Home » Madhya Pradesh » Bhopal » News » Bhopal Gas Kand

भोपाल गैस कांड : अमेरिकी कोर्ट का फैसला

Dainik Bhaskar News | Jun 29, 2012, 05:51AM IST
भोपाल गैस कांड : अमेरिकी कोर्ट का फैसला
न्यूयॉर्क/भोपाल। 1984 में भोपाल गैस कांड से हुए नुकसान के लिए यूनियन कार्बाइड कॉरपोरेशन (यूसीसी) और उसके चेयरमैन वारेन एंडरसन जिम्मेदार नहीं हैं। ये फैसला सुनाते हुए अमेरिकी अदालत ने कहा कि पर्यावरण संबंधी नुकसान की भरपाई कंपनी या एंडरसन से नहीं कराई जा सकती। मामला मैनहटन के डिस्ट्रिक्ट जज जॉन कीना के कोर्ट में चल रहा है।

अदालत ने भोपाल प्लांट के आसपास की जमीन और पानी प्रदूषित करने के आरोपों को भी खारिज कर दिया। कोर्ट ने कहा कि भोपाल प्लांट में रखे जहरीले कचरे को नष्ट करना यूनियन कार्बाइड इंडिया लिमिटेड की जिम्मेदारी है। एंडरसन या पैरेंट कंपनी यूसीसी की नहीं। पीने के पानी से संबंधित समस्याओं के लिए जवाबदेही राज्य सरकार की है।

जानकी बाई साहू ने लगाई थी अर्जी

गैस कांड की पीड़ित जानकी बाई साहू एवं अन्य ने मुकदमा दायर किया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि जहरीले कचरे की वजह से जमीन और पेयजल व्यवस्था प्रदूषित हो रही है। भोपाल प्लांट के आसपास की रहवासी कॉलोनियों में पीने के पानी की आपूर्ति प्रभावित हो रही है। लोग बीमार हो रहे हैं।

कोर्ट ने कहा है कि कचरे को नष्ट करने पर यूसीआईएल ने यूसीसी से विचार-विमर्श किया था। हालांकि, यह साबित नहीं हो सका कि याचिकाकर्ताओं की शिकायत दूर करने के लिए यूसीसी की अनुमति जरूरी थी। इसके भी सबूत नहीं है कि यूसीआईएल ने यूसीसी की ओर से किसी तरह का समझौता या व्यावसायिक लेन-देन किया।
आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
1 + 5

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment