Home » Union Territory » Chandigarh » News » जा उखाड़ लै जो उखाड़ सकै,अब महिलाओं से ऐसा नहीं बोल पाएगी हरियाणा पुलिस

जा उखाड़ लै जो उखाड़ सकै,अब महिलाओं से ऐसा नहीं बोल पाएगी हरियाणा पुलिस

Pramod Vashisth | Jan 07, 2013, 13:57PM IST


चंडीगढ़। कै बात सै,तेरे बाप कै नौकर सै कैं,पुलिस नै के तू तनखा दैवे,जा उखाड़ लै जो उखाड़ सकै,करा दै मन्ने सस्पेंड,पचासों किला का मालिका सूं, कै कर लेगी...और कर लै जो करै,चाल दै..जैसी पुलिस व जनता के बीच बहस के वाक्यों की चर्चाएं अब आपको शायद आपको सुनने को नहीं मिले? हरियाणा पुलिस ने सबसे पहले महिलाओं से पुलिसकर्मियों की बोलने की तहजीब बदलने का अभियान चलाने का व्यापक कार्यक्रम तैयार किया है।


भले ही वह महिला पुलिसकर्मी हो या फिर पुरूष उसे बोली-भाषा में शब्द व वाक्यों में सुधार करना होगा। गाली तो स्वीकार होगी ही नहीं? वैसे देश भर में पुलिस इसके लिए बदनाम है लेकिन हरियाणा में खड़ी व कड़क बोली के कारण कुछ ज्यादा ही पुलिस का रूतबा चर्चा में है। दिल्ली,चंडीगढ़ हो या कोई भी शहर हरियाणा पुलिस का महिला व पुरूष जवान एक शब्द में पहचान लिया जाता है।


कंट्रोल रूम का सौ नंबर हो या फिर थाने में प्रवेश के बाद कोई बातचीत। सीधे पहले गालियों से बात। ज्यादातर पुलिस थानों में ज्यादातर पुलिस कर्मी को लेकर यही राय लोगों की है। हालांकि हरियाणा पुलिस में तहजीब वाले पुलिसकर्मियों की भी कमी नहीं।


आगे जाने क्‍या करने जा रही हरियाणा पुलिस
 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
8 + 2

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment