Home » Maharashtra » Nagpur » Mayawati Red Fort

तैयारी करो ताकि मैं 15 अगस्त पर लाल किले से भाषण दे सकूं: मायावती

भास्कर न्यूज | Feb 18, 2013, 02:00AM IST
तैयारी करो ताकि मैं 15 अगस्त पर लाल किले से भाषण दे सकूं: मायावती
नागपुर.  बसपा अध्यक्ष मायावती ने कहा कि विदर्भ  को अलग राज्य का दर्जा दिया जाए। रविवार को यहां आमसभा में बसपा प्रमुख  ने प्रधानमंत्री पद के लिए अपनी महत्वाकांक्षाओं को खुलकर जाहिर किया है।
 
उन्होंने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया, ‘अगले आम चुनाव की तैयारी करो ताकि मैं 15 अगस्त पर लाल किले से भाषण दे सकूं।’ उन्होंने ऐसी ताकतों से आगाह भी किया जो उन्हें लोकसभा व विधानसभा चुनाव के दौरान भ्रष्ट करने की कोशिश कर सकती हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि बिकाऊ सामग्री न बनें। 
 
मायावती ने कहा कि यदि बसपा को महाराष्ट्र में सत्ता मिलेगी तो यहां भी उत्तरप्रदेश की तरह महापुरुषों के बड़े स्मारक बनाए जाएंगे।  मायावती ने सरकारी नौकरियों में पदोन्नति में आरक्षण की राह में भाजपा और कांग्रेस को रोड़ा बताया। कहा कि बसपा सत्ता में आई तो इसे लागू करेगी। उन्होंने कहा कि पदोन्नति में आरक्षण के उत्तरप्रदेश सरकार के फैसले को सुप्रीम कोर्ट ने रद्द किया। केंद्र सरकार चाहती तो इसके खिलाफ यूपीए सरकार पुनर्विचार याचिका लगा सकती थी। लेकिन उसने ऐसा नहीं किया। उन्होंने कार्यकर्ताओं से दोनों पार्टियों से दूरी बनाकर रखने को कहा।
 
मिशन दिल्ली
 
मायावती ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि उनकी तैयारी नकली के बजाय असली लाल किले से भाषण देने की तैयारी होनी चाहिए। सभा स्थल पर लाल किला की प्रतिकृति बनाई गई थी। मायावती को भावी प्रधानमंत्री के रूप में पेश किया गया। मायावती के समर्थन में भावी प्रधानमंत्री के तौर पर होर्डिग्स लगाए गए और नारेबाजी भी की गई। 
 
नसीहतें भी
 
 चुनावी आश्वासनों व प्रलोभनों में न फंसें
  मीडिया से सावधान रहें।
दलितों के प्रति मानसिकता नहीं बदली है। आपकी ताकत बढ़ती देख आपको गलत मामलों में फंसाया जा सकता है। 
 
माया की बड़ी बातें
 
आरक्षण
 
 कांग्रेस व भाजपा के बीच अंदरूनी साठगांठ है। नए-नए कानून सामने लाकर आरक्षण खत्म किया जा रहा है।
 प्रमोशन में कोटे का मुद्दा कांग्रेस ने लटकाकर रखा है।
 नौकरी में पदोन्नति के मामले में दोनों दलों की भूमिका  आरक्षण विरोधी है।
 
नक्सली
 
 जातीय मामले में पिछड़े तबके को सरकार सहूलियतें नहीं दे पा रही है। 
 बेरोजगार नक्सली बनने लगे हैं या फिर गलत मार्गो पर जा रहे हैं।   
 आदिवासियों की जमीन पूंजीपतियों को दी जा रही है।जिससे नक्सवाद बढ़ रहा है।
 
भ्रष्टाचार
 
 देश में हो रहे भ्रष्टाचार का सीधा असर कमजोर वर्ग पर पड़ रहा है। महाराष्ट्र भी भ्रष्टाचार से अछूता नहीं है।
 भ्रष्टाचार पर अंकुश नहीं है। हेलिकॉप्टर खरीदी घोटाले में आरोपियों को कड़ी सजा दी जानी चाहिए। 
 अब महाराष्ट्र में भी कमजोरों को न बिकनेवाला समाज बनाया जाएगा।
 
विचारधारा
 
 महात्मा फुले, शाहू महाराज, बाबा साहब आंबेडकर की विचारधारा पर जोर।
 इन महापुरुषों के 100-100 एकड़ में स्मारक बनाए जाएंगे।
 
राजनीति
 
 पार्टी सत्ता में आई तो महाराष्ट्र में अन्य राज्य के लोगों के साथ दोहरा व्यवहार नहीं होगा। मुंबई में उत्तरप्रदेश या अन्य राज्यों के लोग शांति से रहेंगे।  
 
समाज
 
समाज के विकास के लिए यूपी पैटर्न अपनाया जाएगा।
 कमजोर वर्गो को विकास में विशेष प्राथमिकता दी जाएगी। 

 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
8 + 6

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment