• देखिये ट्रेनडिंग न्यूज़ अलर्टस

कृष्णा

मिस्त्री का लैटर इंपैक्ट: टाटा ग्रुप के स्टॉक्स में 5% तक टूटे, TCS के 4000 करोड़ डूबे

मिस्त्री का लैटर इंपैक्ट: टाटा ग्रुप के स्टॉक्स में 5% तक टूटे, TCS के 4000 करोड़ डूबे

Last Updated: October 27 2016, 09:43 AM

नई दिल्ली. साइरस मिस्त्री को हटाए जाने के बाद टाटा ग्रुप की कंपनियों के स्टॉक्स पर असर नजर आ रहा है। पिछले 3 दिन में ग्रुप की मार्केट कैप 26 हजार करोड़ रुपए घट गई है। गुरुवार को टीसीएस के अलावा ग्रुप कंपनियों के बाकी सभी स्टॉक्स में लगातार तीसरे दिन गिरावट देखने को मिली। बता दें कि बीते सोमवार टाटा सन्स के बोर्ड ने साइरस मिस्त्री को चेयरमैन की पोस्ट से हटा दिया था। टाटा ग्रुप के 148 साल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब किसी चेयरमैन को हटाया गया। उनकी जगह अब 78 साल के रतन टाटा चार महीने के लिए इंटरिम चेयरमैन बने हैं। किस तरह आई स्टॉक्स में गिरावट... साइरस मिस्त्री के मेल के बाद बढ़ी गिरावट - टाटा ग्रुप के स्टॉक्स में गिरावट साइरस मिस्त्री का लिखा ईमेल सामने आने के बाद बढ़ी। साइरस मिस्त्री ने अपने ईमेल में टाटा ग्रुप को 1800 करोड़ डॉलर यानी 1.20 लाख करोड़ रुपए नुकसान का अंदेशा जताया है। - बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) ने टाटा ग्रुप की लिस्टेड कंपनियों से मिस्त्री द्वारा टाटा बोर्ड को भेजे गए ईमेल पर क्लैरिफिकेशन मांगा है। - जिन कंपनियों से क्लैरिफिकेशन मांगा गया है, उनमें टाटा मोटर्स, इंडियन होटल्स, टाटा टेलिसर्विसेस और टाटा पावर जैसी कंपनियां शामिल हैं। - इसके बाद गुरुवार को टाटा ग्रुप के सभी स्टॉक्स में 6 फीसदी तक की तेज गिरावट देखने को मिली। मेल के बाद विवाद बढ़ने की आशंका से इन्वेस्टर्स ने ग्रुप की कंपनियों में बिकवाली की, जिससे स्टॉक्स में गिरावट रही। तीन दिन में टाटा ग्रुप की लिस्टेड कंपनियों के स्टॉक में इतनी आई गिरावट टाटा ग्रुप की लिस्टेड कंपनिया स्टॉक में बदलाव टीसीएस 0.68% टाटा मोटर्स -1.44% टाटा मोटर्स डीवीआर -2.08% टाटा केमिकल्स -1.98% टाटा कॉफी -3.33% टाटा कम्युनिकेशन -1.68% टाटा एलेक्सी -2.44% टाटा ग्लोबल बेवरेजिज लिमिटेड -5.21% टाटा इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन -5.43% टाटा मेटेलिक्स -4.74% टाटा पावर -1.36% टाटा स्पॉन्ज आयरन -3.98% टाटा स्टील -0.44% टिनप्लेट -3.98% रैलिस इंडिया -2% (नोट: सभी आंकड़े बीएसई की वेबसाइट से लिए गए हैं।) टाटा ग्रुप के स्टॉक में निवेश न करें - एंजेल ब्रोकिंग के सीनियर रिसर्च एनालिस्ट अमरजीत मौर्या ने बताया कि साइरस मिस्त्री के लेटर के बाद टाटा ग्रुप के स्टॉक्स में गिरावट देखने को मिल रही है, जो आगे और बढ़ सकती है। अभी इस मुद्दे पर कोई क्लैरिफिकेशन नहीं आया है। जब तक मामला पूरी तरह से साफ नहीं हो जाता, तब तक टाटा ग्रुप के स्टॉक्स में निवेश न करें। - उन्होंने कहा कि नैनो के कारण टाटा मोटर्स को नुकसान उठाना पड़ सकता है, लेकिन इसका असर ग्रुप की सभी कंपनियों पर देखने को मिलेगा। मिस्त्री ने ये लगाए हैं ये आरोप - मिस्त्री ने टाटा ग्रुप को भेजा लेटर पब्लिक कर दिया था। इसमें उन्होंने कहा- आईएचसी, टाटा मोटर्स, टाटा स्टील यूरोप, टाटा पावर और टाटा टेलिसर्विसेज के 2011 से 2015 के बीच के आंकड़ों को तो पता चलेगा कि इन कंपनियों में लगने वाली कैपिटल 1.32 लाख करोड़ से बढ़कर 1.96 लाख करोड़ रुपए (ऑपरेशनल लॉस, इंट्रेस्ट और कैपेक्स के कारण) हो गई। - मिस्त्री ने कहा कि टाटा की इन 5 कंपनियों का घाटा 1800 करोड़ डॉलर रह सकता है। टाटा मोटर्स का एनपीए 4000 करोड़ रुपए हो गया है। - मिस्त्री का आरोप है कि बोर्ड में वो सिर्फ कागजी चेयरमैन थे। उनके अप्वॉइंटमेंट के बाद कई ऐसे बदलाव किए गए, जिससे उन्हें पहले जैसी चेयरमैन पावर नहीं मिले। नैनो पर सवाल - मिस्त्री के मुताबिक- नैनो की वजह से एक हजार करोड़ का नुकसान हो रहा है। इसके बावजूद इमोशनल वजहों से उसे बंद नहीं किया जा रहा है। - मिस्त्री ने एयर एशिया के साथ डील पर भी आपत्ति जताई। जांच में एयरएशिया में 22 करोड़ रुपए की गलत लेन-देन की जानकारी मिली है। - इसी तरह उन्होंने टाटा-डोकोमो डील पर भी सवाल उठाए हैं। उन्हें कॉन्ट्रैक्ट बचाने के लिए 1.17 अरब डॉलर का पेमेंट कंपनी को करना पड़ा। - इंडियन होटल्स द्वारा देश और विदेश में किए गए एक्विजिशन से भी कंपनी का घाटा बढ़ा है। मिस्त्री ने एक्विजिशन पर सवाल उठाए हैं।

टाटा Vs मिस्त्री पर लीगल एक्सपर्ट: सायरस के आरोप गंभीर, कोर्ट में करना होगा साबित

टाटा Vs मिस्त्री पर लीगल एक्सपर्ट: सायरस के आरोप गंभीर, कोर्ट में करना होगा साबित

Last Updated: October 27 2016, 00:00 AM

नई दिल्ली. जैसी उम्मीद थी, टाटा ग्रुप और चेयरमैन पद से हटाए गए सायरस मिस्त्री के बीच आरोपों का दौर शुरू हो गया है। टाटा सन्स के बोर्ड ने जहां मिस्त्री को हटाए जाने के लिए परफॉर्मेंस को आधार बनाया है, वहीं मिस्त्री ने लेटर लिखकर मैनेजमेंट पर कई आरोप लगा दिए हैं। बढ़ती कॉरपोरेट लड़ाई जल्द ही कानूनी लड़ाई बन सकती है। ऐसे में, moneybhaskar.com देश के प्रमुख कॉरपोरेट वकीलों के जरिए आपको यह बता रहा है कि अपनी साख के लिए मशहूर इस कॉरपोरेट घराने की लड़ाई आने वाले दिनों में कैसा रुख ले सकती है। सायरस को देने होंगे सबूत... - सुप्रीम कोर्ट के सीनियर कॉरपोरेट वकील केटीएस तुलसी के मुताबिक, अगर कोर्ट में लड़ाई आगे बढ़ती है, तो सायरस मिस्त्री ने जो आरोप लगाए हैं, उन्हें कोर्ट में साबित करना होगा। - मिस्त्री ने चेयरमैन पद से हटाए जाने के बाद आरोप लगाए हैं। लिहाजा, यह सवाल भी उठ रहा है कि अगर उन्हें गड़बड़ियां दिखी थीं, तो उन्होंने इसे पहले क्यों नहीं उठाया। - कोर्ट में कानूनी लड़ाई का भविष्य क्या होगा, यह इससे तय होगा कि मिस्त्री के आरोपों में सबूत कितने ठोस हैं। इसी आधार पर टाटा ग्रुप का भी एक्शन तय होगा। हल निकालने की कोशिश करेगा ग्रुप : सिंघवी - टाटा ग्रुप के वकील अभिषेक मनु सिंघवी के मुताबिक, कैविएट फाइल करना एक रूटीन मामला है। इसे एक अग्रेसिव स्ट्रैटजी के रुप में नहीं देखना चाहिए। - उन्होंने कहा कि जहां तक कोर्ट की बात है, अगर किसी विवाद का हल नहीं निकलता है, तो वह हमेशा उसका हल निकालने के लिए काम करेगा। कैविएट से टाटा समूह को मिला सेफगार्ड - इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) के पूर्व प्रेसिडेंट अमरजीत चोपड़ा ने <a href='http://moneybhaskar.com/'>moneybhaskar.com</a> को बताया कि कैविएट फाइल करने से अब टाटा ग्रुप को लीगल सेफगार्ड मिल गया है। - अब मिस्त्री टाटा सन्स के खिलाफ कोई भी कदम आगे उठाते हैं, तो पहले समूह को नोटिस देना होगा। - चोपड़ा के मुताबिक, नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यून बोर्ड बनने के बाद कंपनी कानून से जुड़े विवाद वहीं फाइल होते हैं। - ट्रिब्यूनल के फैसले के बाद सुप्रीम कोर्ट में अपील की जा सकती है। हाईकोर्ट में ऐसे मामले नहीं चलाए जा सकते। मिस्त्री ने ये लगाए हैं ये आरोप - मिस्त्री ने कहा है कि बोर्ड में उन्हें कागजी चेयरमैन के रूप में पावर मिली हुई थी। उनकी नियुक्ति के बाद कई ऐसे बदलाव किए गए, जिससे उन्हें पहले रह चुके चेयरमैन जैसी पावर नहीं मिली। - उन्होंने कहा है कि नैनो की वजह से एक हजार करोड़ का नुकसान हो रहा है, इसके बावजूद इमोशनल वजहों से उसे बंद नहीं किया जा रहा है। - मिस्त्री ने एयरएशिया के साथ डील पर भी आपत्ति जताने की बात कही है। फोरेंसिक जांच में एयरएशिया में 22 करोड़ रुपए की गलत लेन-देन की जानकारी मिली है। - इसी तरह उन्होंने टाटा-डोकोमो डील पर भी सवाल उठाए हैं। उन्हें कॉन्ट्रैक्ट बचाने के लिए 1.17 अरब डॉलर का पेमेंट कंपनी को करना पड़ा। - इंडियन होटल्स द्वारा देश और विदेश में किए गए एक्विजिशन से भी कंपनी का घाटा बढ़ा है। मिस्त्री ने एक्विजिशन पर सवाल उठाए हैं।

साइरस मिस्त्री की लीडरशिप में टाटा ग्रुप की ये कंपनियां रही बेस्ट, इन्होंने डुबाई लुटिया

साइरस मिस्त्री की लीडरशिप में टाटा ग्रुप की ये कंपनियां रही बेस्ट, इन्होंने डुबाई लुटिया

Last Updated: October 27 2016, 00:06 AM

नई दिल्ली। साइरस मिस्त्री ने टाटा ग्रुप को 28 दिसंबर 2012 को ज्वाइन किया था। करीब 21 सालों तक कमान संभालने के बाद रतन टाटा ने टाटा ग्रुप की को टाटा; कह दिया था। साइरस मिस्त्री की लीडरशिप में टाटा ग्रुप की अधिकतर कंपनियों की मार्केट कैप दोगुनी हो चुकी है। टाटा ग्रुप की सभी कंपनियों की मार्केट कैप में 57% से ज्यादा की बढ़ोत्तरी देखने को मिली। टाटा ग्रुप की कुल मार्केट कैप 12,500 करोड़ डॉलर (8.5 लाख करोड़ रुपए) है। इसमें अकेले टीसीएस की मार्केट कैप 4.7 लाख करोड़ रुपए है। टाटा ग्रुप की लिस्टेड कंपनियों के स्टॉक में टाटा ग्रुप की लिस्टेड कंपनिया 28 दिसंबर 2012 को भाव मौजूदा भाव बदलाव पिछले 2 दिनो में बदलाव टीसीएस 1265 2380 88% -1.23% टाटा मोटर्स 306 541 80% -4.33 टाटा मोटर्स डीवीआर 170 352 107% -5% टाटा केमिकल्स 349 567 62% -4.85% टाटा कॉफी 140 130 -7 -3% टाटा कम्यूनिकेशन 236 651 176 -4.36% टाटा एलेक्सी 229 1293 464% -4.57 टाटा ग्लोबल बेवरेजिज लिमिटेड 160 148 -7.5% -5.75 टाटा इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन 462 619 34% -1.45 टाटा मेटेलिक्स 62 393 534% -8.53% टाटा पावर 105 81 -23% -3.57% टाटा स्पॉन्ज आयरन 306 624 104% -3.61 टाटा स्टील 433 413 -5% -6.33 टिनप्लेट 82 86 5% -4.70 रैलिस इंडिया 150 227 51% -5 ट्रेंट 128 200 56% -1.47 नेलको 51 93 82% -4.21 इंडियन होटल 98 125 27% -7 वोल्टास 105 392 273% -2 सभी आंकड़े बीएसई की वेबसाइट से लिए गए हैं। साइरस मिस्त्री को हटाने के बाद सभी स्टॉक लुढ़के टाटा ग्रुप के बोर्ड ने 24 अक्टूबर को साइरस मिस्त्री को चेयरमैन के पद से हटा दिया था जिसके बाद स्टॉक मार्केट में टाटा ग्रुप की कंपनियों के स्टॉक में भारी बिकवाली देखने को मिली। इस दौरान सबसे ज्यादा गिरावट टाटा मेटेलिक्स के स्टॉक में 8.53 फीसदी की देखने को मिली। वहीं टीसीएस का स्टॉक भी 1 फीसदी से ज्यादा टूटा। 500% से ज्यादा बढ़े स्टॉक के भाव सायरस मित्री के केवल 4 साल के कार्यकाल में टाटा ग्रुप की कुछ कंपनियों के स्टॉक प्राइस 500% तक बढ़े इस दौरान सबसे ज्यादा तेजी 534 फीसदी की तेजी टाटा मेटेलिक्स के स्टॉक में रही जबकि इसके बाद टाटा एलेक्सी का स्टॉक 464 फीसदी तक तेज हुआ। जबकि इस दौरान कुछ कंपनियों के स्टॉक में गिरावट भी दर्ज की गई। सायरस मिस्त्री के कार्यकाल में टाटा पावर 23 फीसदी, टाटा कॉफी 7 फीसदी, टाटा ग्लोबल बेवरेजिज 7.5 फीसदी और टाटा स्टील 5 फीसदी लुढ़के हैं। अगली स्लाइड: साइरस मिस्त्री के कार्यकाल में दोगुनी हुई मार्केट कैप

जब 'बाहुबली' की एक्ट्रेस ने किया था 24 साल बड़े विनोद खन्ना के साथ लिपलॉक

जब 'बाहुबली' की एक्ट्रेस ने किया था 24 साल बड़े विनोद खन्ना के साथ लिपलॉक

Last Updated: April 26 2017, 11:30 AM

बाहुबली में शिवगामी का दमदार किरदार निभाने वालीं एक्ट्रेस राम्या कृष्णन कभी बॉलीवुड का भी हिस्सा रही हैं.. ये 90 की दशक की बात है जब राम्या ने खलनायक, परंपरा, क्रिमिनल औऱ चाहत जैसी कई हिंदी फिल्मों में काम किया.. हालांकि, बॉलीवुड में राम्या को कुछ खास सक्सेस तो नहीं मिली लेकिन अपने बोल्ड अंदाज की वजह से वो हमेशा सुर्खियों में रहीं.. और तो और अपने से बड़े उम्र के हीरोज के साथ रोमांस करने से भी वो पीछे नहीं हटी.. यहां तक की 24 साल बड़े विनोद खन्ना के साथ फिल्म परंपरा में उन्होंने किस सीन भी दिया था..

कभी ऐसी दिखती थीं 'बाहुबली' की मां, 200 से ज्यादा फिल्मों में किया काम

कभी ऐसी दिखती थीं 'बाहुबली' की मां, 200 से ज्यादा फिल्मों में किया काम

Last Updated: April 26 2017, 11:00 AM

मुंबई: 28 अप्रैल को बाहुबली-2 रिलीज होने जा रही है। फिल्म में राम्या कृष्णन (46) अहम रोल निभाती दिखाई देंगी। महारानी शिवगामी का किरदार निभा रहीं राम्या फिल्म में प्रभास (बाहुबली और शिवडु) की मां और दादी, वहीं राणा दुग्गबाती (भल्लालदेव) की मां का रोल प्ले करती दिखेंगी। बता दें, 200 से भी ज्यादा तमिल, तेलुगु, कन्नड़ और मलयालम फिल्मों में काम कर चुकीं राम्या ने वजूद (1998), बड़े मियां छोटे मियां (1998), चाहत (1996), क्रिमिनल (1994) जैसी हिंदी फिल्मों में भी काम किया है। राम्या बोलीं- स्क्रिप्ट सुनते हुए सो जाती थी, लेकिन... हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में राम्या ने माना कि बाहुबली की बदौलत उनकी पॉपुलैरिटी काफी हद तक बढ़ गई है। सिर्फ साउथ ही नहीं, बल्कि देश-विदेश में भी शिवगामी के नाम से लोग उन्हें पहचानने लगे हैं। फिल्म के लिए एसएस राजामौली से हुई पहली मीटिंग के बारे में राम्या ने बताया, सारा क्रेडिट डायरेक्टर एसएस राजामौली को जाता है, जिस तरह से उन्होंने मुझे फिल्म की कहानी सुनाई थी, मेरे रौंगटे खड़े हो गए थे। मैं खुद को रानी शिवगामी जैसा समझने लगी थी। आमतौर पर नरेशन के वक्त में सो जाती थी। लेकिन पहली बार जब राजामौली ने स्टोरी सुनानी शुरू की तो लगातार 2 घंटों तक मैं सुनती रही। हर शॉर्ट, हर सीन बिल्कुल क्लियर था। मानो मैं कोई वीडियो देख रही हूं। जब डायरेक्टर का विजन इतना क्लियर है तो आर्टिस्ट्स के लिए किरदार में ढलना आसान होता है। मैंने कोई तैयारियां नहीं की थी। जैसे ही पूरी कहानी सुनी, मैंने सिर्फ अपने आप को इस रोल के लिए परफेक्ट पाया और शिवगामी की तरह बदल गई। जैसे ही मैंने कपड़े और गहने पहने, मेरी पूरी बॉडी लैंग्वेज बदलकर एक रानी (शिवगामी) जैसी हो गई। आगे की स्लाइड्स पर जानें, राम्या कृष्णन की पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ के बारे में....

निवेशक इन चीजों से सावधान रहें, तो घोटालों से बचे रहेंगे

निवेशक इन चीजों से सावधान रहें, तो घोटालों से बचे रहेंगे

Last Updated: April 25 2017, 07:59 AM

हाल ही में उत्तरप्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स ने अब्लेज इंफॉर्मेटिक्स नाम की कंपनी के निदेशक और दो कर्मचारियों को गिरफ्तार किया है। यह वही कंपनी है, जो सोशलट्रेंडबिज. इन, फ्रीहब.कॉम, इंटमार्ट.कॉम और फ्रेंजअप.कॉम जैसे अलग-अलग नामों से कंपनियां चलाती थी। कई लोगों ने अलग से इनकम जुटाने के लिए अपनी बचत का अच्छा-खासा हिस्सा इनमें लगा रखा था। हिसाब और खाता सभी बनाए गए थे। करीब 11 लाख लोग इसके सदस्य बन गए थे। इसमें एमएलएम की अवधारणा मार्केटिंग में लागू कर रखी थी, जिसमें एक सदस्य के नीचे और सदस्य बनाना होते हैं और दावा किया जाता है कि जैसे-जैसे सदस्य बनाएंगे पैसा मिलता जाएगा। ज्यादा मुनाफा कमाने के चक्कर में 11 लाख लोगों ने इसमें पैसा लगा दिया। खासतौर पर उत्तर भारत के अधिकांश लोग इसमें पैसा लगाए हुए हैं। चूंकि कंपनियों ने कोई पैसा रिटर्न के तौर पर नहीं दिया, लिहाजा जांच की जा रही है। देश में इतने घोटालों के बाद भी लोग इस तरह की कंपनियों में निवेश करते हैं। 1992 के बाद से लगातार लोगों की बचत और निवेश को लेकर कई कंपनियों ने ठगा है। वर्ष 2000 में सत्यम के प्रमोटर ने अपने अकाउंट में भारी गड़बड़ी करते हुए भारी मुनाफा दिखाया था। साथ ही एफडी के बारे में भी गलत जानकारियां दी गई थी। जबकि कंपनी के पास ऐसा कुछ नहीं था। 9 वर्ष बाद रामलिंगम राजू ने अपना अपराध स्वीकारा। लेकिन इस अवधि में लाखों निवेशकों का पैसा पानी हो गया। इससे पहले सत्यम के शेयर खरीदी को लेकर विशेषज्ञ सिफारिशें करते थे। विशेषज्ञ कंपनी की बैलेंस शीट भी लगातार देखते रहे हैं, लेकिन यह कभी नहीं पकड़ा जा सका कि उसके खातों में क्या गड़बड़ियां हैं। इतना ही नहीं किस कंपनी में क्या गड़बड़ी चल रही है, इसे पकड़ना बेहद मुश्किल है। इस बारे में कोई भी सटीक जानकारी नहीं दे सकता। यदि इनवेस्टमेंट बैंकर, ब्रोकरेज फर्म और कंपनी के निदेशक मंडल में बैठे निदेशक ही चोरी या गलती करते हुए पकड़े जाएं तो सामान्य निवेशक भाग्य को ही कोसेगा कि रक्षक भक्षक बन गए। निवेशकों को क्या सबक?- कभी भी डायरेक्ट ट्रेडिंग तब तक नहीं करें, जब तक कि एक-एक तथ्य की पूरी जानकारी न हो। इसके अलावा बेहतर है कि म्युचुअल फंड में पैसा लगाएं। यदि आप किसी शेयर में निवेश करना चाहते हैं तो बहुत सीमित खरीदी ही करें, ताकि नुकसान होने का असर न पड़ सके। संजय अग्रवाल नाम के एक शख्स ने वर्ष 2000 में एक पोर्टल शुरू किया और तमाम खिलाड़ी और सितारों के साथ अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग करने लगा। पोर्टल में कहा गया कि वह सरकारी सिक्यूरिटीज और गिल्ट्स में पैसा लगाते हैं। निवेशकों ने दलालों के जरिए पैसा लगाया, जबकि कोई प्रतिभूतियां थी ही नहीं। निवेशक फिर ठगा गए। निवेशकों को क्या सबक?-कभी भी किसी खिलाड़ी या सितारे के नाम पर आ रहे विज्ञापन से आकर्षित न हों। 2004-05 में आईपीओ घोटाला हुआ था। आईपीओ में प्राइमरी बाजार में खूब गड़बड़ी हुई। शेयरों के छोटे खरीददारों के नाम पर फर्जी डीमेट अकाउंट बनाए गए। और एक-एक कारोबारी ने 5 हजार तक के डीमेट अकाउंट बना लिए। एक बार शेयरों का आवंटन होने पर पैसा लगाने वाले निवेशकों ने उसे लिस्टिंग के दिन ही बेचकर खूब जमकर पैसा कमाया। निवेशकों को क्या सबक?- आईपीओ कोई ऐसी चीज़ नहीं है, जिससे कि रातों-रात निवेशक अमीर हो सकते हैं। क्योंकि इसमें सीमित आवंटन ही होता है। यदि कोई फिर भी आपको प्रलोभन दे रहा है तो यह तो समझ ही लेना चाहिए कोई भी मुफ्त में किसी के लिए कुछ नहीं करता है। इसी प्रकार से यूएस-64 स्कीम में निवेशकों से पैसा जुटाया गया। निवेशकों को क्या सबक?- कभी भी एक ही फंड में पैसा न लगाया जाए। अलग अलग फंड्स में पैसा लगाना ठीक होता है। फैक्ट- पांच हजार करोड़ रुपए के हर्षद मेहता घोटाले के इतने वर्षों बाद हाल ही में इससे संबद्ध चार पूर्व बैंक अफसरों को सजा सुनाई गई है। मधुपम कृष्णा सदस्य, फाइनेंशियल प्लानर्स गिल्ड ऑफ इंडिया

ऋतिक रोशन या महेश बाबू कौन बनेंगे 'महाभारत' के कृष्ण

ऋतिक रोशन या महेश बाबू कौन बनेंगे 'महाभारत' के कृष्ण

Last Updated: April 22 2017, 11:59 AM

मुंबई। बाहुबली जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्में देने वाले वाले डायरेक्टर एसएस राजामौली अब अपने नेक्स्ट प्रोजेक्ट में बिजी हैं। सोर्स की मानें तो ये बाहुबली 2 के बाद अपकमिंग फिल्म महाभारत पर काम शुरू कर रहे हैं। इस फिल्म में कृष्ण के रोल के लिए ऋतिक रोशन या महेश बाबू में से कोई एक नाम फाइनल हो सकता है। हालांकि, इस रोल के लिए सबसे पहले आमिर खान का नाम लिया जा रहा था। खैर ये तो आने वाले समय में ही पता चलेगा कि ये रोल किसकी झोली में आता है।

'ये है मोहब्बतें' की इस एक्ट्रेस ने की दूसरी की चुगली, फिर पड़ी मम्मी की डांट

'ये है मोहब्बतें' की इस एक्ट्रेस ने की दूसरी की चुगली, फिर पड़ी मम्मी की डांट

Last Updated: April 22 2017, 00:05 AM

मुंबई: टीवी के पॉपुलर शो ये है मोहब्बतें के सेट पर कैट-फाइट का मामला सामने आया है। दिव्यंका त्रिपाठी (इशिता) की ऑनस्क्रीन बेटियां अदिति भाटिया (रूही) और रुहानिका धवन (पीहू) के बीच ऐसा मामला बिगड़ा कि रुहानिका की मां ने अदिति को खरी-खोटी तक सुना डाली। क्या है पूरा मामला? एक एंटरटेनमेंट पोर्टल में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, अदिति (17) और रुहानिका (9) किसी सीन की शूटिंग कर रही थीं। लेकिन हाइट में अंतर होने की वजह से इसकी शूटिंग में काफी दिक्कतें आ रही थी। फिर डिफरेंस घटाने के लिए रुहानिका ने स्टूल पर खड़े होकर सीन दिए। बावजूद इसके कई री-टेक्स लेने पड़े। जैसे ही सीन खत्म हुआ, इरिटेट होकर अदिति वहां से सीधे को-स्टार कृष्णा मुखर्जी के पास चुगली करने चली गई। बातचीत के दौरान अदिति ने रुहानिका को बेवकूफ (Dumb) कह दिया। ये बात जैसे ही रुहानिका ने सुनी, तुरंत उन्होंने अपनी मां डॉली धवन (जो कि सेट पर मौजूद थीं) को ये बात बताई। रुहानिका की मां ने प्रोडक्शन टीम के सामने पहले कृष्णा फिर अदिति को जमकर खरी खोटी सुनाई। सौतेली बहनों का रोल निभा रहीं अदिति-रुहानिका ये है मोहब्बतें में अदिति और रुहानिका ऑन-स्क्रीन सौतेली बहनों का किरदार निभा रही हैं। अनिता हसनंदानी (शगुन) और करन पटेल (रमन भल्ला) की बेटी अदिति (रूही) बनी हैं। वहीं, दिव्यंका त्रिपाठी (इशिता) और करन पटेल (रमन भल्ला) की बेटी का रोल रुहानिका (पीहू) प्ले कर रही हैं। दोनों ही शो की लीड एक्ट्रेस दिव्यंका से काफी करीब हैं। लड़ाई की बात पर क्या है अदिति का रिएक्शन? जैसे ही इस लड़ाई की खबरों ने सुर्खियों बटोरी। इनपर सफाई देते हुए अदिति ने लंबी पोस्ट इंस्टाग्राम पर लिख डाली। रुहानिका के साथ एक फोटो शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, ऐसा संभव नहीं कि मैंने रुहालिका के बारे में गलत कहा हो। अगर किसी ने गलत सुना या समझा है तो मैं कुछ नहीं कर सकती। मैंने हमेशा रूही को छोटी बहन की तरह प्यार किया है। यदि कोई बिना जानें इतनी बुरी तरह से व्यवहार करेगा तो मैं कुछ नहीं कर सकती। यह कहूंगी कि मैं बड़ों की इज्जत करती हूं और मैंने कुछ भी गलत नहीं कहा। वैसे, अदिति की इन बातों से यह तो साफ है कि रुहानिका की मां ने उन्हें जमकर भटकार लगाई है। इस पोस्ट के जरिए अदिति ने यह भी क्लियर कर दिया कि सेट पर कैट-फाइट की बातें सच है। उम्मीद है जल्द ही यह झगड़ा सुलझ जाएगा। आगे की स्लाइड्स पर देखें, अदिति का इंस्टाग्राम पोस्ट, साथ ही देखें उनकी और रुहानिका की Photos...

प्रेमिका की खातिर पिता ने किया बेटे का मर्डर, जानिए क्या था इसका प्लान

प्रेमिका की खातिर पिता ने किया बेटे का मर्डर, जानिए क्या था इसका प्लान

Last Updated: April 21 2017, 07:43 AM

ग्वालियर. शादीशुदा युवक अपने ही पड़ोस में रहने वाली एक लड़की से शादी करना चाहता था। दोनों की शादी में पत्नी बाधक थी, इसलिए युवक ने अपने सोते हुए दो साल के बेटे की हत्या कर दी। हालांकि आरोपी युवक का कहना है कि उसके जीजा ने बेटे को कोई दवा खिला दी, जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है। यह है मामला... -मुरैना के अंबाह कस्बे में अजय अपनी पत्नी कृष्णा और दो साल के बेटे राहुल के साथ रहता था। शादीशुदा अजय का पड़ोस में रहने वाली एक लड़की से प्रेम प्रसंग है। -अजय उसके साथ शादी करना चाहता था और कई बार उसी के घर में रहता था। करीब एक हफ्ते पहले नवरात्रि के बाद अजय रात को उस लड़की से मिलकर आया और पत्नी से बोला कि राहुल के साथ मैं सोता हूं। सुबह मरा मिला बेटा -पत्नी कृष्णा ने कोई आपत्ति नहीं की। सुबह जब वह सोकर उठी तो राहुल बेसुध था और पति अजय गायब था। कृष्णा ने राहुल को हिलाया, लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। -कृष्णा ने तुरंत अपने पिता राकेश सखवार को फोन करके जानकारी दी। पिता तुरंत बेटी के पास पहुंचे और पुलिस को खबर की। -पुलिस ने गायब अजय को खोजना शुरू किया। तीन दिन पहले अजय पुलिस को मिल गया। पुलिस ने उससे गिरफ्तार करके पूछताछ की। आरोपी पिता ने कहा जीजा ने मारा बेटे को -पुलिस हिरासत में अजय का कहना था कि बेटे राहुल को जुकाम था, इसलिए जीजा सुरेन्द्र ने उसे गोली दे दी, जिसके कारण उसकी मौत हो गई। -अजय का यह भी कहना था कि पड़ोस की लड़की उसकी मुंहबोली बहन है, पत्नी और उसके मायके वाले बेकार में शक करते हैं। - वहीं कृष्णा और उसके पिता राकेश का कहना था कि अजय का लंबे समय से पड़ोस की लड़की से रिश्ता है और इस काम में उसके जीजा सुरेन्द्र भी मदद कर रहे हैं। पुलिस ने बताया पिता ने की बेटे की हत्या -उधर अंबाह पुलिस का कहना है कि जीजा सुरेन्द्र से भी पूछताछ की गई, लेकिन जिस प्रकार से सबूत मिले हैं, उससे यही लगता है कि अजय ने ही बेटे राहुल की हत्या की है। -पुलिस का यह भी कहना था राहुल की मौत होते ही अजय गायब हो गया था। जब उसे पकड़ा गया तो वह पत्नी और ससुर पर दबाव डालकर मामले को रफा-दफा करने का मन बना रहा था। यह प्लान था अजय का -पुलिस के मुताबिक अजय का प्लान था कि बेटे की मौत के बाद पत्नी कृष्णा मायके चली जाएगी और बेटे के गम में दुखी रहेगी। -पत्नी के मायके जाने के बाद उसे अपनी प्रेमिका के साथ रहने का मौका मिल जाएगा और कुछ समय बाद वह उससे शादी भी कर लेगा। -इसलिए उसने बेटे की मौत का आरोप अपने जीजा सुरेन्द्र पर भी डालना चाहा, लेकिन सफल नहीं हुआ। पुलिस ने जांच करके मामले का खुलासा कर दिया। स्लाइड्स में है इस मामले के फोटोज.....

फैमिली के साथ आउटिंग पर निकले टाइगर श्रॉफ, एन्जॉय किया डिनर

फैमिली के साथ आउटिंग पर निकले टाइगर श्रॉफ, एन्जॉय किया डिनर

Last Updated: April 20 2017, 15:42 PM

मुंबई: टाइगर श्रॉफ की पूरी फैमिली ने बुधवार रात यहां के होटल द कॉर्नर हाउस में डिनर एन्जॉय किया। रेस्त्रां के बाहर जैकी श्रॉफ को अकेले एक कार की फ्रंट सीट पर देखा गया। जबकि उनकी बेटी कृष्णा, बेटे टाइगर और पत्नी आयशा दूसरी गाड़ी से पहुंचे। रेस्त्रां के अंदर जाने से पहले सभी ने मीडिया के कैमरों के लिए पोज दिया। बता दें, हीरोपंति से डेब्यू करने वाले टाइगर जल्द ही मुन्ना माइकल में नजर आएंगे। इस फिल्म की प्रोडक्शन टीम से उनकी बहन कृष्णा भी जुड़ी हैं। आगे की स्लाइड्स पर देखें, रेस्त्रां के बाहर नजर आई टाइगर श्रॉफ और उनकी फैमिली की Photos...

चम्पारण सत्याग्रह शताब्दी समारोह:  राष्ट्रपति ने किया 1108 सेनानियों को सम्मानित

चम्पारण सत्याग्रह शताब्दी समारोह: राष्ट्रपति ने किया 1108 सेनानियों को सम्मानित

Last Updated: April 17 2017, 19:14 PM

पटना. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने सोमवार को बिहार सरकार द्वारा आयोजित चंपारण सत्याग्रह शताब्दी समारोह में 1108 स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मानित किया। पटना के श्री कृष्ण मेमोरियल हॉल में आयोजित इस कार्यक्रम में राज्यपाल रामनाथ कोविंद, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, राजद प्रमुख लालू यादव समेत बिहार के कई नेता शामिल थे। सांप्रदायिकता और क्षेत्रीयता जैसे विचारों के खिलाफ अभियान चलाने की जरूरत - राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा कि विविधता में एकता ही भारत की ताकत है। इसे हर हाल में बरकरार रखना होगा। - सोमवार को चम्पारण सत्याग्रह शताब्दी वर्ष के मौके पर श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में राष्ट्रपति ने कहा कि भारत में लोग रोजाना दो सौ भाषाओं का प्रयोग करते हैं। यहां सात प्रमुख धर्म है, फिर भी पहचान सिर्फ यही है कि हम भारतीय हैं। - एक तिरंगा और एक संविधान के दायरे में रह कर काम करना इस देश की खूबी है। देश को एकजुट रखने के लिए सांप्रदायिकता और क्षेत्रीयता जैसे विचारों के खिलाफ अभियान चलाने की जरूरत है। बिहार की धरती का ऐतिहासिक महत्व है - राष्ट्रपति ने कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन में अपनी अहम भूमिका निभाने वाले स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मानित किया जा रहा है। - बिहार सरकार की यह पहल सराहनीय है और इस समारोह में शामिल होना मेरे लिए भी गर्व की बात है। बापू की याद में आयोजित कार्यक्रम से पूरा देश फिर से जाग उठा है। - बिहार की धरती का अपना ऐतिहासिक महत्व है। चम्पारण आजादी की लड़ाई का प्रयोगशाला बना जहां से सत्याग्रह को पहचान मिली। महात्मा गांधी ने जो देश के लिए किया है उसे लोग भुला नहीं सकते। - जीसस क्राइस्ट ने सदियों पहले विश्व को प्रेम और सद्भाव का संदेश दिया था और उसी तरह महात्मा गांधी ने सत्य और अहिंसा का संदेश दिया। - उन्होंने पूरे विश्व को बताया कि शासन के अत्याचार का मुकाबला सत्य और अहिंसा के जरिए भी किया जा सकता है। - आजादी की लड़ाई में बिहार का लम्बा इतिहास रहा है। लोगों को अपना इतिहास नहीं भूलना चाहिए। आज भी हैं गांधी जी के विचार प्रासंगिक - राष्ट्रपति और राहुल गांधी के पटना दौरे के चलते दिन भर पटना की सड़कों पर पुलिस बल की तैनाती रही। - एसकेएम हॉल से लेकर एयरपोर्ट तक सुरक्षा के चाक चौबंद इंतजाम किए गए थे। - दिन में दो बार वीवीआईपी मूवमेंट के चलते काफी देर तक ट्रैफिक रोका गया, जिससे लोगों को जाम का सामना करना पड़ा। - राष्ट्रपति ने 1108 स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मानित किया, जिनमें से 846 बिहार के रहने वाले हैं। - कार्यक्रम में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को भी आना था, लेकिन उनका दौरा रद्द हो गया है। असहिष्णुता के इस दौर में गांधीजी के विचार हैं प्रासंगिक - शताब्दी समारोह में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि आज हर तरफ टकराव की बात हो रही है। - असहिष्णुता के इस दौर में गांधी जी के विचार प्रासंगिक हैं। इसके लिए हमने पिछले दिनों गांधी जी के विचार पर राष्ट्रीय विमर्श आयोजित किया। - मुख्यमंत्री ने कहा कि इस कार्यक्रम में हमने दलगत भावना से ऊपर उठकर सभी दलों के लोगों को निमंत्रित किया था। हमने तो देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह को भी आमंत्रित किया था। उन्होंने पहले आने के लिए सहमति दे दी थी, लेकिन अंतिम समय में उनका आना रद्द हो गया। जो लोग नहीं आए उनसे हमारा कोई गिला शिकवा नहीं है। भाजपा ने राजनीति करने का लगाया आरोप - भाजपा नेता मंगल पांडेय ने कहां कि इस गरिमा पूर्व कार्यक्रम में शामिल होने के लिए कई भाजपा नेता आ रहे थे। - सीएम नीतीश कुमार ने इस कार्यक्रम के नाम पर राजनीति कर रहे हैं। इस कार्यक्रम में राहुल गांधी के साथ मंच पर लालू प्रसाद को बैठाया जा रहा है। - कार्यक्रम के राजनीति होने से गृह मंत्री राजनाथ सिंह दुखी हैं। उनका दौरा रद्द हो गया है। रेल मंत्री सुरेश प्रभु और अन्य भाजपा नेता भी कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे। फोटो- शेखर

बेटे को डायरेक्टर ने कहा ट्रांसजेंडर, जैकी श्रॉफ की पत्नी ने दिया करारा जवाब

बेटे को डायरेक्टर ने कहा ट्रांसजेंडर, जैकी श्रॉफ की पत्नी ने दिया करारा जवाब

Last Updated: April 14 2017, 18:01 PM

मुंबई: विद्युत जामवाल ने राम गोपाल वर्मा का <a href='http://bollywood.bhaskar.com/news/ENT-BNE-ram-gopal-varma-calls-tiger-shroff-transgender-news-hindi-5572988-PHO.html?ref=bf1'>एक ऑडियो सोशल मीडिया</a> पर हाल ही में पोस्ट किया, जिसमें शराब के नशे में वे टाइगर श्रॉफ को ट्रांसजेंडर और सबसे खूबसूरत महिला बताते नजर आए। टाइगर पर हुए इस कमेंट पर उनकी मां आएशा श्रॉफ ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। एक पोर्टल को दिए इंटरव्यू में आएशा बोलीं- जब कारवां चलता है तो कुत्ते भौंकते ही है (While the dogs bark, the caravan passes on) क्या है जैकी और कृष्णा श्रॉफ का कहना... - राम गोपाल वर्मा की अपकमिंग फिल्म सरकार 3 में जैकी श्रॉफ अहम रोल निभाते नजर आएंगे। जब टाइगर पर हुए इस कमेंट पर उनका रिएक्शन मांगा गया तो जैकी बोले- मैं क्या कह सकता हूं? मेरे बेटा का लोगों पर इतना असर है कि वे अपना काम छोड़ उसपर कमेंट कर रहे हैं। - वहीं, टाइगर की बहन कृष्णा बोलीं, मुझे भाई पर गर्व है, क्योंकि बेहद कम समय में उसने लंबे वक्त से इंडस्ट्री में जुड़े लोगों पर इतना प्रभाव छोड़ा है। वह बेहतरीन काम कर रहा है। टाइगर बोले- मन की बात बोलूं तो सही नहीं होगा - राम गोपाल वर्मा के इस कमेंट पर जब टाइगर से सवाल किए गए तो उन्होंने कहा- मन की बात बोलूं तो सही नहीं होगा। - राम गोपाल वर्मा कई सालों से इंडस्ट्री से जुड़े हुए हैं और मेरे सीनियर भी हैं। मैंने हाल ही में इंडस्ट्री ज्वाइन की है और यहां के लिए नया हूं। मैं इसपर कमेंट नहीं करूंगा, क्योंकि यह मेरे माता-पिता को शर्मिदा कर सकता है। राम गोपाल वर्मा ने टाइगर को कहा- खूबसूरत महिला, जानें इसपर क्या था डायरेक्टर फराह खान का रिएक्शन...

पिता की अस्थियां विसर्जित कर मुंबई लौटीं ऐश, सीरियस लुक में दिखे सुनील

पिता की अस्थियां विसर्जित कर मुंबई लौटीं ऐश, सीरियस लुक में दिखे सुनील

Last Updated: April 11 2017, 16:13 PM

मुंबई: ऐश्वर्या राय बच्चन शनिवार को पिता कृष्णराज राय की अस्थि विसर्जन के लिए मैंगलोर के सहस्त्र लिंगेश्वर मंदिर गई थीं। पिता के अंतिम संस्कार की रस्मों को पूरा करने के बाद वे रविवार को मुंबई वापस लौट आई हैं। बेटी आराध्या और परिवार के बाकी लोगों के साथ उनको एयरपोर्ट पर क्लिक किया गया। इस दौरान ऐश और आराध्या ने व्हाइट ड्रेस पहन रखा था। बता दें, ऐश्वर्या के पिता का निधन 18 मार्च को हुआ था। एयरपोर्ट पर सीरियस लुक में दिखे सुनील ग्रोवर... कपिल शर्मा के साथ विवाद को लेकर कॉमेडियन सुनील ग्रोवर इन दिनों चर्चा में हैं। रविवार को उन्हें ब्लैक आउटफिट पहने एयरपोर्ट के बाहर क्लिक किया गया। इस दौरान वे काफी सीरियस लुक में दिखाई दिए। दरअसल, एक फैन सुनील के साथ सेल्फी लेना चाहता था। लेकिन कैमरे में पोज देने के बजाय सुनील ने आंखें नीचे करके चलना ही बेहतर समझा। बता दें, अथिया शेट्टी, अर्जुन रामपाल, सिंगर कनिका कपूर, ऋचा चड्ढा को भी एयरपोर्ट पर क्लिक किया गया। आगे की स्लाइड्स पर देखें, एयरपोर्ट पर नजर आए स्टार्स की 5 Photos...

गोपाल कृष्ण गांधी बोले- बिहार ही देश को प्रकाश दिखाता रहा है, फिर दिखाएगा

गोपाल कृष्ण गांधी बोले- बिहार ही देश को प्रकाश दिखाता रहा है, फिर दिखाएगा

Last Updated: April 11 2017, 06:06 AM

पटना. महात्मा गांधी जी के पौत्र व पूर्व राज्यपाल गोपाल कृष्ण गांधी ने कहा कि बिहार ही हमेशा देश को प्रकाश दिखाता रहा है, फिर दिखाएगा। 1917 में गुलामी के खिलाफ बिहार से निकली चिनगारियों ने देश की आजादी की नींव रखी। बिहार में ही जुर्म के खिलाफ जेपी ने राष्ट्रीय आंदोलन की शुरुआत की थी। आज फिर जेपी आंदोलन की जरूरत है। वे सोमवार को चंपारण सत्याग्रह शताब्दी समारोह पर आयोजित राष्ट्रीय विमर्श को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा- जो अपने आप को गांधीवादी कहता है, वह खुद को धोखा देता है। बिना नारा लगाए जो गांधी के बताए रास्ते पर चल कर काम कर रहा है, वह सही अर्थ में गांधीवादी है। उनके अनुसार, बिहार में किसानों को अंग्रेजों के जुल्म से बचाने के लिए चंपारण सत्याग्रह हुआ था। आज भी किसानों की समस्या बरकरार है। किसानों की जमीन सार्वजनिक कार्य के लिए ली जाए, तो ठीक है, लेकिन भूमि अधिग्रहण कानून के जरिए किसानों की जमीन लेकर किसी उद्योगपति को दिया जाए, तो यह बड़ा जुर्म होगा। मनरेगा को आधार से जोड़ने की जरूरत नहीं है। बच्चों को मिड-डे मिल के लिए आधार से जोड़ना गलत है। आज आधार को ऐसा बनाया जा रहा है कि इसके बिना कुछ नहीं हो सकता। ऐसा कदम खतरनाक साबित हो सकता है। रसोई गैस के लिए भी आधार चाहिए। ऐसा न हो जाए कि आधार का दुरुपयोग होने लगे। आज किसानों की जमीन पर पूंजीपतियों की निगाहें हैं। किसानों की जमीन बचाने की जरूरत है। पहले गांधी को भी नहीं पता था कैसा होता है नील का पौधा : कार्यक्रम का संचालन करते हुए गांधी शांति प्रतिष्ठान नई दिल्ली के अध्यक्ष कुमार प्रशांत ने कहा कि ज्ञान भवन का उद्घाटन किसी व्यक्ति से नहीं विचारधारा से हो रहा है। यह भी इतिहास में बिहार के नाम दर्ज होगा। चंपारण आने के पहले गांधी को पता नहीं था कि नील का पौधा क्या होता है? बापू की सोच थी कि गरीबी शिक्षा से ही दूर हो सकती थी। इसके लिए उन्होंने मोतिहारी के पास कई स्कूल भी स्थापित किए। कानून मानने से अधिक तोड़ने वालों की प्रतिष्ठा सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति चंद्रशेखर धर्माधिकारी ने कहा कि आज देश में कानून मानने से अधिक कानून तोड़ने वालों की प्रतिष्ठा है। ऐसे में गांधीवाद की प्रासंगिकता बढ़ जाती है। आज कई राज्य सरकारें कानून तोड़ने के लिए चोर दरवाजे का रास्ता निकाल रही है। जयप्रकाश नारायण को याद करते हुए उन्होंने कहा कि पटना उनके लिए किसी तीर्थस्थल से कम नहीं है। सत्याग्रह की पहली शर्त है सत्य के प्रति आग्रह। आज युवाओं को यह बात समझने की अधिक जरूरत है, क्योंकि आजकल सत्याग्रह के अर्थ ही बदल दिए गए हैं। संविधान में समाजवाद की व्याख्या नहीं हो सकी। ऐसे में इसे संविधान में रखने का क्या औचित्य है? इसे संविधान से निकाल देना चाहिए।

बीच पर दिखा जैकी श्रॉफ की बेटी का ऐसा अंदाज, Bikini में टैटू को किया फ्लॉन्ट

बीच पर दिखा जैकी श्रॉफ की बेटी का ऐसा अंदाज, Bikini में टैटू को किया फ्लॉन्ट

Last Updated: April 08 2017, 16:59 PM

मुंबई: जैकी श्रॉफ की बेटी कृष्णा हाल ही में वेकेशन मनाकर लौटी है। हालांकि, वे कहां गई थीं इस बात की जानकारी नहीं हैं। कृष्णा ने वेकेशन की दो फोटोज सोशल मीडिया पर शेयर की है। पहली फोटो में वे रेड बिकिनी में नजर आईं। जबकि हालिया पोस्ट में वे बीच पर योगा (चक्र आसन) करती दिखाई दे रही हैं। उन्होंने ब्लैक कलर की बिकिनी पहन रखी है और उनकी जांघों पर टैटू साफ नजर आ रहा है। वायरल हो चुका टॉपलेस फोटोशूट... सोशल मीडिया पर एक्टिव कृष्णा उस वक्त सुर्खियों में आई थी जब उन्होंने टॉपलेस फोटोशूट शेयर किया था। बता दें, कृष्णा को कई फिल्मों के ऑफर आ चुके हैं, लेकिन एक्टिंग में दिलचस्पी न होने के कारण वे सारे ठुकरा चुकी हैं। डॉक्युमेंट्री को डायरेक्ट कर चुकी हैं कृष्णा जैकी श्रॉफ के बेटे टाइगर ने फिल्म हीरोपंती से डेब्यू किया था। वे बागी और फ्लाइंग जट में भी काम कर चुके हैं, फिलहाल मुन्ना माइकल की शूटिंग में बिजी हैं। वहीं, भाई टाइगर के उलट कृष्णा ने कैमरे के पीछे रहने का करियर चुना है। कृष्णा ने पिछले दिनों ट्रांसजेंडर कम्युनिटी पर बेस्ड डॉक्युमेंट्री फिल्म ब्लैक शीप का वीडियो फैन्स के साथ शेयर किया है। 70 मिनट की यह फिल्म कई अवॉर्ड्स अपने नाम कर चुकी है। आगे की स्लाइड्स पर देख सकते हैं, कृष्णा श्रॉफ के इंस्टाग्राम अकाउंट से ले गईं 6 Photos...

Flicker