Home » National » Latest News » National » Scores Die As Cold Hits India

उत्तर भारत में ठंड का कहर जारी, यूपी में अब तक 116 मरे

एजेंसी | Jan 04, 2013, 07:36AM IST
उत्तर भारत में ठंड का कहर जारी, यूपी में अब तक 116 मरे
नई दिल्ली। राजधानी दिल्‍ली में शुक्रवार तड़के तापमान 2.7 डिग्री तक पहुंच गया। तापमान में गिरावट आने से पूरा उत्तर भारत हाड़ कंपा देने वाली ठंड की गिरफ्त में है। बीते 24 घंटों में उत्तर प्रदेश में भारी ठंड की चपेट में आकर और नौ लोगों की मौत हो गई। इसी के साथ राज्य में सर्दी के इस मौसम में मरने वालों की संख्या बढ़कर 116 हो गई है। दूसरी ओर, दिल्‍ली में भी लगातार तापमान नीचे जाता जा रहा है। जिसके कारण यहां जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो गया है। (तस्‍वीरों में देखें ठंड का प्रकोप)
 
गुजरात में भारी ठंड से एक 50 वर्षीय महिला समेत चार लोगों ने दम तोड़ दिया। दिल्ली में दिनभर लोग कड़ाके की सर्दी से कांपते रहे। यहां दिन में अधिकतम तापमान 12.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान 4.4 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस कम है। 
 
पंजाब हरियाणा में भी कड़ाके की ठंड से सामान्य जनजीवन अस्त-व्यस्त है। दोनों राज्यों के कई हिस्सों में न्यूनतम तापमान चार डिग्री के आसपास चल रहा है। यह सामान्य से चार डिग्री कम है। 
 
जमने लगी डल झील 
 
जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में बुधवार रात का तापमान शून्य से चार डिग्री सेल्सियस नीचे चले जाने से डल झील के किनारों का पानी पूरी तरह जम गया है। बीच-बीच में भी आंशिक रूप से पानी जमा है। मौसम विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि जम्मू-कश्मीर में अगले 24 घंटों में ठंड में कोई कमी आने के आसार नहीं हैं। हालांकि इस दौरान मौसम शुष्क रहेगा। अगले दो दिन के दौरान भी मौसम में कोई बड़ा बदलाव आने का अनुमान नहीं है। कश्मीर घाटी और लद्दाख में न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे रहने के कारण कड़ाके की ठंड पड़ रही है। उन्होंने बताया कि श्रीनगर और निकटवर्ती इलाकों में नलों, नालों और अन्य जलाशयों में पानी जम गया है। हालांकि सूरज की लुका-छिपी के साथ कहीं-कहीं बर्फ पिघलने भी लगी है। प्रवक्ता ने बताया कि श्रीनगर में शुक्रवार को आकाश में बादल के साथ कोहरा छाए रहने का अनुमान है।
 
पंजाब: प्राइमरी स्कूलों में छुट्टियां बढ़ी 
 
शिक्षा विभाग ने राज्य में बढ़ रही ठंड के चलते सरकारी और सहायता प्राप्त सभी प्राइमरी स्कूलों की छुट्टियां 6 जनवरी तक बढ़ा दी हैं। दिल्‍ली में भी 12 जनवरी तक सारे स्‍कूल बंद कर दिए गए हैं।
 
राजस्थान : माउंट आबू में पारा शून्य 
 
राजस्थान के माउंट आबू में पारा शून्य डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जबकि बीकानेर में पारा 0.4 रहा। चुरु शहर में कड़ाके की ठंड ने आम जन जीवन को प्रभावित कर दिया है। पारे में बुधवार की अपेक्षा गुरुवार को मामूली बढ़ोतरी हुई और वह २.२ डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया।  जयपुर में भी ओस की बूंदें जम गईं। कड़ाके की ठंड के कारण लोग देरी से घर से बाहर निकल रहे हैं। दुकानें 1० बजे बाद खुल रही हैं। चुरु के जिला कलेक्टर रोहित गुप्ता ने गुरुवार को प्राथमिक स्कूलों को ६ जनवरी तक बंद करने के आदेश दिए है तथा सोमवार को स्कूलों के समय में परिवर्तन के आदेश दिए हैं। 
 

मध्यप्रदेश में फिर लुढ़का पारा 
 
मध्य प्रदेश में मौसम साफ रहने से गुरुवार को अधिकांश स्थानों पर पारा फिर से लुढ़कने लगा है और ठिठुरन बढ़ गई है। प्रदेश में सबसे कम ३ डिग्री सेल्सियस तापमान टीकमगढ़, गुना और मुरैना में रिकार्ड किया गया है। मुरैना और ङ्क्षभड में हाड़कंपाने वाली सर्द हवाएं चल रही हैं। रीवा, खजुराहो, दतिया और पर्वतीय स्थल पचमढ़ी में ४.४ डिग्री तापमान रहा। ठंड से यहां भी लोग कांपते रहे।
 
उत्तर से आ रही ठंडी हवाओं ने मप्र की राजधानी भोपाल की फिजा में भी ठंडक घोल दी है। इसके चलते गुरुवार इस सीजन का सबसे ठंडा दिन रहा। जबकि न्यूनतम और अधिकतम दोनों ही तापमान में दो डिग्री सेल्सियस से ज्यादा की गिरावट रही। 
 
मौसम केंद्र के मुताबिक गुरुवार को अधिकतम तापमान २१.६ डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। यह सामान्य से दो डिग्री कम था। बुधवार को अधिकतम तापमान २३.२ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। न्यूनतम तापमान ९ डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। यह सामान्य से एक डिग्री कम था। जबकि बुधवार को यह ११.२ डिग्री दर्ज किया गया था। मौसम केंद्र के निदेशक डीपी दुबे ने बताया कि पूर्वी मप्र में बना हुआ ऊपरी हवा का चक्रवात खत्म हो गया है। इससे अब हवाओं की दिशा उत्तर और उत्तर-पूर्वी हो गई है। इसी वजह से कश्मीर में बर्फबारी शुरू होने से शहर में ठंडी हवा आ रही है। हवाएं उत्तरी होने के कारण अब तापमान में तेजी से गिरावट आएगी। आगामी दो-तीन दिनों में शीतलहर चलने की संभावना है। 
 
मप्र में सुबह दिल्ली से भोपाल आने वाली जेट एयरवेज की उड़ान गुरुवार को रद्द हो गई। दिल्ली से विमान की अनुपलब्धता की वजह से ऐसा हुआ। जेट एयरवेज के अधिकारियों ने बताया कि खराब मौसम की वजह से बुधवार रात को भोपाल से दिल्ली जाने वाली जेट एयरवेज की फ्लाइट रद्द हो गई थी। यही फ्लाइट सुबह दिल्ली से भोपाल लौटकर आती है, लेकिन रात में इसके दिल्ली न पहुंचने की वजह से फ्लाइट को रद्द करना पड़ा। 
 
दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में पड़ रहे कोहरे के कारण अभी भी उस ओर से आने वाली ट्रेनें 18 घंटे तक की देरी से चल रही हैं। गुरुवार को भोपाल एक्सप्रेस 6 घंटे की देरी से आई। गोरखपुर-एलटीटी कुशीनगर डेढ़, संपर्क क्रांति एक्सप्रेस दो घंटे की देरी से आईं। वहीं, कामायनी एक्सप्रेस 3.13 घंटे, तमिलनाडु व मालवा 4.30, जीटी 5 घंटे, कर्नाटक एक्सप्रेस 5.30, भोपाल एक्सप्रेस 6 घंटे, श्रीधाम एक्सप्रेस 13 घंटे और गोंडवाना एक्सप्रेस 18 घंटे की देरी से यहां पहुंचीं। 
 
PHOTO : दिल्‍ली जयपुर हाइवे की एक तस्‍वीर

 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
9 + 4

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment