Home » Uttar Pradesh » Lucknow » News » EXCLUSIVE: Damini's Story, His Uncle's Commendation

EXCLUSIVE: दामिनी की कहानी, उसके चाचा की जुबानी

सन्मय प्रकाश | Dec 30, 2012, 09:27AM IST
EXCLUSIVE: दामिनी की कहानी, उसके चाचा की जुबानी

लखनऊ. दिल्‍ली में गैंगरेप की शिकार 23 वर्षीय छात्रा के जिंदगी की जंग हार जाने से जहां गांव ने अपनी लाडली को खो दिया, वहीं दूसरी ओर दो भाइयों ने अपनी ट्यूटर बहन से जुदा हो गई। ‘दामिनी’ अपने भाइयों की खुद ही ट्यूशन देती थी। भाइयों की गाइड बन चुकी दामिनी को हमेशा उनकी फिक्र रहती थी। उसके चाचा यह बताते हुए फफक-फफक कर रो पड़े। कुछ संभले और उनकी जुबान थम गई। आंख में आंसू और चेहरा पत्‍थर सा हो गया।
 

बलिया स्थित अपने गांव में दामिनी पांच साल पहले एक शादी में शरीक होने आई थी। इसके लिए उसने मेडिकल के दाखिले की तैयारी से बमुश्किल से थोड़ा वक्‍त निकाला था। वह चार दिन यहां रुकी थी। अब गांव के लोग उसका चेहरा नहीं देख पाएंगे। लोगों के पास उत्‍सव और दामिनी की धुंधली यादें बची हैं।
 
 
स्लाइड में पढ़िए पूरी कहानी...

 


महिलाओं के सम्मान करने का लें संकल्प


भारत का युवा इंडिया गेट से लेकर राष्ट्रपति भवन तक प्रदर्शन कर रहा है। कानून जब बनेगा, तब बनेगा। महिलाओं के खिलाफ अपराध तब रूकेंगे जब हम उनकी दिल से इज्जत करेंगे। इस बार इसी संकल्प को करने का मौका है, हमारे महाअभियान से जुड़कर। हमारे इस महाअभियान से जुड़िए और संकल्प लीजिए कि मैं महिलाओँ का सम्मान करूंगा।


 


 


इसे भी पढ़ें: 


दस दस ब्‍वॉयफ्रेंड रखकर करती हो प्रदर्शन: यूपी पुलि‍स 


दामि‍नी की मौत के बाद जानि‍ए उसके गांव का हाल 


दि‍ल्‍ली गैंगरेप आरोपि‍यों को फांसी न मि‍ली तो मार देंगे गोली 


पीड़ि‍ता के इलाज पर मायावती ने उठाए सवाल 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
3 + 1

 
विज्ञापन
 
Ethical voting

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

बिज़नेस

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment