Home >> Crime >> Cyber Crime
  • इनकी मदद से पता करें किसी भी अननोन-प्राइवेट कॉलर की डिटेल्स
    गैजेट डेस्क। अगर आप किसी अननोन कॉलर से परेशान हैं या फिर किसी नंबर के बारे में पता लगाना चाहते हैं तो इसके लिए चिंता करने की जरूरत नहीं है। स्मार्टफोन की दुनिया में लाखों ऐप्स मौजूद हैं। इनमें से कुछ ऐसे हैं जो यूजर्स के काफी काम आ सकतें हैं। एंड्रॉइड और ios दोनों ही ऑपरेटिंग सिस्टम्स पर यूजर्स को कई ऐप्स मिल जाएंगे।    प्राइवेट कॉलर की डिटेल्स पता लगाना बहुत आसान है। इसके लिए कोई खास ट्रिक नहीं है। इंटरनेट पर कई सॉफ्टवेयर और मोबाइल ऐप्स मौजूद हैं जो बिना किसी झंझट के अनजाने कॉलर का नाम और...
    January 20, 12:03
  • अभिजीत का नया उपन्यास साइबर क्राइम पर,  कहा-कहानी फिक्शन
    जमशेदपुर. जेवियर लेबर रिलेशंस इंस्टीट्यूट (एक्सएलआरआई) के पूर्व छात्र और देश के मशहूर लेखक, स्तंभकार और कंसल्टेंट अभिजीत भादुरी कॉरपोरेट वल्र्ड में होने वाले क्राइम पर अपनी अगली पुस्तक लिख रहे है।    शहर आए भादुरी ने दैनिक भास्कर को बताया कि यह पुस्तक फिक्शन होगी। कॉरपोरेट वर्ल्ड में होने वाला क्राइम इसके बैक ड्रॉप में होगा। पुस्तक में कॉरपोरेट वर्ल्ड में साइबर क्राइम के फैलते ऑक्टोपसी पंजे के साथ ही हैकरों की जालसाजी को दर्शाया जाएगा। बकौल भादुरी, आज क्राइम हमारी जिंदगी का अहम...
    January 12, 04:44
  • साइबर क्राइम : अापके फेसबुक स्टेटस पर अपराधियों की निगाह
    अम्बाला सिटी. साइबर क्राइम लगातार विस्तार ले रहा है। खासकर स्कूल-कॉलेज के स्टूडेंट इसके ज्यादा इसका शिकार हो रहे हैं। यह पुलिस के लिए भी बड़ी चुनौती है। इसलिए अब पुलिस की आेर से स्टूडेंट्स को जागरूक करने की मुहिम छेड़ी गई है। साइबर क्राइम की रफ्तार रोकने के लिए पुलिस जानकारों की भी मदद ले रही है। सबसे ज्यादा इस बात पर जोर दिया जा रहा है कि सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर स्टूडेंट अपनी निजी जानकारी शेयर करने से बचें। साथ ही घर से बाहर जाने पर अपना स्टेटस अपडेट करने से भी परहेज करें। सोचे समझे...
    December 17, 04:29
  • फोन व इंटरनेट बने हथियार लोग हो रहे ठगी के शिकार
    जमशेदपुर. बदलते समय के साथ ही बदमाशों ने भी लोगों को शिकार बनाने का तरीका बदल लिया है। पहले बदमाश लोगों को लूटने के लिए पिस्तौल, चाकू या किसी अन्य हथियार का इस्तेमाल करते थे, परंतु आज वे फोन और इंटरनेट के जरिए ही अपना काम निकाल रहे हैं।    साइबर क्राइम करने वाले गिरोह के सदस्य सुनियोजित तरीके से लोगों को अपनी जाल में फांस कर इस तरह ठगी करते हैं कि उन्हें तत्काल पता नहीं चलता।  जब तक उन्हें ठगी का एहसास होता है, काफी देर हो चुकी होती है। गिरोह के सदस्य अलग-अलग तरीके से लोगों को ठग रहे हैं,...
    December 11, 05:13
  • ट्रू-कॉलर की तरह काम करने वाला मेड इन इंडिया ऐप 'होला'
    गैजेट डेस्क। अपना पहला मेड इन इंडिया ऐप 'होला' लॉन्च करने के साथ ही आज निम्बज ने ये घोषणा की है कि वो इस ऐप के जरिए 10 मिलियन यूजर्स जोड़ना चाहती है।  'होला' ऐप ट्रू-कॉलर की तरह काम करता है। ये ऐप कॉलर की डिटेल्स देखने की सुविधा देता है। इसी के साथ, कॉलर की फोटो और लोकेशन इनकमिंग लाइव कॉल के दौरान देखी जा सकती है। इसी के साथ, ये ऐप स्पैम कॉल्स और अनचाहे कॉलर्स को ब्लॉक करने के काम भी आ सकता है।  निम्बज के सीईओ इंडिया विकास सक्सेना के अनुसार भारत में प्री-पेड मोबाइल्स पर हर 10 में से 4 कॉल्स अननोन...
    November 26, 12:11
  • साइबर सेल ने पकड़े दो हैकर, लगा चुके थे लाखों का चूना
    लखनऊ. राजधानी में तेजी से बढ़ रहे साइबर क्राइम पर साइबर सेल को बड़ी सफलता मिली है। सेल की एक टीम ने दो युवकों को एक व्यक्ति के खाते से ऑनलाइन सवा दो लाख रुपए हड़पने के आरोप में गिरफ्तार किया है। दोनों ही युवकों की उम्र लगभग पच्चीस साल है।  बीते दिनों राजधानी के ही रहने वाले दो युवक जगत पाल और नितिन दीक्षित ने अजय यादव नामे के खाते से ऑनलाइन सवा दो लाख रुपए उड़ा लिए थे। इसके लिए आरोपियों ने कई बार अकाउंट से ट्रांजेक्शन किया। पकड़े गए दोनों युवक कंप्यूटर के अच्छे जानकार है।  मामले की जांच...
    November 22, 04:21
  • सोनीपत. पाकिस्तानी हैकरों ने शहर के पीएम इंजीनियरिंग कॉलेज की साइट को हैक कर लिया।  साइट पर पाकिस्तानी झंडा लहरा रहा है तथा भारत के खिलाफ काफी आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग भी किया गया है।  सुबह कुछ समय के लिए साइट को ब्लाक भी किया गया था, लेकिन शाम को फिर से साइट पर पाकिस्तान जिंदाबाद लिखकर भारत के प्रधानमंत्री की फोटो को जूते के नीचे दिखाया गया है। कॉलेज प्रशासन की ओर से इस संदर्भ में एसपी को शिकायत की गई है। जिसके बाद सदर थाना पुलिस की ओर से मामले की जांच की जा रही है।  वेबसाइट के होम पेज...
    November 18, 04:13
  • फर्जी एथिकल हैकर ने मेडिकल में दाखिले के नाम पर ठगे 18 लाख
    इंदौर. मप्र पुलिस का एथिकल हैकर बताने वाला बीई का छात्र हर्षिल जैन परिचितों को ही ठगता था। एक से उसने बेटी का मेडिकल कॉलेज में एडमिशन कराने के नाम पर 18 लाख रुपए लिए थे। वह जनवरी में इंदौर छोड़कर भागने वाला था। दोस्तों से कहता था कि मैं चेन्नई शिफ्ट हो रहा हूं। मुझे केंद्र सरकार ने श्रीलंका से होने वाले साइबर खतरे को रोकने का काम सौंपा है। उसने अपने गनमैन से दूसरी नौकरी देख लेने को कहा था।    एएसपी क्राइम विनयप्रकाश पॉल ने बताया हर्षिल ने पुराने रूम मैट के दोस्त गोपाल पटेल से कहा था कि मैं...
    November 7, 04:57
  • इंदौर. खुद को मप्र पुलिस का एथिकल हैकर बताने वाले बीई के छात्र हर्षिल जैन के कारनामे सामने आ रहे हैं। उसने रिटायर्ड एसपी की जमीन खरीदने के बहाने अपने पुणे निवासी जीजा को फर्जी रजिस्ट्री की कॉपी दिखाकर 10 लाख रुपए ऐंठ लिए थे। इसके अलावा इनोवा गाड़ी पर सायरन और पीली बत्ती लगवाने के लिए पुलिस मुख्यालय के एडीजी (सुरक्षा) एसएल थॉउसन के नाम से फर्जी परमिशन लेटर तैयार किया था। इसकी कॉपी गृह मंत्रालय और अन्य विभागों को पोस्ट की थी।  एएसपी क्राइम दिलीप सोनी ने बताया हर्षिल का दो दिन का रिमांड मिला है।...
    November 6, 05:03
Ad Link
 
विज्ञापन
 
 
 

बड़ी खबरें

 
 
 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 

जीवन मंत्र

 
 

स्पोर्ट्स

 

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें