Home >> International News >> Bhaskar Gyan
  • प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए आया एप, बेबी केयर के टिप्स देगा
    न्यूयार्क। प्रेग्नेंट महिलाओं को टिप्स देने के लिए नया ऐप ग्लो नर्चर तैयार है, जिसे यूक्रेन के एक वैज्ञानिक ने विकसित किया है। पेपल के फाउंडर और यूक्रेन के वैज्ञानिक मैक्स लेवचिन ने एक नया ऐप अपडेट किया है जो महिलाओं को प्रसव पूर्व अपने टिप्स से सलाह देगा। यह अपडेटेड ऐप प्रसव पूर्व के खान-पान के तरीकों से अवगत कराएगा। साथ ही एक ऐसी कम्युनिटी मुहैया कराएगा जिसमें गर्भवती महिलाएं शामिल होंगी और अपने अनुभवों को साझा करेंगी। ग्लो नर्चर की वेबसाइट पर यह लिखा है, यह ऐप बड़ी खूबसूरती से डिजाइन...
    July 28, 10:51 AM
  • सेक्सी फोटो, सीरिया संकट और इंडोनेशिया
    अगर आप छुट्टी पर घूमने फिरने गए हों और समुद्र किनारे तस्वीरें खिंचवाईं हो तो उन्हें फेसबुक पर पोस्ट करने से पहले एक बार ये ज़रुर पढ़ें. एक नया शोध कहता है कि जो लोग सोशल मीडिया पर अपनी सेक्सी तस्वीरें डालते हैं उनके बारे में माना जाता है कि उनकी क्षमताएं कम हैं उनकी तुलना में जो अपनी गंभीर तस्वीरें लगाते हैं. ये शोध ओरेगन स्टेट यूनिवर्सिटी ने किया है जिसमें 118 युवा महिलाओं को शामिल किया गया. इन महिलाओं को कई प्रोफाइल पन्ने दिखाए गए और उन्होंने सेक्सी तस्वीर वाले प्रोफाइल पन्नों की निंदा की....
    July 26, 05:35 PM
  • मानव कोशिका से एचआईवी नष्ट करने में मिली कामयाबी
    लंदन। लाइलाज बीमारी एड्स के खिलाफ वैज्ञानिकों को बड़ी कामयाबी मिली है। वैज्ञानिक, पहली बार मानव कोशिकाओं से एचआईवी को पूरी तरह खत्म करने में सफल रहे हैं। एचआईवी मानव कोशिका में प्रवेश करने के बाद हमेशा मौजूद रहता है। यह पीड़ित व्यक्ति के डीएनए में स्थायी रूप से घर बना लेता है। इस कारण उसे पूरी जिंदगी दवा के सहारे बितानी पड़ती है। लेकिन टेम्पल यूनिवर्सिटी स्कूल के मेडिसिन रिसर्चर्स ने इस बीमारी का इलाज ढूंढ निकाला है। रिसर्चर अदृश्य एचआईवी-1 को कोशिका से पूरी तरह बाहर निकालने में कामयाब...
    July 23, 12:20 PM
  • पिता बनने पर ब्रेन में होने लगते हैं कई बदलाव
    वाशिंगटन। जैसे ही कोई शख्स पिता बनता है, उसके दिमाग में बदलाव होने लगता है। एक स्टडी में इस बात का पता चला है कि पिता बनने के बाद ब्रेन के कई हिस्सों में ग्रे मैटर की मात्रा बढ़ जाती है। इस स्टडी से वैज्ञानिकों को यह समझने में मदद मिलेगी कि पिता बनने के बाद पैदा होने वाले नए हालात के हिसाब से कोई शख्स खुद को कैसे ढालता है। रिसर्चर पिलयंग किम के नेतृत्व में डेनवर और येल यूनिवर्सिटीज़ की एक टीम ने हाल ही में पिता बने 16 लोगों के दिमाग की दो बार स्कैनिंग की। रिसर्चर्स के मुताबिक ऐसा पहली बार हुआ है, जब...
    July 21, 10:13 AM
  • जीपीएस के आने से पहले अमेरिका में कांक्रीट के तीर बताते थे रास्ते
    न्यूयार्क। जीपीएस आने से पहले लोग रास्ते जानने के लिए काफी मशक्क्त करते थे। अमेरिका में इसके लिए कांक्रीट के विशाल तीर बनाए गए थे, जो दिशा जानने में मदद करते थे। इसकी शुरुआत 1920 में पहले ट्रांस-कॉन्टिनेंटल एयर रूट से हुई। उस वक्त पायलट रास्ता भटक जाते थे। इसलिए ये विशाल कांक्रीट के तीर बनाए गए। फेडरल गवर्नमेंट ने इन्हें बनवाया था। इन पर पीला रंग किया जाता था। साथ ही लाइट टावर लगाए जाते थे, ताकि आसमान से ये तीर साफ नजर आएं और पायलट को पता चले कि वह सही दिशा में जा रहा है या नहीं। अब इन तीर पर से...
    July 19, 04:44 PM
  • गीजा के पिरामिड के नजदीक मकबरे में मिली 4500 साल पुरानी पेंटिंग
    (पेंटिंग को संरक्षित करने का काम करती वैज्ञानिक टीम।) काहिरा। पुरातत्वविदों ने गीजा के पिरामिड के नजदीक एक मकबरे में 4300 साल पुरानी वॉल पेंटिंग ढूंढ निकाली है। मौलवी के मकबरे को संरक्षण करने के दौरान वैज्ञानिकों को पेंटिंग का पता लगा। गीजा के पिरामिड से पूर्व स्थित 1000 फीट की दूरी पर यह मकबरा मौजूद है। यह मकबरा पांचवें राजवंश (2450-2350 ईसा पूर्व) के समय का है। इसके मध्य कमरे में मौलवी को दफनाया गया था। पेंटिंग की खोज 2012 में रूसी एकेडमी ऑफ ऑरिएंटल स्टडिज की टीम ने की थी। इसमें नील नदी के किनारे पर कई...
    July 16, 06:53 PM
  • कम्प्यूटर हैकिंग: ऐसे चुराई जाती है सूचनाएं, जानें हैकरों पर कितना है इनाम
    आरोन पोर्टनॉय ने अपने हैकिंग करिअर की शुरुआत हाईस्कूल में कर दी थी। वह अमेरिका के वर्सेस्टर में मैसाचुसेट्स गणित और विज्ञान अकादमी में पढ़ता था। उसने कम्प्यूटर सिस्टम में एक बग के जरिये स्कूल के नेटवर्क में घुसपैठ कर ली। ऐसे बग को तकनीकी तौर पर वल्नरेबिलिटी या जीरो डे कहा जाता है। यूनिवर्सिटी में जाने के बाद भी वह हैकिंग सॉफ्टवेयर पर रिसर्च करता रहा। 28 वर्षीय पोर्टनॉय ने दो वर्ष पहले आस्टिन में एक्सोडस इंटेलीजेंस नामक एक कंपनी बनाई है। कंपनी ऐसे बग्स बेचती है जो किसी कम्प्यूटर में सेंध...
    July 13, 03:02 PM
  • मंगल पर चल रहा मार्स क्यूरियोसिटी पंक्चर, पहिए में दिखा बड़ा छेद
    वॉशिंगटन। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा द्वारा मंगल ग्रह पर भेजे गए मार्स रोवर क्यूरियोसिटी का पहिया पंक्चर हो गया है। उसमें एक बड़ा छेद देखने को मिला है। ऐसा लगता है कि यह छेद किसी नुकीले पत्थर की वजह से हुआ है। रोवर अभी माउंट शार्प के नीचे की तरफ बढ़ रहा है। नासा वैज्ञानिकों के अनुसार इससे मिशन नहीं रुकेगा। लेकिन इसमें बड़ी बाधा सकती है। अब यह रोवर बाकी के पांच पहियों के सहारे अपना मिशन पूरा करेगा। इसे ठीक करने का कोई रास्ता नजर नहीं रहा है। लेकिन यह किया जा सकता है कि इसे कम पत्थर वाले या...
    July 11, 12:05 PM
  • अब बटन से बेहोश होंगे आप, वैज्ञानिकों ने खोजा इन्सानों में ऑन-ऑफ स्विच
    वॉशिंगटन। वैज्ञानिकों ने इन्सान के मस्तिष्क में ऑन-ऑफ स्विच खोजने का दावा किया है। साइंटिस्ट्स का दावा है कि इस बटन से इन्सान को बेहोश किया जा सकता है या बेहोशी से बाहर लाया जा सकता है। जॉर्ज वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी के डॉ. मोहम्मद कुबैसी और उनकी टीम ने एक मरीज पर स्टडी के दौरान पाया कि दिमाग के एक खास हिस्से से निकल रही तरंगें उन्हें बार-बार सुला देती थीं। अगर इन तरंगों को रोका गया तो वह जग गईं लेकिन उन्हें बिल्कुल याद नहीं था कि इस दौरान क्या हुआ। इन्सान का होश में होना या बेहोश होना कैसे काम...
    July 8, 09:54 AM
  • दो संस्थाएं मिलकर बना रही हैं सबसे शक्तिशाली रॉकेट
    वॉशिंगटन। रॉकेट निर्माण में पूरी दुनिया को अपना लोहा मनवा चुकी दो संस्थाएं अब दुनिया का सबसे शक्तिशाली रॉकेट बनाने जा रही है। ये संस्थाएं नासा और बोइंग है। नासा ने प्रतिष्ठित स्पेस लांच सिस्टम (एसएलएस) के विकास के मद्देनजर सबसे बड़े रॉकेट के निर्माण के लिए बोइंग अंतरिक्ष अन्वेषण के साथ 2.8 अरब डॉलर का करार किया है। साढ़े छह साल के एसएलएस करार के तहत बोइंग हाइड्रोजन और ऑक्सीजन टैंक समेत दो एसएलएस कोर और एवियोनिकी (उड़ान में प्रयुक्त होने वाली इलेक्ट्रॉनिक्स) देगा। बोइंग के अंतरिक्ष...
    July 7, 10:37 AM
  • ALIENS के अस्तित्व को लेकर वैज्ञानिक कर रहे माथापच्ची, जानने के लिए पढ़ें
    (एलियंस को लेकर इंसानी कल्पना कुछ इस तरह से है।) एलियन यानी ऐसे जीव जो पृथ्वी के बाहर किसी दूसरे ग्रह पर रहते हों। पर एलियन होते भी हैं या नहीं, यह एकबड़ा सवाल है। एलियंस की मौजूदगी पर दशकों से रिसर्च होती रही हैं, लेकिन अब तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया हैकि एलियंस हैं भी या नहीं। यदि हैं तो वे कहां रहते हैं? वे तकनीकी रूप से कितने सक्षम हैं? ऐसे सवालों के जवाबपूरी दुनिया के वैज्ञानिकों के लिए चुनौती है। किसी दूसरे ग्रह पर जीवन की तलाश पिछले छह दशकों से तो बेहद तेजहो गई है। इस बारे में कई ठोस सबूत तो...
    July 6, 01:16 PM
  • अंतरिक्ष में छोटी गैलेक्सी को निगल जाती है बड़ी: रिसर्च
    मेलबर्न। अंतरिक्ष में बड़ी आकाशगंगा छोटी को समाहित कर लेती हैं। खगोलविदों ने एक अंतरिक्षीय दैत्य की निगलने की आदतों का अध्ययन करने के दौरान पाया कि किस तरह बड़ी आकाशगंगा छोटी को अपने में समाहित कर लेती हैं। अास्ट्रेलियन स्टोनोमिकल आब्जरवेट्री (एएओ) के अनुसंधानकर्ताओं का एक दल एनजीसी 4651 नाम वाले अंब्रेला गैलेक्सी के अध्ययन में जुटे हैं। शोधकर्ताओं ने पाया है कि यह छोटी गैलेक्सी को निगल जाता है। अपने चारों तरफ पसरी महीन छतरी के कारण ही इसे अंब्रेला गैलेक्सी नाम दिया गया है। खगोलविदों ने...
    July 5, 10:15 AM
विज्ञापन
 
 

बड़ी खबरें

 
 

रोचक खबरें

 

बॉलीवुड

 
 

जीवन मंत्र

 
 

स्पोर्ट्स

 

बिज़नेस

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें