Home » Trending On Web » Delhi Gangrape Case Trending

ट्विटर पर ट्रेंडिंग बना दिल्ली गैंगरेप फैसला

Dainikbhaskar.com | Sep 13, 2013, 17:24PM IST
ट्विटर पर ट्रेंडिंग बना दिल्ली गैंगरेप फैसला

16 दिसंबर 2012 को चलती बस में 23 वर्षीय छात्रा के साथ गैंगरेप और हत्या मामले में दोषी ठहराए गए चार युवकों को फांसी की सजा सुनाई गई है। 10 सितंबर को फास्ट ट्रैक कोर्ट ने मुकेश (26), पवन (19), विनय (20) और अक्षय (28) को हत्या, गैंगरेप, डकैती, सबूत नष्ट करने सहित 11 अपराधों में दोषी ठहराया था।

जिस वक्‍त यह सजा सुनाई जा रही थी उस वक्‍त चारों दोषी और बलात्‍कार की शिकार 'दामिनी' के माता-पिता भी मौजूद थे। अदालत का फैसला आने के बाद विनय फूट-फूट कर रोने लगा और जज मुझे माफ कर दो की गुहार लगाने लगा। एक और दोषी अक्षय के वकील एपी सिंह ने कोर्ट रूम में ही हंगामा शुरू कर दिया। उन्होंने कहा, ‘यह सत्यमेव जयते नहीं झूठमेव जयते पर आधारित फैसला है।

चार आरोपियों को 10 सितंबर को दोषी करार दिया गया था। 11 सितंबर को उनकी सजा पर बहस हुई थी। उस दिन बचाव पक्ष के वकीलों पर लोगों द्वारा हमले की घटना के बाद शुक्रवार को दिल्‍ली पुलिस ने साकेत कोर्ट परिसर में और आसपास सुरक्षा के कड़े बंदोबस्‍त किए थे।


आज सुबह से ही दिल्ली गैंगरेप मामले में सजा सुनाए जाने का मामला ट्विटर और अन्य सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर ट्रेंडिंग बना हुआ है। बहुत से ट्विटर यूजर्स ने फांसी की सजा को सही ठहराया है। वहीं कुछ यूजर्स फांसी की सजा को अमानवीय बताते हुए इसका विरोध भी कर रहे हैं। 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
8 + 5

 
विज्ञापन
 
Ethical voting

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

बिज़नेस

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment