Home » Chhatisgarh » Raipur » जब सबसे बड़े साहब खड़े हो गए मंत्रालय के गेट पर

जब सबसे बड़े साहब खड़े हो गए मंत्रालय के गेट पर

rakesh malviya | Dec 08, 2012, 12:18PM IST

रायपुर । छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव सुनील कुमार ने शुक्रवार को फिर महानदी मंत्रालय में छापामार शैली में निरीक्षण किया। खास बात यह कि आज उन्होंने किसी भी अधिकारी-कर्मचारी से कुछ नहीं कहा। इसी वजह से मंत्रालयीन स्टाफ में सस्पेंस कायम है और वे तरह-तरह के कयास लगा रहे हैं।
मुख्य सचिव हर बार की तरह आज भी कर्मचारियों से पहले मंत्रालय पहुंच गए थे। ठीक सुबह 10 बजे वे गेट नंबर - डी पर पहुंच गए, जहां से आम जनता व कर्मचारी आते जाते हैं के सामने पहुंच गए। थोड़ी देर बाद सड़क तक गए और बसों के रुकने के स्थान पर पहुंच गए। तब कर्मचारियों को लेकर आने वाली बसें आना प्रारंभ हुई थीं।

वे चुपचाप खड़े होकर कर्मचारियों को बस से उतरते व मंत्रालय के अंदर जाते देखते रहे।
कर्मचारियों ने देखा कि मुख्य सचिव खड़े हैं तो एकबारगी तो वे हड़बड़ा गए, फिर सलाम ठोकते हुए तेजी से अंदर जाने लगे। कुमार एक बस के पास पहुंचे और उसके ड्राइवर से कुछ पूछताछ की। वे थोड़ी देर आसपास टहलते रहे और फिर पोर्च में आकर खड़े हो गए।

तब तक कर्मचारियों का पहुंचना जारी था। दिलचस्प यह कि कुमार के साथ न तो कोई गार्ड था न ही कोई पीए। थोड़ी देर में सीएस इन्फ्रेलरी ब्लॉक में पहुंच गए। यहां पोस्ट आफिस, बैंक, कंट्रोल रूम आदि हैं। भूतल के इस इलाके में भी मुआयना करते रहे।
उसके बाद वे लिफ्ट से सेकंड फ्लोर पहुंचे। वहां भी वे कई विभागों में घूमे। शाम तक किसी को नोटिस जारी नहीं होने की खबर से कर्मचारियों ने राहत की सांस ली।

कुमार इससे पहले भी मंत्रालय का अचानक मुआयना कर चुके हैं। तब उन्होंने हाजिरी रजिस्टर से लेकर सचिवों के कमरे तक कदम रखा था। दर्जनों कर्मचारियों को नोटिस जारी हुई थी। अफसरों को भी हिदायत दी गई थी। पिछले हफ्ते वे एक अफसर के साथ कैंटीन में खाने व चाय की क्वालिटी जांचने पहुंच गए थे।

Modi Quiz
आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
10 + 8

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment