Home » Union Territory » Chandigarh » News » यहीं मारी थी शेषनाग ने पाताल लोक से फुफकार, अब तक निकल रहा गरम पानी!

यहीं मारी थी शेषनाग ने पाताल लोक से फुफकार, अब तक निकल रहा गरम पानी!

Pratik Shekhar | Feb 09, 2013, 11:49AM IST

चंडीगढ़। हिमाचल प्रदेश स्थित कुल्लू से 45 किलोमीटर दूर यह स्थान है जिसे मणिकर्ण नाम से जाना जाता है। कहते हैं कि एक बार माता पार्वती के कान की बाली (मणि) यहां गिर गई थी और पानी में खो गई। खूब खोज-खबर की गई लेकिन मणि नहीं मिली। आखिरकार पता चला कि वह मणि पाताल लोक में शेषनाग के पास पहुंच गई है।



जब शेषनाग को इसकी जानकारी हुई तो उसने पाताल लोक से ही जोरदार फुफकार मारी और धरती के अंदर से गरम जल फूट पड़ा। गरम जल के साथ ही मणि भी निकल पड़ी। आज भी मणिकरण में जगह-जगह गरम जल के सोते हैं।



ऊपर स्लाइड पर क्लिक कीजिए और जानिए इस जगह के बारे में विस्तार से।

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
4 + 5

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment