Home » Jharkhand » Ranchi » News » कभी इन्हीं मैदानों पर लगते थे हेलीकॉप्टर शॉट, फिर बन गए 'सिक्सर किंगÓ

कभी इन्हीं मैदानों पर लगते थे हेलीकॉप्टर शॉट, फिर बन गए 'सिक्सर किंगÓ

Pankaj Saw | Jan 17, 2013, 15:20PM IST

रांची। रांची की पहचान बन चुके महेंद्र सिंह धोनी उन सौभाग्यशाली क्रिकेट कप्तानों में से एक हैं जिन्हें अपने गृह नगर में बतौर कप्तान अपना जलवा बिखेरने का मौका मिला है। 19 जनवरी को होने वाले भारत-इंग्लैंड के बीच वनडे मैच के लिए कल शाम रांची पहुंचने पर दोनों टीमों का जोरदार स्वागत शहरवासियों ने किया।


 


क्रिकेट की दीवानगी की हद तक जाने वाला यह वही शहर है जिसने माही जैसा कप्तान टीम इंडिया को दिया। अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी की वजह से सिक्सर किंग कहलाने वाले माही कभी रांची के मैदानों में हेलीकॉप्टर शॉट लगाया करते थे। क्रिकेट ही नहीं फुटबॉल में भी धोनी का जलवा इतना था कि स्कूल की अपनी फुटबॉल टीम में गोलकीपर थे।
धोनी के पिता पान सिंह मेकॉन में कर्मचारी थे और पूरा परिवार मेकॉन कॉलोनी में मिले क्वार्टर में रहता था। कॉलोनी का यह मैदान जो मेकॉन ग्राउंड के नाम से जाना जाता है, धोनी के बचपन और किशोरावस्था में उसकी करामाती खेल प्रतिभा का गवाह है। शहर के डीएवी जवाहर विद्या मंदिर, श्यामली से पढ़ाई के साथ खेलों में भी सक्रिय रूप से भाग लेते थे।



 



आइए हम आपको उन मैदानों पर ले चलते हैं जहां खेलकर तैयार हुआ है टीम इंडिया का सबसे कामयाब कप्तान।


 



(फोटो- वसीम)

 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
7 + 6

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment