Home » Union Territory » Chandigarh » News » रावण ने यहां दी थी दस सिरों काट कर आहुतियां

रावण ने यहां दी थी दस सिरों काट कर आहुतियां

suraj thakur | Feb 10, 2013, 13:05PM IST

चंडीगढ़। हिमालय की गोद में बसे देव भूमि हिमाचल में महाभारत व रामायण की कई किवदंतियों है। कहते हैं कि रावण ने राम युद्ध जीतने के लिए कैलाश पर्वत पर घोर शिव तपस्या की।भगवान शिव ने प्रसन्न होकर रावण से वर मांगने को कहा तो रावण ने शिव भगवान से युद्ध में सहायता के लिए लंका चलने के लिए कहा।


 


भगवान शिव शिवलिंग के रूप में लंका चलने को तैयार हो गए। लेकिन उन्होंनें एक शर्त रखी कि रावण इस शिवलिंग को लंका तक भूमि पर नहीं रखेगा। यह शिवलिंग लंका रावण पहुंचा पाया था कि नहीं और कहां व क्यूं रावण ने अपने दस सिरों को काट कर शिव को दोबारा प्रसन्न करने के आहुतियां दी।


 



ऊपर स्लाइड्स पर क्लिक करें और जानिए विस्तार से
 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
9 + 1

 
विज्ञापन
 
Ethical voting

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

बिज़नेस

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment