Home » Union Territory » Chandigarh » News » हिमालय की गोद में बसा एक देवता जिसने दिल्ली में गिरवा दी थी बर्फ

हिमालय की गोद में बसा एक देवता जिसने दिल्ली में गिरवा दी थी बर्फ

suraj thakur | Jan 25, 2013, 12:54PM IST

चंडीगढ़। हिमाचल के कुल्लू जिला में मलाणा एक ऐसा गांव है, जहां लोग अपने देवता जमलू के सिवाए किसी भगवान को नहीं मानते हैं। इस गांव का विश्व में सबसे पुराना अपना लोकतंत्र है। अकबर दि ग्रेट भी इस गांव को अपने अधीन नहीं कर पाए थे। कहते हैं कि इस गांव को अपने अधीन करने के लिए अकबर बादशाह ने जमलू की परीक्षा लेनी चाही थी, देवता जमलू ने जिसे स्वीकार करने से इनकार कर दिया था।


 


जमलू देवता का फरमान उसके गुर( देवता का नुमायदा) द्वारा जारी होता है जो सबको मान्य होता है. यह तस्वीर जो आप देख रहे हैं, यह जमलू देवता के गुर की है।


 


बादशाह पर दबाब डालने जमलू देवता ने दिल्ली में बर्फ गिरवा दी थी जिसके बाद अकबर को इस देवता से माफी मांगनी पड़ी थी। लेकिन हैरत की बात तो यह है कि इस गांव में साल में एक बार यहां अकबर की पूजा भी की जाती है।


 


क्यों और कैसे की जाती है यहां अकबर की पूजा और क्या हैं यहां के शादी ब्याह के रिवाज जानिए तस्वीरों में।
 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
2 + 2

 
विज्ञापन
 
Ethical voting

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

बिज़नेस

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment