Home » Maharashtra » Mumbai » Shivsena Wants A Film On Bal Thackeray

बाल ठाकरे की ज़िंदगी को पर्दे पर उतारना चाहते हैं उद्धव

dainikbhaskar.com | Dec 17, 2012, 13:54PM IST
मुंबई. शिवसेना के संस्थापक बाल ठाकरे की ज़िंदगी जल्द ही सिल्वर स्क्रीन पर देखी जा सकती है। बाल ठाकरे के निधन के बाद इनदिनों उनके बेटे और शिवसेना के कार्यकारी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे मुंबई के कई फिल्मकारों के साथ बाल ठाकरे पर आधारित फिल्म बनाने पर बातचीत कर रहे हैं। उद्धव ने हाल के दिनों में मुंबई के चार फिल्मकारों को अपने आवास 'मातोश्री' पर आमंत्रित कर फिल्म की संभावनाओं पर विचार किया। ठाकरे परिवार बाला साहब पर संभावित फिल्म के लिए शीर्ष निर्देशक के अलावा यह चाहता है कि वह व्यक्ति परिवार के नजदीक हो ताकि अपनी फिल्म में वह बालासाहब को 'सही नजरिए' से पेश कर सके।  
 
ठाकरे परिवार के नजदीकी सूत्र ने कहा, 'पिछले दस दिनों में बॉलीवुड के कई नामी निर्देशकों ने मातोश्री का दौरा किया और बाला साहब पर फिल्म बनाने को लेकर चर्चा की। इनमें मधुर भंडारकर, राम गोपाल वर्मा, महेश मांजरेकर और शिवसेना के नेता और फिल्मकार बने अजीत पेंसे शामिल हैं। इन सभी को उद्धव ने डिनर पर बुलाया और फिल्म पर चर्चा की।' सूत्रों के मुताबिक ठाकरे परिवार में आम तौर पर मांसाहारी मराठी भोजन बनता है। लेकिन बाल ठाकरे के निधन की वजह से ठाकरे परिवार शाकाहारी भोजन कर रहा है और यही वजह है कि चारों निर्देशकों को भी शाकाहारी भोजन परोसा गया। 
 
 
'मातोश्री' में बनने वाली मटर उसल (हरी मटर करी) पसंद करने वाले महेश मांजरेकर बीते गुरुवार को उद्धव ठाकरे से मिलने गए थे। इस मुलाकात के बारे में मांजरेकर ने कहा, 'बाला साहब पर फिल्म बनाने का प्रस्ताव मुझे मिला था। लेकिन मैं दो हिंदी फिल्मों-'हिम्मतवाला' और 'शूटआउट एट वडाला' में एक्टिंग कर रहा हूं। इसके अलावा मेरी अगली मराठी फिल्म की शूटिंग शुरू होने जा रही है। इसलिए थोड़ा व्यस्त हूं। लेकिन फिल्म बनाने के लिए बालासाहब एक अच्छा विषय हैं। उन पर कौन फिल्म बनाना नहीं चाहेगा?'  
 
 
शिवसेना की चित्रपट शाखा के प्रमुख और फिल्म निर्देशक पेंसे ने भी बाल ठाकरे पर फिल्म बनाने में दिलचस्पी ली है। सूत्र के मुताबिक, 'वह अभी मराठी फिल्म की शूटिंग कर रहे हैं। लेकिन उन्होंने रश्मि ठाकरे से मुलाकात कर संभावित फिल्म के लिए दावेदारी पेश की है।' पेंसे ने ठाकरे परिवार से हुई मुलाकात की पुष्टि नहीं की है। लेकिन शिवसेना के नेताओं का कहना है कि बाल ठाकरे के जीवन पर आधारित फिल्म बनाने का सुझाव पेंसे ने ही दिया था। 
 
 
मुंबई में क्रिकेट की 'नर्सरी' माने जाने वाले शिवाजी पार्क को बाल ठाकरे के स्मारक के तौर पर तब्दील करने पर सरकार के एतराज के बाद उद्धव ठाकरे की उम्मीदों को झटका लगा है। शिवसेना के एक वरिष्ठ नेता ने इस बारे में कहा,  'अगर 2014 के चुनावों से पहले बाल ठाकरे पर आधारित फिल्म रिलीज कर दी गई तो यह राज ठाकरे के खिलाफ बड़ा राजनीतिक ट्रंप कार्ड होगा। उद्धव ठाकरे भी अगले आम चुनाव से पहले फिल्म को रिलीज करना चाहता हैं।'  शिवसेना के एक अन्य नेता ने कहा, 'शिवाजी पार्क में बाल ठाकरे का स्मारक बनाने की उद्धव ठाकरे की कोशिश को मध्य वर्गीय महाराष्ट्रीयन परिवारों ने बहुत कम समर्थन दिया। शायद यही वजह है कि कई लोगों को (पार्टी के) लगता है कि बाल ठाकरे के जीवन पर आधारित फिल्म का व्यापक असर होगा।'  
 
आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
9 + 9

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment