Home » Union Territory » New Delhi » News » अफजल गुरू: एबीबीएस की पढ़ाई से लेकर आतंक की राह तक का सफर

अफजल गुरू: एबीबीएस की पढ़ाई से लेकर आतंक की राह तक का सफर

Sandeep Kumar | Feb 09, 2013, 15:46PM IST

नई दिल्‍ली। वर्ष 2001 में लोकतंञ के मंदिर संसद पर हुए हमले के मामले में साजिश रचने के दोषी अफजल गुरू को आज सुबह आठ बजे तिहाड़ जेल में फांसी दे दी गई। यह पूरा मामला क्‍या था और अफजल की जिंदगी और अदालत से सजा ए मौत मिलने के बाद उसे फांसी पर चढ़ाने को लेकर कब-कब क्‍या हुआ, भास्‍कर डॉट कॉम इससे आपको अवगत करा रहा है। जम्‍मू-कश्‍मीर के बारामूला के सोपोर निवासी अफजल के जीवनक्रम के बारे में पूरी कहानी पढ़ें। (दिल्‍ली में फांसी का विरोध करने वालों के साथ क्‍या हुआ, देखिए)


एमबीबीएस कोर्स के प्रथम वर्ष की पढ़ाई पूरी करने के बाद अफजल प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने लगा। इस दौरान वह जम्‍मू–कश्‍मीर लिब्रेशन फ्रंट का सदस्‍य बन गया, जहां से उसे आतंकी ट्रेनिंग मिली। इन परिस्थितियों से कथित तौर पर नाखुश अफजल कश्‍मीर वापस चला गया और उसने वहां बीएसएफ के समक्ष सरेंडर कर दिया। इसके बाद उसने कमिशन एजेंसी का बिजनेस शुरू किया।


बिजनेस के दौरान वह अनंतनाग के रहने वाले तारीक के संपर्क में आया। जहां उसे कश्‍मीर की आजादी के लिए जिहाद में शामिल होने के लिए उकसाया गया, साथ ही उसे वित्‍तीय सहायता देने का आश्‍वासन भी दिया गया। तारीक ने उसे उस वक्‍त गाजियाबाद में रह रहे पाकिस्‍तान के आतंकियों से उसे मिलवाया और भारतीय संसद और अन्‍य दूतावासों पर हमले में मदद करने और फिदायीनों के दिल्‍ली में छिपने के लिए महफूज ठिकाने तलाशने को कहा।


 


आगे स्‍लाइड में पढ़ें अफजल की जिंदगी और फांसी की सजा मिलने के बाद से उसकी जिंदगी के उतार-चढ़ाव।


 


 


ये भी पढ़ें


LIVE: हर तरफ से रिजेक्‍ट हुई अफजल की फांसी माफी की गुहार, तिहाड़ जेल में दफनाया गया शव


पढें- अफजल के अंतिम पलों का ब्‍यौरा


अफजल गुरु को फांसी: लाइव अपडेट 


अफजल की फांसी: हड़बड़ में गड़बड़ कर गए गृह मंत्री 


कश्‍मीर में कर्फ्यू, गुजरात में मनी होली, देखें तस्‍वीरें


टाइमलाइन: संसद पर हमले से अफजल की फांसी तक का घटनाक्रम


प्रतिक्रियाएं: पाकिस्‍तान में विरोध, सरबजीत को फांसी की मांग


अफजल की फांसी के क्‍या हैं मायने, पढें विशेषज्ञों की टिप्‍पणी


संसद पर हमले की तस्‍वीरें देखें 


OPERATION X: कसाब को कैसे दी गई थी फांसी, जानें


कसाब को फांसी के खिलाफ थे सोनिया की टीम के दो सदस्‍य!


कसाब को फांसी से बौखलाया पाकिस्तान


कसाब से हेडली तक 26/11 का सफर..


 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
2 + 1

 
विज्ञापन
 
Ethical voting

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

बिज़नेस

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment