Home » Chhatisgarh » Raipur » देश के दूसरे शिमला की इन खूबसूरत तस्वीरों को देखकर आप भी कहेंगे वाह

देश के दूसरे शिमला की इन खूबसूरत तस्वीरों को देखकर आप भी कहेंगे वाह

dilip jaiswal | Dec 21, 2012, 11:40AM IST

रायपुर। मैनपाट को छत्तीसगढ़ का शिमला कहा जाता है। इन दिनों यहां का मौसम बेहद खूबसूरत है। पौधों पर जमी ओस की बूंदें खूबसूरती को और बढ़ा रही हैं। इसके साथ ही यहां बर्फ भी जमा हो जाती है जो सुबह आठ बजे तक जमी रहती है। वहीं कोहरे के कारण दिन में भी लोग कार और मोटरसाइकल की लाइट जलाकर चल रहे हैं। यहां का प्राकृतिक वातावरण पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित कर रहा है।
फोटो में देखिए मैनपाट की खूबसूरती
यह फोटो हमें भास्कर डॉट कॉम के पाठक कमलेश सिंह ने मैनपाट से उपलब्ध कराए हैं।
मैनपाट की दूरी छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से ३८० किलोमीटर है। अंबिकापुर के दरिमा स्थित हवाई अड्डा से मैनपाट की दूरी महज ४० किलोमीटर है।

यहां की पहाड़ी से आप बादलों को अपने बेहद करीब होने का अहसास कर सकते हैं।
बर्फ इतना गिर रहा है कि पेड़ पौधों की पत्तियों में जमा ओस की बूंदे बर्फ बन जा रही हैं।
नए साल में यहां होने वाले मैनपाट उत्सव में शामिल होकर आप अपनी खुशियां दोगुनी कर सकते हैं। इसका आयोजन जिला प्रशासन करता है।
मैनपाट एडवेंचर्स के लिहाज से भी बेहद उत्तम जगह है।
पर्यटक यहां गर्मी के मौसम में सबसे अधिक संख्या में पहुंचते हैं तो ठंड का मजा लेने वाले पर्यटक दिसंबर और जनवरी महीने में।
यहां सरसों की खेती की जाती है। इसके फूल से ढंकी धरती को देखकर आप मुग्ध हो सकते हैं।
मैनपाट शरणार्थी तिब्बतियों के कारण देश के मानचित्र में अलग पहचान बनाता है।
यहां का फीस प्वाइंट जल प्रपात पिकनिक स्पाट के रूप में जाना जाता है। यही प्रपात आगे चलकर नदी बन जाती है। मैनपाट से ही रेहड नदी और महान नदी का उद्गम माना जाता है।






 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
7 + 9

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment