• देखिये ट्रेनडिंग न्यूज़ अलर्टस

रजित कपूर

यहीं बना था 'बेगम जान' का कोठा, जानिए शूटिंग के दौरान क्या हुआ था यहां

यहीं बना था 'बेगम जान' का कोठा, जानिए शूटिंग के दौरान क्या हुआ था यहां

Last Updated: April 15 2017, 09:52 AM

दुमका(झारखंड)। यहां नंदिनी गांव में पिछले साल जून-जुलाई के दौरान 'बेगम जान' की शूटिंग हुई थी। यहीं फिल्म का सेट बनाया गया था। शुक्रवार को फिल्म पर्दे पर आई। शूटिंग के दौरान फिल्म में लीड रोल कर रही विद्या बालन से मिलने और सेल्फी खिंचवाने के लिए लोग दीवानों की तरह घूमते नजर आए थे। सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने पहुंचे एसपी प्रभात कुमार ने भी विद्या के साथ सेल्फी खिंचवाई और उनसे मुलाकात की थी।     -फिल्‍म की करीब 90 प्रतिशत शूटिंग झारखंड के दुमका में हुई थी। फिल्‍म की शूटिंग दुमका जिले के रनेश्‍वर, पाटजोर और नंदिनी गांव में हुई थी। -गांव में पहाड़ की खूबसूरत वादियों में ‘बेगम जान’ के कोठे का जो सेट बना था, वह मुख्य रूप से प्लाई का था। इस सेट को बनाने में करीब 20 दिन लगे थे। -करीब डेढ़ माह तक विद्या बालन, नसीरुद्दीन शाह, आशीष विद्यार्थी, चंकी पांडेय जैसे कलाकार यहां ठहरे थे। जहां फिल्म का सेट था, वहां से कलाकार एक घंटे की दूरी तय कर शांति निकेतन में ठहरते थे। -दिन-रात शूटिंग चलती थी। इस दौरान स्थानीय पुलिस की दो टीम लगातार एक्टर्स की सिक्युरिटी में तैनात रही। ‘बेगम जान’ बांग्‍ला फिल्म ‘राजकाहिनी’ की रीमेक है, जो एक वेश्या के जीवन और उसके कोठे पर केंद्रित हैं। -फिल्‍म का ट्रेलर दमदार है, जिसे लोगों की अच्‍छी प्रतिक्रिया मिली है। फिल्‍म में 11 महिलाओं की कहानी है जिनके ऊपर भारत-पाकिस्‍तान के विभाजन के बाद कहर टूटता है।   आगे की स्लाइड्स में देखिए फोटोज...  

बेगम जान की एक झलक पाने उमड़ी भीड़, विद्या ने सुनाए ये डॉयलॉग्स

बेगम जान की एक झलक पाने उमड़ी भीड़, विद्या ने सुनाए ये डॉयलॉग्स

Last Updated: April 14 2017, 11:10 AM

रांची (झारखंड)। बेगम जान फिल्म की एक्ट्रेस विद्या बालन शनिवार को रांची में थीं। इस दौरान उनकी एक झलक पाने के लिए लोग उमड़ पड़े। यहां के न्यूक्लियस मॉल में उनका एक प्रोग्राम था, जहां बड़ी संख्या में लोग विद्या को देखने जमे हुए थे। 11 औरतों की कहानी वाली है फिल्म... - इससे पहले विद्या बालन ने सूचना भवन में प्रेस कांफ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने कहा कि बेगम जान 11 महिलाओं पर केंद्रित ऐसी फिल्म है जो किसी भी हाल में अपना घर छोड़ना नहीं चाहती और इसके लिए वे किसी भी हद तक जाने को तैयार हैं। - विद्या ने कहा कि यह अनोखी कहानी है और यह उनका सौभाग्य रहा कि उन्हें इस फिल्म में काम करने का मौका मिला। बंगला में बनने के बाद इस फिल्म का निर्माण हिंदी में हुआ है। - मौके पर विद्या ने फिल्म के डाॅयलॉग्स भी सुनाए, इससे पहले कि कोई हमें यहां से हटाए, उससे पहले हम उसके हाथ, पैर और जिस्म का... वो क्या कहते हैं पार्टिशन कर देंगे। राज्य में फिल्म निर्माण के लिए बेहतर माहौल - विद्या बालन ने कहा कि झारखंड के दुमका में फिल्म की ज्यादातर शूटिंग हुई है। दुमका का पतजोर बहुत याद आता है। वहां के लोगों का पूर्ण सहयोग मिला और फिल्म की शूटिंग एक बेहतर माहौल में पूरी हुई। राज्य सरकार ने अपना भरपूर सहयोग फिल्म निर्माण के दौरान दिया है। - प्रेस कांफ्रेंस में फिल्म निर्माता महेश भट्ट, बेगम जान के निर्देशक श्रीजीत सरकार, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार आदि मौजूद थे। आगे की स्लाइड्स पर देखें संबंधित PHOTOS : फोटो : रमीज/संदीप नाग।

धोनी के शहर कुछ यूं पहुंची 'बेगम जान', एसी कार छोड़ ऑटो से की सवारी

धोनी के शहर कुछ यूं पहुंची 'बेगम जान', एसी कार छोड़ ऑटो से की सवारी

Last Updated: April 14 2017, 11:10 AM

रांची। बेगम जान मूवी के प्रमोशन के लिए शनिवार को फिल्म की लीड एक्ट्रेस विद्या बालन और फिल्म निर्माता महेश भट्ट, एमएस धोनी के होम टाउन रांची पहुंचे। एयरपोर्ट से दोनों ही पिंक ऑटो पर बैठ होटल रेडिशन ब्लू गए। फिल्म में विद्या बालन ने बेगम जान नामक महिला का किरदार निभाया है। महिला ऑटो ड्राइवर्स के साथ खिंचवाई थी फोटो... -बताते चलें कि इससे पहले जब महेश भट्ट रांची आए थे तो उन्होंने पिंक ऑटो में सवारी की थी। उन्होंने महिला ड्राइवर्स के साथ फोटो भी खिंचवाई थी। उस वक्त ही यह तय किया था कि पिंक ऑटो के जरिए फिल्म का प्रमोशन किया जाएगा। -दरअसल, पिंक ऑटो महिलाओं के लिए संचालित ऑटो है, जिसकी ड्राइवर भी महिलाएं ही हैं। कहीं ना कहीं यह फिल्म महिला सशक्तिकरण से जुड़ी हुई है, इस लिए पिंक ऑटो ड्राइवर्स को भी फिल्म प्रमोशन में शामिल किया गया। -शनिवार को मुंबई से विद्या बालन और महेश भट्ट रांची एयरपोर्ट पहुंचे। उनके आने से करीब 1 घंटे पहले ही करीब दर्जन भर पिंक ऑटो ड्राइवर यहां आ गईं थी। -एयरपोर्ट पर विद्या बालन को देखने के लिए फैन्स की भीड़ उमड़ पड़ी। विद्या बालन और महेश भट्ट एयरपोर्ट से बाहर आए और एक पिंक ऑटो में बैठ गए। -महेश भट्ट ऑटो में आगे बैठे और विद्या बालन पीछे बैठ होटल रेडिशन ब्लू के लिए रवाना हो गए। यहां से वो सूचना भवन पहुंचे, जहां अधिकारियों और मीडिया से मुलाकात की। इसके बाद एक मॉल में उन्होंने मूवी प्रमोशन किया। -बताते चलें कि फिल्म बेगम जान की शूटिंग दुमका के नंदिनी गांव में पिछले साल जुलाई में हुई थी। गांव में ही फिल्म का सेट लगा था। आगे की स्लाइड्स में देखिए फोटोज ... फोटो : नितिन चौधरी/पुष्पगीत।

एक्ट्रेस को थप्पड़ जड़ने के बाद आधे घंटे तक रोती रही थीं 'बेगम जान'

एक्ट्रेस को थप्पड़ जड़ने के बाद आधे घंटे तक रोती रही थीं 'बेगम जान'

Last Updated: April 14 2017, 10:54 AM

मुंबई: 14 अप्रैल को विद्या बालन स्टारर बेगम जान रिलीज होने वाली है। डायरेक्टर श्रीजीत मुखर्जी की इस फिल्म के ट्रेलर में विद्या काफी बोल्ड और स्ट्रॉन्ग वुमन का किरदार निभा रही हैं। लेकिन असल जिंदगी में विद्या काफी इमोशनल हैं। हाल ही में दिए इंटरव्यू में बेगम जान की एक्ट्रेस मिष्ठी चक्रवर्ती ने बताया कि कैसे सीन के दौरान जब विद्या ने उन्हें थप्पड़ जड़ा। तो वे अपने आंसू नहीं रोक पाई और लगातार आधे घंटे तक रोती रहीं। एक्टर को जड़ा थप्पड़, फिर रोने लगी विद्या... फिल्म के एक सीन में विद्या, मिष्ठी चक्रवर्ती को थप्पड़ जड़ती दिखाई देंगी। मिष्ठी की मानें तो इस सीन की शूटिंग करते हुए विद्या काफी इमोशनल हो गई थीं। मिष्ठी बताती हैं, सीन के बाद, वे मेरे पास आईं। मुझे गले लगाया और आधे घंटे तक रोती रहीं। वह बहुत इमोशनल हो गई थीं। मैंने उनसे कहा कि मैं ठीक हूं, फिर भी वे लगातार माफी मांगती रहीं। उन्हें लगा कि मैं सच में रो रही हूं, जबकि मैं एक्टिंग कर रही थी। वह सीन इतना रियल था कि सेट पर मौजूद सभी लोग रोने लगे थे। इस सीन के री-टेक के लिए तैयार नहीं थीं विद्या.... फिल्म में नजर आने वाली एक्ट्रेस फ्लोरा सैनी ने बताया कि एक सीन के दौरान विद्या इतनी इमोशनल हो गई थी कि वे अपने आंसू रोक नहीं पा रही थीं। फ्लोरा की मानें तो विद्या बालन काफी डाउन-टू-अर्थ इंसान हैं। बकौल फ्लोरा, जिस तरह से सेट पर वे हम सबका ध्यान रखती थीं, वह बेहद खास था। विद्या जमीन से जुड़ी हुई हैं, यह देखकर हमें बहुत अच्छा लगता है। वे चेयर की मांग करने की बजाय हमारे साथ सीढिय़ों पर ही बैठ जाया करती थीं। फिल्म के एक सीन में उन्हें बेहद क्रूरता दिखानी थी। उन्हें एक लड़की को बालों से घसीटकर ले जाना था, सीन को करने के बाद वे बेहद रोने लगी और बार-बार उस लड़की से माफी मांग रही थीं। जब डायरेक्टर ने री-टेक की मांग की तो विद्या ने साफ इनकार कर दिया। ऐसे में डायरेक्टर ने उन्हें याद दिलाया कि सीन में वे बेगम जान है और उन्हें किरदार निभाने को कहा। तब जाकर विद्या ने सीन किया, लेकिन वह लगातार रोती रहीं। अगली स्लाइड पर जानें फिल्म बेगम जान के बारे में...

Movie Review: सोचने पर मजबूर करती है विद्या बालन की 'बेगम जान'

Movie Review: सोचने पर मजबूर करती है विद्या बालन की 'बेगम जान'

Last Updated: April 14 2017, 10:54 AM

क्रिटिक रेटिंग 3.5/5 स्टार कास्ट विद्या बालन , इला अरुण, गौहर खान , पल्लवी शारदा, सुमित निझावन, नसीरुद्दीन शाह, राजेश शर्मा, विवेक मुश्रान, चंकी पांडे डायरेक्टर श्रीजीत मुखर्जी प्रोड्यूसर विशेष फिल्म्स संगीत अनु मलिक, खय्याम जॉनर पीरियड ड्रामा कहानी यह कहानी उस समय की है जब देश आजाद हुआ था और उस वक्त भारत से पाकिस्तान को अलग करने के लिए एक रेडक्लिफ लाइन खींची गई थी। यह लाइन एक बेगम जान (विद्या बालन) के वेश्यालय के बीचोंबीच जाने वाली थी और अफसर बेगम जान से वेश्यालय छोड़कर जाने का आग्रह करने आते हैं। लेकिन बेगम जान इस आदेश का पालन बिल्कुल नहीं करना चाहती। फिर कहानी में सरकारी तंत्र का दबाव और कई षड्यंत्रों को दिखाया जाता है। बेगम जान के साथ-साथ इस वेश्यालय में 10 और महिलाएं, साथ ही 2 पुरुष भी रहते हैं। वैसे, बेगम जान और इन 12 लोगों के संघर्ष की कहानी के साथ साथ फिल्म में आज के दौर के बड़े ही अहम मुद्दे की तरफ भी प्रकाश डाला गया है, जो आपको सोचने पर विवश करते हैं। डायरेक्शन फिल्म का डायरेक्शन अच्छा है और साथ ही सिनेमैटोग्राफी, ड्रोन कैमरे से लिए हुए शॉट्स, डायलॉग्स भी कमाल के हैं। गोलीबारी के साथ-साथ आग के सीन भी बहुत कमाल के हैं। कहानी के लिहाज से स्क्रीनप्ले और बेहतर हो सकता था। साथ ही एडिटिंग काफी बिखरी-बिखरी जान पड़ती है, जिसे और अच्छा किया जा सकता था। फिल्म में बहुत सारे किरदार हैं, जिसकी वजह कुछ अच्छे किरदार और उनकी परफॉर्मेंस की तरफ आप पूरी तरह से ध्यान नहीं दे पाते हैं। उन किरदारों को और निखारा जा सकता था। परफॉर्मेंस फिल्म की कास्टिंग कमाल की है। विवेक मुश्रान, चंकी पांडे, राजेश शर्मा, रजित कपूर, आशीष विद्यार्थी, पल्लवी शारदा, इला अरुण जैसे कलाकारों का काम काफी सहज है। वही, पितोबाश त्रिपाठी और गौहर खान आपको सरप्राइज भी करते हैं। सुमित निझावन और विवेक मुश्रान का काम भी काफी सराहनीय है। बेगम जान का किरदार विद्या बालन ने बेहतरीन तरीके से निभाया है। उनका रूप-रंग और आवाज आपके कानों पर देर तक गूंजती रहती है। विद्या ने पूरी तरह से किरदार को अपना लिया है। नसीरुद्दीन शाह का छोटा, लेकिन अच्छा रोल है। अमिताभ बच्चन की आवाज सूत्रधार के रूप में आपको सुनाई देगी। म्यूजिक फिल्म का म्यूजिक अच्छा है, आशा भोसले का गाया प्रेम में तोहरे..., अरिजीत सिंह और श्रेया घोषाल का गाना सुबह... कहानी के साथ-साथ चलता है। बाकी गाने फिल्म की रफ्तार को कमजोर बनाते हैं। फिल्म में बाबुल मोरा नैहर.. नाम का लोकगीत भी बढ़िया लगता है। देखें या नहीं? यह फिल्म पूरे परिवार के साथ और खासतौर पर घर की महिला सदस्यों को देखनी ही चाहिए। ये अलग तरह का सिनेमा है, जो आंखें खोलने का काम भी करता है।

अन्ना के आते ही अनशन पर टीम कपिल, लगाए 'हमारी मांगें पूरी भरो' के नारे

अन्ना के आते ही अनशन पर टीम कपिल, लगाए 'हमारी मांगें पूरी भरो' के नारे

Last Updated: September 24 2016, 14:10 PM

मुंबई: अन्ना हजारे की लाइफ पर बन रही बायोपिक का प्रमोशन खुद अन्ना कर रहे हैं। शुक्रवार को उन्होंने द कपिल शर्मा शो में अपनी इस फिल्म को प्रमोट किया। कपिल के टीम मेंबर्स ने अन्ना के साथ जमकर मस्ती की। जहां पुष्पा नानी (अली असगर) अन्ना को दिलफेंक आशिक की तरह छेड़ती दिखाई दीं। वहीं, उनके आते ही रिंकू देवी (सुनील ग्रोवर) और संतोष (किकू शारदा) अनशन पर बैठ गए और हमारी मांगें पूरी भरो के नारे लगाते नजर आए। बता दें, अन्ना हजारे की बायोपिक में शशांक उदापुरकर, तनीषा मुखर्जी, गोविंद नामदेव औक रजित कपूर अहम रोल में दिखेंगे। फिल्म 14 अक्टूबर को रिलीज होगी। आगे की स्लाइड्स पर देखें, द कपिल शर्मा शो में पहुंचीं टीम अन्ना की फोटोज...

Flicker