Home » National » Latest News » National » Helicopter Scam: Front Company IDS India That Routed Rs 140 Cr Bribe Does Not Exist

हेलिकॉप्टर आपूर्ति मामला : रिश्वत के लिए अलग रख दिए थे 217 करोड़ रुपए

एजेंसी | Feb 15, 2013, 08:18AM IST
हेलिकॉप्टर आपूर्ति मामला : रिश्वत के लिए अलग रख दिए थे 217 करोड़ रुपए
नई दिल्ली. सरकार ने अगस्‍ता वेस्‍टलैंड से 12 वीवीआईपी हेलिकॉप्‍टरों की डील रद्द करने की प्रकिया शुरू कर दी है। रक्षा मंत्रालय ने इसके साथ ही कंपनी को 'कारण बताओ' नोटिस जारी करते हुए 7 दिनों की मोहलत दी है। भारत ने इटली से फिर मांगी जानकारी है। रक्षा मंत्रालय ने घूस लेने वालों की जानकारी मांगी है। बताया जा रहा है कि संसद के बजट सत्र से ऐन पहले सरकार यह कदम उठाकर विपक्ष को हंगामा करने का कोई मुद्दा नहीं देना चाहती है। लेकिन बीजेपी सहित पूरा विपक्ष सरकार का पीछा नहीं छोड़ रहा है!
 
बीजेपी ने अब इस मामले में कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी के करीबी कनिष्‍क सिंह, हैश्‍के और एमार एमजीएफ की भूमिका की जांच की मांग की है। बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने यह मांग करते हुए सीबीआई को चिट्ठी भी लिखी है। हेलीकॉप्‍टर घोटाले में बिचौलिया जी. राल्‍फ हैश्‍के का नाम आया है जो एमार एमजीएफ में डायरेक्‍टर था। कनिष्‍क के पिता और पूर्व विदेश सचिव एस के सिंह की एमार एमजीएफ में हिस्‍सेदारी थी। हैश्‍के ने कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स घोटाला सामने आने के बाद एमार एमजीएफ का साथ छोड़ दिया था। कनिष्‍क अक्‍सर राहुल गांधी के साथ दिखाई देते हैं। कनिष्‍क के पिता एस के सिंह राजस्‍थान के राज्‍यपाल भी रह चुके हैं।
 
बवाल बढ़ता देख एमार एमजीएफ ने हैश्‍के से रिश्‍तों पर सफाई दी है। कंपनी का कहना है कि अब उसका हैश्‍के से कोई रिश्‍ता नहीं है। हैश्‍को के अनुभव को देखते हुए कंपनी में जगह दी गई थी। हैश्‍के दो महीने तक ही डायरेक्‍टर रहे और उन्‍होंने बोर्ड की एक भी मीटिंग में हिस्‍सा नहीं लिया।
 
वहीं, शिव सेना प्रवक्‍ता संजय राउत ने कहा कि बोफोर्स तोप घोटाले में गांधी परिवार के करीबी इटली के क्‍वात्रोच्चि का नाम दलाल के तौर पर आया था जो सोनिया गांधी का मुंहबोला भाई बताया जाता है। बोफोर्स कांड की जांच कर रही सीबीआई ने क्‍वात्रोच्चि को क्‍लीन चिट दे दी थी।
 
राज्यसभा के उपसभापति पीजे कुरियन को लेकर पहले से घिरी कांग्रेस की अगुवाई वाली यूपीए सरकार की मुश्किल कम होती नहीं दिख रही है। बीजेपी ने हेलिकॉप्टर खरीद घोटाले में रिश्‍वतखोरी के मामले में कांग्रेस नीत यूपीए सरकार को निशाने पर लिया है। विपक्षी दलों ने यह भी कहा है कि उसे सीबीआई जांच पर भरोसा नहीं है और इसकी न्‍यायिक जांच  होनी चाहिए।
 
बीजेपी प्रवक्‍ता प्रकाश जावडेकर ने किसी का नाम लिए बिना सरकार पर निशाना साधा। उन्‍होंने सवालिया लहजे में कहा, 'देश केवल यही जानना चाहता है, कि किसने खाया, कितना खाया। यानी सुषमा स्‍वराज की भाषा में कहें तो मोटा माल किसको मिला और कितना मिला?'
 

15 फरवरी की खास खबरें
PHOTOS: रूस में आसमान से बरसा 'बम', 500 जख्‍मी
बसंत पंचमी के शाही स्नान पर दिखा अलग नजारा
भोजशाला में सरस्‍वती पूजा के लिए जुटे हिंदू, दोपहर में नमाज
फाइनेंस मिनिस्टर नहीं ये 6 लोग मिलकर बनाते हैं 122 करोड़ का बजट
अमेरिकी संसद में बजा मोदी का डंका
दिल्‍ली में छह साल की बच्‍ची से रेप, फिर बुरी तरह पिटाई  
दलेर मेहंदी के फॉर्म हाउस पर लिया कब्जा
हेलिकॉप्‍टर घोटाले में जसंवत सिंह और बर्लुस्कोनी उतरे बचाव में 

 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
6 + 1

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment