Home >> Magazine >> Career Mantra
  • CAREER COACH :वीडियो कॉन्फ्रेंस से हो सकता है इंटरव्यू
    सही उम्मीदवारों की परख की जा सके इसके लिए कंपनियां टेक्नोलॉजी का हाथ थाम रही हैं। ऐसे में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा इंटरव्यू लेना आम ट्रेंड बन चुका है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की अच्छी समझ इंटरव्यू के दौरान बेहतर प्रदर्शन के साथ आपकी सफलता का प्रतिशत बढ़ाने में मदद करेगी। प्री इंटरव्यू इंटरव्यू शुरू होने से कम से कम 15 मिनट पहले पहुंचें। आपके पास इतना समय होना चाहिए कि आप इंटरव्यू से पहले वीडियो कॉन्फ्रेंस रूम में बैठें और अपने आस-पास के माहौल से परिचित हो सकें। स्टाफ के सदस्य आपको...
    April 23, 10:01 AM
  • काम के काबिल बना रही है कॉमर्स की डिग्री
    बदलती हुई आर्थिकी के अनुकूल कॉमर्स का कुरिकुलम भी बदला है। कभी अकाउंटिंग तक सीमित बैचलर ऑफ कॉमर्स अब नए स्पेशलाइजेशन के साथ तैयार है। कम्प्यूटर एप्लीकेशंस, ई बिजनेस, मार्केटिंग, टैक्सेशन व फाइनेंस जैसे स्पेशलाइजेशन ने प्रतिभावान बीकॉम ग्रेजुएट्स की मांग को कुशल एमबीए के बराबर कर दिया है। हो भी क्यों न, अब कॉमर्स स्ट्रीम में पढ़ाए जाने वाले फाइनेंशियल अकाउंटिंग, कॉर्पोरेट लॉज, बिजनेस मैथेमेटिक्स, मैक्रोइकॉनॉमिक्स, प्रिंसिपल्स ऑफ मार्केटिंग, कॉर्पोरेट अकाउंटिंग, फाइनेंशियल मैनेजमेंट,...
    April 22, 12:32 PM
  • JOB : दुनिया भर में रोबोट विशेषज्ञों की मांग में हुई बढ़ोत्तरी
    अगले कुछ सालों में रोबोटिक असिस्टेंस या रोबोट की मदद इंसानी जीवन की हकीकत बनने वाली है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस विशेषज्ञों की यह भविष्यवाणी कतई गलत नहीं है। अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया रोबोटिक रिसर्च और डेवलपमेंट पर काम कर रहे हैं। विशेषज्ञों का अनुमान है कि उपयुक्त श्रमशक्ति ने ऐसे रोबोट की जबर्दस्त मांग उत्पन्न की है, जो घरेलू गतिविधियों या मानवीय मदद के रूप में इंसान की तरह काम कर सके, इसलिए इस दिशा में रिसर्च का काम जोरों पर है। भारत भी इस लिहाज से पीछे नहीं है। देश में डिपार्टमेंट ऑफ...
    April 21, 10:41 AM
  • कॅरिअर कोच: सोशल नेटवर्क पर भी परखता है EMPLOYER
    इंटरव्यू के दौरान नियोक्ता कंपनी कई तरह से उम्मीदवार को परखती है। अलग-अलग तकनीकों के जरिए वह आपके काम की कुशलताएं, अनुभव और आत्मविश्वास की जांच करती है। कुछ सवाल ऐसे हो सकते हैं, जिनका काम से सीधा संबंध न हो, लेकिन किसी न किसी रूप में वे नौकरी के लिए आपको परख रहे होते हैं। असल में नियोक्ता अलग-अलग तरह से आपकी परीक्षा लेते हैं। चाहे वे आपके आत्मविश्वास को मापना चाहते हों या रेफरेंस को, परीक्षा के हर पड़ाव पर सच्चई के साथ टिके रहें। कहीं पर भी आपके कदम नहीं डगमगाएंगे। रेफरेंस चेक चतुर नियोक्ता...
    April 19, 07:48 PM
  • लॉ, आर्टस और स्टैटिस्टिक्स में बनाएं कॅरिअर, इन सवालों के जवाब आ सकते हैं काम
    एजुकेशन भास्कर कुछ छात्रों के चुनिंदा सवालों के जवाब एक्सपर्ट्स की मदद से दे रहा है।आर्ट्स, लॉ और स्टैटिस्टिक्स की पढ़ाई और इनमें कॅरिअर से जुड़े कुछ जरूरी सवालों के जवाब अहम हैं। मैं बारहवीं का छात्र हूं और लॉ में कॅरिअर बनाना चाहता हूं। बीए (एलएलबी) और बीएससी (एलएलबी) के बीच क्या अंतर है, मुझे इसके बारे में बताएं। देश में अधिकतर लॉ यूनिवर्सिटीज़ में बीए (एलएलबी) कोर्स मौजूद है जिसमें लॉ के साथ आट्र्स स्ट्रीम के कुछ सब्जेक्ट्स शामिल होते हैं। इसमें आर्ट्स, साइंस या कॉमर्स स्ट्रीम से 10 +2 कर...
    April 19, 07:43 PM
  • NO LIMITS : किसी भी उम्र में ले सकते हैं एजुकेशन लोन
    एजुकेशन लोन की खास बात यह है कि स्टूडेंट एक अच्छा रोजगार पाने के बाद इसकी अदायगी करता है। पढ़ाई की ऊंची कीमत चुकाने के लिए एजुकेशन लोन कारगर तरीका है। वैसे भी लोन लेने का फैसला बिल्कुल सही है, क्योंकि इसे वापस करने की नीतियां काफी उदार हैं। सरकार भी चाहती है कि बैंक अपने नियमों को ढीला करें। भारत में पढ़ाई के लिए चार लाख तक का लोन बिना किसी कोलेटरल (प्रमाणित करने वाला) के लिया जा सकता है, वहीं इससे ज्यादा के लिए अभिभावक के हस्ताक्षर जरूरी हैं। कौन से कोर्स एजुकेशन लोन के लिए आवेदन के लिए यह...
    April 19, 07:01 PM
  • IN DEMAND : दुनिया भर को चाहिए डेटा साइंटिस्ट एक्सपर्ट
    डेटा साइंटिस्ट ऐसे मैनेजर्स हैं, जो जानते हैं कि डेटा की मदद से किस प्रकार बेहतर निर्णय लिए जाते हैं। कम्प्यूटर साइंस एंड एप्लीकेशंस, स्टेटिस्टिक्स, एनालिटिक्स व गणित में मजबूत नींव के साथ जो बात डेटा साइंटिस्ट को अलग बनाती है वह है उनकी बिजनेस स्किल्स। अच्छी बात यह है कि दुनिया भर में इन प्रोफेशनल्स की काफी मांग है। कंसल्टिंग फर्म मैक्किंजे का अनुमान है कि आने वाले सालों में भारत को दो लाख से अधिक डेटा साइंटिस्ट की जरूरत होगी। एक ट्वीट, टेक्स्ट या इमेज को दुनियाभर की सभी चीजों के साथ जोड़...
    April 19, 07:00 PM
  • लॉ, आर्टस और स्टैटिस्टिक्स में कॅरिअर, सवाल छात्रों के जवाब एक्सपर्ट के
    एजुकेशन भास्कर कुछ छात्रों के चुनिंदा सवालों के जवाब एक्सपर्ट्स की मदद से दे रहा है।आर्ट्स, लॉ और स्टैटिस्टिक्स की पढ़ाई और इनमें कॅरिअर से जुड़े कुछ जरूरी सवालों के जवाब अहम हैं। मैं बारहवीं का छात्र हूं और लॉ में कॅरिअर बनाना चाहता हूं। बीए (एलएलबी) और बीएससी (एलएलबी) के बीच क्या अंतर है, मुझे इसके बारे में बताएं। देश में अधिकतर लॉ यूनिवर्सिटीज़ में बीए (एलएलबी) कोर्स मौजूद है जिसमें लॉ के साथ आट्र्स स्ट्रीम के कुछ सब्जेक्ट्स शामिल होते हैं। इसमें आर्ट्स, साइंस या कॉमर्स स्ट्रीम से 10 +2 कर...
    April 19, 02:26 PM
  • लर्निंग टेक्निक: याद रखना है तो रटिए मत, दिमाग में दोहराइए
    यदि आपकी असफलता भी कमजोर याददाश्त से जुड़ी है, तो पढ़ने के तरीके या रोजमर्रा के काम में थोड़ा-थोड़ा सुधार कर आप इसे सफलता में तब्दील कर सकते हैं। क्योंकि याददाश्त एक दिमागी प्रक्रिया है, जिसे खान-पान और आदतों में सुधार कर प्रभावी बनाया जा सकता है। दिमागी कसरतें याददाश्त भी हमारे शरीर की ताकत की तरह काम में लो या खो दो के सिद्धांत पर काम करती है। हम जितना दिमाग को काम में लेते हैं, हमारी याद करने की क्षमताएं उतनी ही बढ़ती हैं। हमेशा नया-नया जानना और संवेदनाओं को प्रेरित करना दिमागी कसरत का...
    April 18, 03:32 PM
  • ARCHITECTURE : देश में केवल एक लाख प्रोफेशनल्स, जरूरत पांच लाख से ज्यादा की
    आर्किटेक्चर यानी साइंस ऑफ बिल्डिंग जिसमें आर्ट और टेक्नोलॉजी का एक साथ इस्तेमाल होता है। इसका संबंध कंस्ट्रक्शन और रियल इस्टेट इंडस्ट्री से है। एग्रीकल्चर के बाद दूसरी सबसे ज्यादा रोजगार (तीन करोड़ से ज्यादा) उपलब्ध कराने वाली इस इंडस्ट्री की कुल मार्केट वैल्यू करीब 50 हजार करोड़ है। हालांकि, 2008 के बाद से कंस्ट्रक्शन इंडस्ट्री के विकास की रफ्तार धीमी है, लेकिन आर्किटेक्चर अभी भी युवाओं के लिए कॅरिअर का एक बेहतर विकल्प है। कारण यह कि देश में रजिस्टर्ड आर्किटेक्चर प्रोफेशनल्स की संख्या...
    April 18, 03:21 PM
  • लीडरशिप सीरीज: कभी जिम्मेदारी से भागे नहीं स्टीव जॉब्स
    एप्पल कंपनी के स्टीव जॉब्स ने समय-समय पर लीडरशिप के सबक दिए हैं जो जीवन में काम आ सकते हैं। उन्होंने एप्पल को ऐसा आयाम दिया है कि मैनेजमेंट और टेक्नोलॉजी के स्टूडेंट्स के साथ कंपनियों के सीईओ भी इससे सबक लेते रहेंगे। जॉब्स के जीवन से लिए गए लीडरशिप के ये सबक सीरीज में प्रकाशित किए जा रहे हैं। सिंपलिसिटी हासिल करना स्टीव जॉब्स जानते थे कि सिंपलिसिटी हासिल करने के लिए यह सुनिश्चित करना होगा कि हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर और पेरिफेरल डिवाइसेस इस तरह से जोड़े जाएं कि वे एक ही डिवाइस जैसे बन जाएं। इसे...
    April 18, 03:21 PM
  • ARCHITECTURE : देश में केवल एक लाख प्रोफेशनल्स, जरूरत पांच लाख से ज्यादा की
    आर्किटेक्चर यानी साइंस ऑफ बिल्डिंग जिसमें आर्ट और टेक्नोलॉजी का एक साथ इस्तेमाल होता है। इसका संबंध कंस्ट्रक्शन और रियल इस्टेट इंडस्ट्री से है। एग्रीकल्चर के बाद दूसरी सबसे ज्यादा रोजगार (तीन करोड़ से ज्यादा) उपलब्ध कराने वाली इस इंडस्ट्री की कुल मार्केट वैल्यू करीब 50 हजार करोड़ है। हालांकि, 2008 के बाद से कंस्ट्रक्शन इंडस्ट्री के विकास की रफ्तार धीमी है, लेकिन आर्किटेक्चर अभी भी युवाओं के लिए कॅरिअर का एक बेहतर विकल्प है। कारण यह कि देश में रजिस्टर्ड आर्किटेक्चर प्रोफेशनल्स की संख्या...
    April 18, 03:09 PM
Ad Link
 
विज्ञापन
 
 
 
 

बड़ी खबरें

 
 
 
 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 

जीवन मंत्र

 
 

स्पोर्ट्स

 

बिज़नेस

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें