Home » Union Territory » New Delhi » News » सबसे बड़ी हड़ताल का दिल्ली पर खूब असर

सबसे बड़ी हड़ताल का दिल्ली पर खूब असर

Sandeep Kumar | Feb 20, 2013, 13:16PM IST

नई दिल्ली/नोएडा/गुड़गांव। 11 केंद्रीय मजूदर संगठनों द्वारा बुलाई गई दो दिन की देशव्यापी हड़ताल के पहले दिन राजधानी दिल्ली के आम जनजीवन पर 'असर'देखने को मिल रहा है। शहर के सभी प्रमुख बाजारों में ज्यादातर दुकानें बंद है। हालांकि छोटे बाजारों में हड़ताल का असर व्यापक नहीं है। छोटे बाजारों में दुकानें खुली हुई हैं। शहर में ऑटो-टैक्सी सेवा पूरी तरह से बंद हैं। ऑटो-टैक्सी यूनियनों ने शहर में चल रहे करीब ७० हजार ऑटो और १५ हजार टैक्सियों को हड़ताल पर रखा है। बैंकों के भी शहर में हड़ताल पर होने की वजह से लोगों को काफी दिक्‍कतें हो रही हैं।


LIVE PHOTOS: नोएडा में बीच सड़क पर फूंकीं गाड़ियां, अंबाला में नेता का खून


नतीजतन, सड़कों पर ऑटो-टैक्सी नहीं दिख रही है। इसके चलते प्राइवेट कैब और कुछ ऑटो वाले चांदी भी काट रहे हैं। प्राइवेट कैब वाले लोगों से मनमाने दाम वसूल रहे हैं। सभी रेलवे स्टेयशनों, बस अड्डों से लेकर दिल्ली एयरपोर्ट पर भी लोगों को कुछ इसी तरह की समस्या से दो-चार होना पड़ रहा है। 


नोएडा में हड़ताल के दौरान हिंसा हो गई है। यहां प्रदर्शनकारियों ने कई फक्ट्रियों, कार्यालयों पर जमकर पथराव किया है और करीब दर्जन भर वाहनों में आग लगा दी। सरकारी वाहनों को सबसे पहले निशाना बनाया गया। आम राहगीरों को पीटा गया है। फेज-टू में हुई इस हिंसा के बाद यहां काफी तनाव का माहौल बना हुआ है। हालांकि पुलिस द्वारा कोई बल प्रयोग न किए जाने के बावजूद ऐसा हुआ है। प्रशासन ने एहतियातन नोएडा फेज-टू और अन्‍य कई इलाकों में सुरक्षा को कड़ा कर दिया है। नोएडा पुलिस के अलावा गाजियाबाद से भी पुलिस बल को बुलाया गया है। नोएडा फेज-टू में सीटू समर्थक हड़ताल के दौरान भड़क गए और उन्होंने कई वाहनों में आग लगा दी। यहां तनाव फैला हुआ है। सीटू समर्थकों ने यहां से गुजरने वाले लोगों को इन कार्यकर्ताओं ने अपना निशाना बनाया। इन कार्यकर्ताओं ने पुलिस  पर बल प्रयोग करने का आरोप लगाया है।


जानकारी के अनुसार, प्रदर्शनकारियों ने नोएडा फेज-टू के हौजरी कांप्‍लेक्‍स की करीब 400 फक्ट्रियों में तोड़फोड़ की है। इस घटना में 15-20 लोग घायल हुए हैं। गाजियाबाद, मेरठ और हापुड़ से पुलिस बल मंगाया गया और और यहां तैनात किया गया है। एडीजी (एनसीआर) ओपी सिंह एहतियातन नोएडा पहुंच चुके हैं। कई प्रदर्शनकारियों पर गंभीर धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। फेज-टू क्षेञाधिकारी की गाड़ी भी प्रदर्शनकारियों ने जला दी।


वहीं, वरिष्‍ठ माकपा नेता वृंदा करात ने इसकी निंदा की है। उधर, इंटक अध्‍यक्ष संजीवा रेड्डी ने कहा कि हम शांतिपूर्वक हड़ताल कर अपनी बात सरकार तक रखना चाहते हैं, लेकिन ऐसी हिंसा के हम कतई पक्षधर नहीं है। यह सही नहीं है। हमें अफसोस है और ऐसा नहीं होना चाहिए था। इस घटना की संगठन जांच-पड़ताल करेगा और संगठन के संबंधित पदाधिकारियों से इस बाबत जवाब मांगा जाएगा।



हालांकि दिल्ली सरकार का कहना है कि उनकी तरफ से आम जनता की सहुलियत के लिए सभी व्यापक प्रबंध किए गए हैं। दिल्ली सरकार के अनुसार, समस्तन स्टॉफ के अवकाश रदद कर दिए गए हैं। सड़कों पर डीटीसी की अतिरिक्तह बसें उतारी गई हैं।


 


 


20 फरवरी की खास खबरें

छत्‍तीसगढ़ के मिशन स्‍कूल में फादर ने किया चार छात्राओं के साथ रेप !


20 सेकंड में डाउनलोड हो जाती है 3 घंटे की मूवी!


अमानवीयता : पहले बिस्किट खिलाया और फिर गोली मार दी
स्लीपर में छह बर्थ सिर्फ महिलाओं के लिए, 2250 रु. में कीजिए कहीं भी हवाई सफर
संघ का सर्वे: मोदी में नहीं है अकेले भाजपा की सरकार बनवा पाने का दम
टीम इंडिया में सस्‍पेंस: टेंशन में हरभजन, कंगारू अलर्ट!
चीन पाकिस्तान से रख रहा है भारत पर नजर
बापू फिर विवादों में, आसाराम के भक्‍तों ने मचाया उत्‍पात
 


 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
2 + 9

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment