटरनेट कनेक्शन की है। 2003 से एनपीटीईएल नि:शुल्क ऑडियो व वीडियो लेक्चर उपलब्ध करा रही है। इसकी फंडिंग सरकार द्वारा की जा रही है।


भारतीय उच्च शिक्षा और संसाधनों के बीच के खाली स्थान को भरने के लिए एनपीटीईएल को तैयार किया गया था। तकनीकी की मदद से एनपीटीईएल टीम ने आईआईटी की प्रतिभाशाली फैकल्टी को भारत के सभी इंजीनियरिंग छात्रों व शिक्षकों तक पहुंचने में सक्षम बनाया है। इस प्रोजेक्ट का उद्देश्य सर्वश्रेष्ठ इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम सामग्री उपलब्ध करवाते हुए छात्रों की तैयारी के स्तर को ऊपर उठाना और श्रमशक्ति की कुशलताओं को बढ़ाना है। प्रोजेक्ट के पहले चरण में शामिल किए जाने वाले विषयों को निर्धारित करने के लिए एनपीटीईएल ने ऑल इंडिया काउंसिल ऑन टेक्निकल एजुकेशन से परामर्श किया कि कौनसे विषय देश भर के इंजीनियरिंग कॉलेजों में सबसे ज्यादा मांग में हैं। इस परामर्श के आधार पर कंटेंट तैयार किया गया। सातों आईआईटी और इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस, बेंगलुरु से एनपीटीईएल 350 से ज्यादा फैकल्टी सदस्यों का काम शामिल कर चुका है।


प्रोग्राम के दूसरे चरण में टीम अपने कंटेंट के स्रोतों में विविधिता लाने और उच्च युक्त कोर्सेज को जोड़ने की योजना पर काम कर रही है। वर्तमान में एनपीटीईएल अलग-अलग विषयों में करीबन 450 कोर्स प्रस्तावित कर रहा है, जिनमें से 250 नि:शुल्क वीडियो लेक्चर्स के जरिए उपलब्ध हैं। ये सभी कोर्स इंजीनियरिंग कोर्सेज के राष्ट्रीय पाठ्यक्रम का अनुसरण करते हैं। आईआईटी मद्रास के रसायन विज्ञान के प्रोफेसर और एनपीटीईएल प्रोजेक्ट वेब कोर्सेज के नेशनल कॉर्डिनेटर मंगल सुंदर कृष्णन के अनुसार, दिसम्बर तक 1200 कोर्स प्रस्तावित होंगे। इसलिए कोई भी छात्र सिविल इंजीनियरिंग या मैकेनिकल इंजीनियरिंग घर में बैठकर यू ट्यूब वीडियो के माध्यम से नि:शुल्क कर सकता है। एनपीटीईएल के पास 250 कोर्स के लिए 9,600 वीडियो हैं। विषयों में इलेक्ट्रॉनिक्स, मैकेनिकल, एरोस्पेस से लेकर सिविल इंजीनियरिंग आदि शामिल हैं। कृष्णन के अनुसार, कंटेंट सातों आईआईटी और आईआईएससी के 14,00 फैकल्टी मेंबर के द्वारा तैयार किया गया है। हमारे पास डिस्कशन फोरम हैं, जहां छात्र फैकल्टी मेंबर्स से सवाल पूछ सकते हैं। यह प्रोजेक्ट उन छात्रों के लिए बेहद मददगार है, जो अच्छे टीचर्स तक पहुंच नहीं रखते।
आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
9 + 7

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment