• देखिये ट्रेनडिंग न्यूज़ अलर्टस

रवीना टंडन

जब रवीना टंडन के 'सुसाइड अटेम्प्ट' को अजय देवगन ने कहा पब्लिसिटी स्टंट

जब रवीना टंडन के 'सुसाइड अटेम्प्ट' को अजय देवगन ने कहा पब्लिसिटी स्टंट

Last Updated: April 24 2017, 13:34 PM

मुंबई. शुक्रवार को रिलीज हुई फिल्म मातृ से बड़े पर्दे पर कमबैक करने वाली रवीना टंडन की लाइफ से जुड़े कई ऐसे फैक्ट्स हैं, जो ज्यादातर लोग नहीं जानते। मसलन, उनके और अजय देवगन के विवादित ब्रेकअप को ही ले लीजिए। कहा जाता है कि अजय से अलग होने के बाद रवीना ने सुसाइड तक की कोशिश की थी। हालांकि, 1994 में फिल्मफेयर मैगजीन के इंटरव्यू में अजय ने इसे पब्लिसिटी स्टंट बताया था। कब शुरू हुआ था अजय-रवीना का अफेयर और क्यों हुआ ब्रेकअप... - अजय और रवीना का अफेयर 1994 की सुपरहिट फिल्म दिलवाले की शूटिंग के दौरान शुरू हुआ था। - फिल्मफेयर मैगजीन के जुलाई 1994 के इश्यू में अजय ने रवीना पर जमकर भड़ास निकाली। उन्होंने इस इंटरव्यू के दौरान यह तक कह डाला की रवीना को एक मनोचिकित्सक के पास जाना चाहिए। अजय ने कहा था- वह जन्म से झूठी है - इंटरव्यू में जब अजय से पूछा गया कि वे दोनों एक-दूसरे को माफ कर सबकुछ भूल क्यों नहीं जाते? - जवाब में अजय ने कहा था, भूल जाऊं। आप मजाक कर रहे हैं। सभी जानते हैं कि वह जन्म से झूठी है। इसलिए उसके छोटे-छोटे बयान मुझे ज्यादा अपसेट नहीं करते। लेकिन इस बार उसने लिमिट क्रॉस कर दी है। मेरी सलाह है कि उसे अपने आपको साइकियाट्रिस्ट को दिखाना चाहिए और माइंड की जांच करानी चाहिए। नहीं तो उन्हें मेंटल असायलम जाना पड़ेगा। मैं उनके साथ साइकियाट्रिस्ट के पास जाने को तैयार हूं। - इस दौरान जब अजय से पूछा गया कि वे रवीना की मदद क्यों करना चाहते हैं? तो उन्होंने कहा कि वे उनकी दोस्त नहीं है, लेकिन इंसानियत के नाते वे उनके साथ जाने को तैयार हैं। उन्होंने रवीना पर तंज कसते हुए यह भी कहा था कि अगर वे रोड पर किसी आदमी को मरते देखें तो उसे अस्पताल तक जरूर लेकर जाएंगे। - अजय ने यह तक कह डाला कि वे तो एक आवारा कुत्ते की मदद के लिए भी तैयार रहते हैं। फिर वे रवीना की मदद से पीछे क्यों हटेंगे। उन लेटर्स का क्या, जो अजय ने रवीना को लिखे थे? - जब अजय के सामने यह सवाल आया तो उन्होंने कहा, कौन से लेटर्स। उससे कहो कि वो उन लेटर्स को पब्लिश करवाए। मैं भी उसके इमेजिनेशन को पढ़ना चाहता हूं। हमारे परिवार एक-दूसरे को कुछ सालों से जानते हैं। - वह हमारे घर आती है। क्योंकि वह मेरी बहन नीलम की सहेली है। जब वह बुरा बर्ताव करने लगी तो क्या हम उसे बाहर नहीं निकाल सकते थे। बिल्कुल निकाल सकते थे। मैं कभी उसके क्लोज नहीं रहा। पूछो उससे, क्या कभी मैंने उसे बुलाया या आगे रहकर उससे बात की। - वह मेरे साथ नाम जोड़कर पब्लिसिटी पाना चाहती है। उसका सो-कॉल्ड सुसाइड की कोशिश करना भी पब्लिसिटी स्टंट था। आगे की स्लाइड्स में पढ़िए इस इंटरव्यू में अजय ने रवीना के बारे में और क्या-क्या कहा था...

Movie Review: बेटी के गैंगरेप और मां के बदले की कहानी है 'मातृ '

Movie Review: बेटी के गैंगरेप और मां के बदले की कहानी है 'मातृ '

Last Updated: April 21 2017, 11:24 AM

क्रिटिक रेटिंग 3/5 स्टार कास्ट रवीना टंडन , मधुर मित्तल , दिव्या जगदाले, शैलेन्द्र गोयल , अनुराग अरोड़ा , रुषाद राणा डायरेक्टर अश्तर सैयद प्रोड्यूसर माइकल पेलीको म्यूजिक फ्यूजन जॉनर थ्रिलर ड्रामा कहानी यह कहानी मां विद्या चौहान (रवीना टंडन) और बेटी टिया (अलीशा खान) की है, जो स्कूल के एनुअल फंक्शन से फ्री होकर जब घर की तरफ रवाना होते हैं तो अपूर्व मलिक (मधुर मित्तल) और उसके साथी, मां बेटी की गाड़ी को रोककर इनका अपहरण और गैंगरेप करते हैं। मिनिस्टर का बेटा (अपूर्व) होने की वजह से पुलिस कार्यवाही में जब देरी करती है तो एक मां यानी विद्या चौहान जाग उठती है और इस दुष्कर्म का बदला पांचों आरोपियों से एक-एक करके लेती है। डायरेक्शन फिल्म का डायरेक्शन, डायलॉग्स कमाल के हैं। आउटडोर और इनडोर दोनों तरह की फोटोग्राफी पर डायरेक्टर ने विशेष ध्यान दिया है और रियल लोकेशंस की शूटिंग इसे और निखारती है। फिल्म की सिनेमैटोग्राफी भी काफी दिलचस्प है। हालांकि, इसकी स्टोरी काफी कमजोर है, जिसे आप शुरुआत के दस मिनट में ही भांप लेते हैं। इसकी वजह से स्क्रीनप्ले और बेहतर हो सकता था। साथ ही लॉजिक भी और अच्छे रखे जा सकते थे। मुद्दा अच्छा है पर लिखावट और दमदार की जा सकती थी। परफॉर्मेंस फिल्म में रवीना टंडन एक बार फिर से दमन की तरह वाले अवतार में दिखाई देती हैं। एक मां, जब जिद पर आती है तो दुष्टों का संहार करने लगती है, इस किरदार को रवीना ने सहज तरीके से निभाया है। रवीना के हाव-भाव भी फिल्म में काफी हार्ड हीटिंग हैं। वहीं, मधुर मित्तल ने नेगेटिव किरदार काफी उम्दा तरीके से निभाया है जो तारीफ के काबिल है। साथ ही दिव्या जगदाले, अनुराग अरोरा, रुषाद राणा ने भी अच्छा काम किया है। म्यूजिक फिल्म का बैकग्राउंड स्कोर अच्छा है और केवल एक ही गाना जिंदगी-ए-जिंदगी.. अलग-अलग समय पर आता है, जिसे राहत फतेह अली खान ने गाया है। देखें या न? यह फिल्म मुद्दे पर आधारित है और इस तरह का सिनेमा अगर आपको पसंद है तो एक बार जरूर देख सकते हैं।

रेप सीन शूट करने के दौरान रो पड़ी थीं रवीना, 3 रातों तक नहीं आई नींद

रेप सीन शूट करने के दौरान रो पड़ी थीं रवीना, 3 रातों तक नहीं आई नींद

Last Updated: April 18 2017, 14:13 PM

मुंबई. 90 के दशक की एक्ट्रेस रवीना टंडन अपकमिंग फिल्म मातृ से बॉलीवुड में कमबैक कर रही हैं। अश्तर सईद के डायरेक्शन में बनी रवीना की फिल्म मातृ 21 अप्रैल को रिलीज हो रही है। हाल ही में dainikbhaskar.com ने रवीना से खास बातचीत की। जिसमें उन्होंने फिल्म से जुड़ी ढेर सारी बातें हमारे साथ शेयर कीं। पेश बातचीत के खास अंश। मातृ में अपना किरदार निभाते वक्त क्या आप पर ये पर्सनली हावी हो गया था। मतलब क्या आप इस रोल से मेंटली डिस्टर्ब हो गई थीं? हां, काफी हद तक मैं डिस्टर्ब हो गई थी। जब मेरे ऊपर हिंसक सीन फिल्माए गए तो उसके बाद मैं इतनी डिस्टर्ब हो गई कि मेरा व्यवहार काफी बदल गया था। चार पांच रात तो मैं 3 रातों तक बिल्कुल सो नहीं पाई थी। उसके बाद मुझे इस सीन की डबिंग करनी थी। तो मैं हिम्मत नहीं जुटा पा रही थी कि फिर से वो रेप सीन देखने की और उसके आधार पर डायलॉग्स बोलने की। मुझे आज भी याद है जब मैं रेप सीन से संबंधित हिंसक सीन की डबिंग कर रही थी तो डायलॉग बोलने में इतनी खो जाती थी कि सच में रोने लगती थी। बहुत मुश्किल से मैं अपने इस किरदार से बाहर निकल पाई हूं। आपकी फिल्म मातृ काफी चर्चा में है अपने कैरेक्टर के बारे में बताएं? मैं इस फिल्म में विद्या नाम की औरत का किरदार निभा रही हूं जिसकी बेटी का रेप हो जाता है। साथ ही उसके साथ भी दुर्व्यवहार होता है। विद्या जहां अपनी बेटी को खो देती है वहीं उसके साथ भी हिंसक हमले होते हैं। विद्या इस हादसे के खिलाफ आवाज उठाती है और कानून से मदद मांगती है। जब पुलिस और कानून उसकी मदद नहीं करते तो वह अपने तरीके से इस हिंसा का जवाब देती है। आप काफी समय के बाद मातृ के जरिए एक फुल फ्लैश किरदार निभाने जा रही हैं क्या आप पसंदीदा रोल चुनने को लेकर सोच विचार में थीं? हां एक समय के बाद हम कलाकारों की जिंदगी में वह वक्त आ जाता है जब हम सोच विचार कर फिल्में साइन करे। लिहाजा अब मेरी यही कोशिश है कि मैं वही फिल्में करूं जिसका कोई मतलब हो। वैसे मुझे हर दिन कोई ना कोई फिल्म ऑफर होती है लेकिन मैं उनको हां नहीं कहती। क्योंकि उसमें मेरे करने लायक कुछ नहीं होता। मैं ऐसी ही फिल्में करने की इच्छुक हूं जिसकी कहानी में दम हो दर्शक उस फिल्म से प्रभावित हो। वरना हर हफ्ते फिल्म करके क्या फायदा। आगे की स्लाइड्स में पढ़े रवीना का पूरा इंटरव्यू...

Buzz: हिंसक सीन्स, गाली-गलौच के चलते सेंसर बोर्ड ने बैन की रवीना की 'मातृ'

Buzz: हिंसक सीन्स, गाली-गलौच के चलते सेंसर बोर्ड ने बैन की रवीना की 'मातृ'

Last Updated: April 17 2017, 16:38 PM

मुंबई: सेंसर बोर्ड की गाज अब रवीना टंडन की फिल्म मातृ पर गिरी है। मीडिया में आई रिपोर्ट्स के मुताबिक, बोर्ड मेंबर्स पहले फिल्म की स्क्रीनिंग बीच में छोड़कर चले गए थे <a href='http://bollywood.bhaskar.com/news/ENT-BNE-censor-board-walk-out-of-raveena-tandon-movie-maatr-screening-news-hindi-5576161-PHO.html'>(पढ़ें पूरी खबर)</a> अब ऐसी खबरें है कि हिंसक सीन्स और गाली-गलौच की वजह से बोर्ड ने इसपर बैन लगा दिया है। फिल्म में हिंसक सीन्स की भरमार... - रिपोर्ट्स है कि फिल्म सेंसर बोर्ड को दिए गए स्क्रीनप्ले से काफी अलग है। इसी वजह से नाराज होकर सेंसर बोर्ड के मेंबर्स शनिवार को रखी गई स्क्रीनिंग को बीच में छोड़कर चले गए थे। - फिल्म के कई हिंसक सीन्स सेंसर बोर्ड की गाइडलाइन्स के खिलाफ हैं। अगर फिल्म को ए सर्टिफिकेट भी मिलता है तो इसमें कैंची चलानी पड़ेगी। - सीबीएफसी से जुड़े एक सूत्र के मुताबिक, मातृ में महिलाओं के खिलाफ काफी हिंसा दिखाई गई है। फिल्म में मां-बहन की कई गालियां है। उन सीन्स को बीप भी नहीं करवाया जा सकता, क्योंकि पूरी फिल्म में ऐसी गाली-गलौच और हिंसा है। प्रोड्यूसर ने नकारी बैन की बात - प्रोड्यूसर अंजुम रिजवी ने फिल्म बैन की जाने वाली खबरों को गलत ठहराया है। एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा, मुझे नहीं मालूम कि ऐसी खबरें कहां से आ रही हैं। सेंसर बोर्ड के सामने सोमवार को मातृ की स्क्रीनिंग होगी, इसलिए कहूंगी कि फिल्म बैन नहीं हुई है। - एक इंटरव्यू में सेंसर बोर्ड के सीईओ अनुराग श्रीवास्तव ने भी इन खबरों को खंडन किया है। उनके मुताबिक, शनिवार को फिल्म की स्क्रीनिंग रखी गई थी। इसे बैन करने की खबरें झूठी हैं। एक-दो दिन में रिजल्ट सभी के सामने आ जाएगा। क्या है रवीना का कहना - एक इंटरव्यू में रवीना ने कहा- सेंसर बोर्ड पुराने कानूनों से बंधा हुआ है और इसे समय के साथ बदलने के बारे में सोचना चाहिए। - रवीना के मुताबिक, मातृ जैसी फिल्मों को बिना कैंची चलाए लोगों तक पहुंचाने की जरूरत है। - रवीना ने कहा कि यदि सच्चाई नहीं दिखाई तो दर्शक क्रूरता और बलात्कार जैसे मुद्दों को ठीक तरह से समझ नहीं पाएंगे और समाज में फैली इस तरह की बुराइयां खत्म नहीं होंगी। 2 साल बाद पर्दे पर लौट रहीं रवीना - मातृ के जरिए 2 साल बाद रवीना सिल्वर स्क्रीन पर लौट रही हैं। इससे पहले 2015 में आई बॉम्बे वेलवेट में उन्होंने स्पेशल अपीयरेंस दी थी। अगली स्लाइड पर देखें फिल्म का ट्रेलर, साथ ही जानें इसकी कहानी...

सेंसर बोर्ड को इम्प्रेस नहीं कर पाई रवीना की फिल्म, 10 मिनट में छोड़ी स्क्रीनिंग

सेंसर बोर्ड को इम्प्रेस नहीं कर पाई रवीना की फिल्म, 10 मिनट में छोड़ी स्क्रीनिंग

Last Updated: April 16 2017, 14:39 PM

मुंबई. रेप जैसे सीरियस क्राइम पर बनी रवीना टंडन की अपकमिंग फिल्म मातृ सेंसर बोर्ड को इम्प्रेस करने में फेल रही। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हाल ही में सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष पहलाज निहलानी और उनकी टीम के लिए फिल्म की स्पेशल स्क्रीनिंग रखी गई। लेकिन सभी बोर्ड मेंबर्स फिल्म शुरू होने के 10 मिनट बाद ही उठकर चले गए। इसे लेकर बोर्ड का कहना है कि उन्हें फिल्म के बारे में सही जानकारी नहीं दी गई थी। और क्या कहा बोर्ड ने... - सेंसर बोर्ड के एक मेंबर ने बताया, फिल्म की स्क्रीनिंग से पहले हमें स्क्रिप्ट की एक कॉपी दी जाती है। इससे हमें मालूम होता है कि फिल्म के किस पोर्शन पर हमारे दखल की जरूरत है। - लेकिन मातृ के शुरू होने के 10 मिनट बाद ही हमें पता चल गया कि जो स्क्रिप्ट हमारे हाथ में है, फिल्म उससे बिल्कुल अलग है। क्या बोले फिल्म के प्रोड्यूसर - पूरे मामले में फिल्म के प्रोड्यूसर अंजुम रिजवी का कुछ और ही कहना है। उनकी मानें तो तकनीकी कारणों से सेंसर बोर्ड ने स्क्रीनिंग बंद की है। वे जल्दी ही दोबारा बोर्ड को फिल्म दिखाएंगे। क्या है फिल्म की कहानी - 21 अप्रैल को रिलीज होने जा रही इस फिल्म में रवीना विद्या के रोल में नजर आएंगी, जो एक मां है और ऐसे क्रिमिनल्स के खिलाफ जंग छेड़ती है, जिन्होंने उसकी बेटी टिया की जिंदगी बर्बाद कर दी। - इस जंग में न उसे क़ानून की मदद मिलती है, न हसबैंड की और न ही सोसाइटी की। सभी उसे पुरानी बातों को भूलने की सलाह देते हैं। - फिल्म की कहानी रेप जैसे सीरियस क्राइम को फेस कर रही सोसाइटी और न्यायव्यवस्था की विफलता को उजागर करेगी। आगे की स्लाइड्स में पढ़ें जब रेप सीन की शूटिंग के बाद तीन रात तक सो नहीं पाईं रवीना...

अंबानी की पार्टी में पहुंचीं दीपिका, सचिन की बेटी समेत ये सेलेब्स भी दिखे

अंबानी की पार्टी में पहुंचीं दीपिका, सचिन की बेटी समेत ये सेलेब्स भी दिखे

Last Updated: April 11 2017, 11:08 AM

मुंबई: दीपिका पादुकोण समेत बी-टाउन के कई सेलेब्स सोमवार रात मुकेश अंबानी और नीता अंबानी की पार्टी में पहुंचे। आईपीएल टीम मुंबई इंडियन्स के 10 साल पूरे होने पर यह पार्टी रखी गई थी। जॉन अब्राहम, राहुल बोस, सिंगर अदनान सामी, रवीना टंडन, अनु मलिक, फिल्ममेकर विधु विनोद चोपड़ा सहित कई सेलेब्स पार्टी के गेस्ट बने। यहां सचिन तेंडुलकर को बेटी सारा, बेटे अर्जुन और पत्नी अंजलि के साथ देखा गया। इसके अलावा हरभजन सिंह पत्नी गीता बसरा और बेटी हिनाया के साथ नजर आए। आगे की स्लाइड्स पर देखें, अंबानी में पार्टी में शामिल हुए सेलेब्स की 11 Photos...

'मातृ'

'मातृ'

Last Updated: April 10 2017, 18:18 PM

रवीना टंडन जल्द फिल्म मातृ में नजर आएंगी। फिल्म में रवीना विद्या का रोल प्ले कर रही हैं। जो एक मां है और ऐसे क्रिमिनल्स के खिलाफ जंग छेड़ती है, जिन्होंने उसकी बेटी टिया की जिंदगी बर्बाद कर दी। इस जंग में न उसे कानून की मदद मिलती है, न हसबैंड की और न ही सोसाइटी की। बल्कि सभी उसे पुरानी बातों को भूलने की सलाह देते हैं। फिल्म की कहानी रेप जैसे सीरियस क्राइम को फेस कर रही सोसाइटी और न्याय व्यवस्था को टारगेट कर बनाई गई है। अश्तर सैयद के डायरेक्शन में बनी ये फिल्म 21 अप्रैल को रिलीज होगी।

सरोगेसी पर जानिए क्या बोलीं रवीना टंडन

सरोगेसी पर जानिए क्या बोलीं रवीना टंडन

Last Updated: April 10 2017, 18:11 PM

मुंबई। सरोगेसी के बारे में ज्यादातर लोग बात करने में कम्फर्टेबल फील नहीं करते, लेकिन बॉलीवुड सेलेब्स के साथ ऐसा नहीं है। हाल ही में रवीना टंडन ने इस बारे में अपनी राय दी हैं। रवीना मानती हैं कि सरोगेसी से भले ही बायोलॉजिकल किड मिल जाए, लेकिन इसके बजाय अडॉप्शन से अच्छा कोई और गिफ्ट नहीं हो सकता। रवीना कहती हैं मैंने काफी पहले दो बेटियां गोद ली थी। मैं जब भी उनकी तरफ देखती हूं तो प्राउड फील करती हूं। गौरतलब है कि करन जौहर और तुषार कपूर कुछ समय पहले ही सरोगसी के जरिये पिता बने हैं। वहीं, शाहरुख खान की तीसरी संतान भी सरोगसी से ही हुई है।

बोल्ड डायलॉग की वजह से चर्चा में है ये फि‍ल्म, देखें Behind The Scenes

बोल्ड डायलॉग की वजह से चर्चा में है ये फि‍ल्म, देखें Behind The Scenes

Last Updated: April 07 2017, 09:00 AM

वाराणसी. फिल्म मिर्जा-जूलियट 7 अप्रैल को रिलीज हो रही है। फिल्म में महिला कैरेक्टर के बोल्ड डायलॉग ने ट्रेलर में जमकर सुर्खिया बटोरी हैं। काशी पहुंचे फिल्म के लीड एक्टर दर्शन कुमार ने बताया, शूटिंग मिर्जापुर और बनारस में हुई है। मिर्जापुर की इनोसेंट लड़की की लव स्टोरी है, जिसे तीन भाइयों ने पाला-पोसा है। फिल्म में हीरोइन पिया वाजपेयी का डायलॉग है, डंडा घुसेड़ दूंगी बवासीर हो जाएगा, काफी लोकप्रिय हुआ है। dainikbhaskar.com आपको शूटिंग की तस्वीर दिखा रहा है। आगे की स्लाइड्स में देखें शूटिंग की 10 फोटोज...

trailer out: इस फिल्म का रेप सीन शूट करने के बाद 3 रात नहीं सोई थीं रवीना

trailer out: इस फिल्म का रेप सीन शूट करने के बाद 3 रात नहीं सोई थीं रवीना

Last Updated: March 30 2017, 16:45 PM

मुंबई. रवीना टंडन स्टारर फिल्म मातृ का ट्रेलर रिलीज हो गया है। 21 अप्रैल को रिलीज होने जा रही इस फिल्म में रवीना विद्या के रोल में नजर आएंगी, जो एक मां है और ऐसे क्रिमिनल्स के खिलाफ जंग छेड़ती है, जिन्होंने उसकी बेटी टिया की जिंदगी बर्बाद कर दी। इस जंग में न उसे क़ानून की मदद मिलती है, न हसबैंड की और न ही सोसाइटी की। सभी उसे पुरानी बातों को भूलने की सलाह देते हैं। फिल्म की कहानी रेप जैसे सीरियस क्राइम को फेस कर रही सोसाइटी और न्यायव्यवस्था की विफलता को उजागर करेगी। जब रवीना ने कहा- रेप सीन के बाद तीन रात तक सो नहीं पाईं... <a href='https://www.google.com/url?q=http%3A%2F%2Fdbvideos.bhaskar.com%2Ftrending%2Fraveena-tandon-starrer-maatr-movie-trailer-released-45600.html%3F164sa=Dsntz=1usg=AFQjCNGF5iPuioTCyLK52Q80rCJ5gCGyPQ'>(ट्रेलर देखने के लिए यहां क्लिक करें)</a> इसी साल जनवरी में रवीना टंडन ने फिल्म को लेकर चर्चा की थी। तब उन्होंने बताया था कि फिल्म में एक रेप सीन की शूटिंग के बाद वे तीन रात तक सोई नहीं। ये तीनों रातें उन्होंने रोकर बिताईं। रवीना के मुताबिक, शूटिंग के दौरान वे अपने रोल से इस कदर जुड़ गई हैं कि खुद को फिल्म से अलग नहीं कर पा रही हैं। फिल्म में इनका भी होगा अहम रोल डायरेक्टर अश्तर सैयद की इस फिल्म में रवीना टंडन के अलावा, दिव्या जगदाले, मधुर मित्तल, अनुराग अरोड़ा, अलीशा खान और रुशद राणा भी अहम रोल में नजर आएंगे। बात दें कि फिल्म की शूटिंग 2012 में हो चुकी थी। आगे की स्लाइड्स में देख सकते हैं ट्रेलर से ली गईं 5 स्टिल्स...

34 बेटियों की मां हैं प्रिटी, रवीना-सुष्मिता समेत ये स्टार्स भी गोद ले चुके बच्चे

34 बेटियों की मां हैं प्रिटी, रवीना-सुष्मिता समेत ये स्टार्स भी गोद ले चुके बच्चे

Last Updated: March 07 2017, 12:59 PM

मुंबई। फिल्ममेकर करन जौहर के बाद एक और टीवी कपल पेरेंट बना हैं। पॉपुलर शो रामायण में राम-सीता का किरदार निभाने वाले गुरमीत चौधरी और देबिना बनर्जी ने दो बेटियां अडॉप्ट की हैं। शादी के 6 साल बाद गुरमीत ने उनके होमटाउन बिहार के जयरामपुर गांव में रहने वाली दो लड़कियों को गोद लिया है। इन बच्चियों का नाम पूजा (6) और लता (9) है। कई सेलेब्स ले चुके हैं बच्चों को गोद... बॉलीवुड सेलेब्स हों या हॉलीवुड, इन्हें हमेशा ही फैशन और स्टाइल का ट्रेन्ड सेटर माना जाता है। इनमें से कुछ सेलेब्स ऐसे भी हैं, जिन्होंने चाइल्ड अडॉप्शन का नया ट्रेन्ड शुरू किया है। वैसे, गुरमीत और देबिना पहले सेलेब्स नहीं हैं, जिन्होंने बच्चे गोद लिए हैं। इससे पहले सुष्मिता सेन, प्रिटी जिंटा, सलीम खान, रवीना टंडन और मेडोना जैसे स्टार्स भी बच्चों को गोद ले चुके हैं। क्या आपको पता है कि सुष्मिता सेन की 2 और प्रिटी जिंटा की 34 बेटियां हैं। दोनों ही बॉलीवुड एक्ट्रेसेस ने शादी नहीं की है, लेकिन एक मां का फर्ज बखूबी निभा रही हैं। नजर डालते हैं कुछ ऐसे ही सेलेब्स पर... प्रिटी जिंटा डिम्पल गर्ल प्रिटी जिंटा बच्चे गोद लेने के मामले में सबसे आगे हैं। साल 2009 में अपने 34वें बर्थडे पर उन्होंने ऋषिकेश से एक या दो नहीं बल्कि 34 अनाथ बच्चियों को एक साथ गोद लिया। वे अपने बर्थडे के मौके पर गोद ली गईं इन बच्चियों के पालन-पोषण और शिक्षा पर बराबर ध्यान दे रही हैं। साल में कम से कम दो बार वे उन बच्चियों से मिलने ज़रूर जाती हैं। रवीना टंडन बॉलीवुड एक्ट्रेस रवीना टंडन भी उन सेलेब्स में से एक हैं, जो बच्चों को गोद लेने के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने बिजनेसमैन अनिल थडानी से शादी करने से पहले दो बेटियों छाया और पूजा को गोद लिया था। इनमें से एक की शादी हो चुकी है और एक बच्चे की मां भी बन चुकी हैं, जबकि दूसरी इवेंट मैनेजमेंट कंपनी में अपना करियर संवार रही हैं। आगे की स्लाइड्स पर देखें, कुछ ऐसे ही सेलेब्स जो ले चुके हैं बच्चों को गोद...

रवीना को देखने के लिए उमड़ी भीड़, फैन्स से कहा- का हाल है रउआ सब के

रवीना को देखने के लिए उमड़ी भीड़, फैन्स से कहा- का हाल है रउआ सब के

Last Updated: March 05 2017, 10:26 AM

आरा. बॉलीवुड फिल्म एक्ट्रेस रवीना टंडन बुधवार को बिहार के आरा में एक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए पहुंची। रवीना को देखने के लिए दर्शकों की भारी जुट गई। रवीना ने फैन्स से भोजपुरी भाषा में बातचीत की। उन्होंने कहा- का हालचाल बा। हम रउआ लोग से बहुत प्यार करीला। आप सबन के प्यार भरल नमस्कार। अपनी फेवरेट एक्ट्रेस से भोजपुरी सुनकर दर्शकों ने खूब तालियां बजाई। इस दौरान रवीना ने कहा कि मुझे बिहार से हमेशा प्यार मिला है। मेरा दो फिल्म दूल्हे राजा और दिलवाले को सबसे ज्यादा प्यार आरा और बिहार में मिला। आप सबको पता है कि आरा के एक सिनेमा हॉल में मेरी एक फिल्म लगभग 200 दिन चली थी। रिक्वेस्ट पर गाया गाना दर्शकों की रिक्वेस्ट पर रवीना अपनी फिल्म दिलवाले का गाना सुनाया। जीता था जिसके लिए, जिसके लिए मरता था..., एक ऐसी लड़की थी, जिसे मैं प्यार करता था..., गाना सुनकर दर्शक खुशी से झूमने लगे। रवीना को देखने के लिए भारी भीड़ उमड़ पड़ी थी। रवीना आरा में एक मेगामार्ट का उद्घाटन करने पहुंची थीं। उनके आगमन को लेकर लोगों में उत्साह था। लोग उनकी एक झलक पाने को बेताब थे। आगे की स्लाइड्स में देखें रवीना की और फोटो...

जब बोल्ड कपड़ों में अनकम्फर्टेबल हुईं रवीना, बार-बार यूं ठीक करती रहीं ड्रेस

जब बोल्ड कपड़ों में अनकम्फर्टेबल हुईं रवीना, बार-बार यूं ठीक करती रहीं ड्रेस

Last Updated: March 01 2017, 10:55 AM

डीबी वीडियोज में हम आपको दुनियाभर के ट्रेंडिंग, न्यूज, फनी वीडियोज दिखाते हैं. हमारी कोशिश है कि वीडियो के मार्फत आपकी नॉलेज भी बढ़े और आपको एंटरटेन भी कर सकें. डीबी वीडियोज पर आप बॉलीवुड, स्पोर्ट्स, टिप्स, हेल्थ, गैजेट, इंटरनेशनल, नेशनल हैपनिंग के हर वीडियोज को देख सकते हैं.

ग्रामीण स्कूल की स्टूडेंट्स पहुंची सोनी चैंनल के शो में, 16 फरवरी को हुए ऑडिशन

ग्रामीण स्कूल की स्टूडेंट्स पहुंची सोनी चैंनल के शो में, 16 फरवरी को हुए ऑडिशन

Last Updated: February 19 2017, 07:07 AM

हमीरपुर. बेटियों के लिए आज कोई भी फील्ड बंदिश बनकर उनका रास्ता नहीं रोक सकती है। यह साबित कर दिखाया है जिले के एक ग्रामीण इलाके में स्थित बनाल सीनियर सेकंडरी स्कूल की चार बच्चियों ने। जल्द रहे सोनी टीवी के टैलेंट शो सबसे बड़ा कलाकार के लिए चंडीगढ़ में 16 फरवरी को हुए ऑडिशन में इन बच्चियों ने अपनी प्रतिभा के बल पर आयोजकों से तारीफ बटोरी। इस ऑडिशन के लिए हिमाचल, पंजाब, हरियाणा राज्यों से हजारों बच्चे पहुंचे हुए थे। बच्चियों ने अपने एक्ट के जरिए दूसरे राउंड में जगह बनाई हालांकि बाद में वह इस राउंड में बाहर हो गई, लेकिन उनके हौसले को इस ऑडिशन ने बड़े मंच पर प्रतिभा दिखाने का ग्रामीण बच्चों के लिए भी रास्ता खोल दिया है। इस शो की जज बॉलीवुड अभिनेत्री रवीना टंडन और एक्टर अरशद वारसी है। पहलीबार ग्रामीण स्कूल से बच्चे बड़े प्लेटफॉर्म पर... सोनीटीवी का यह शो प्रतिभाशाली बच्चों को अपनी प्रतिभा दिखाने का मंच दे रहा है इसमें 4 से 12 साल तक के बच्चे भाग ले सकते हैं। ऑडिशन देश के 8 बड़े शहरों में हो रहा है। बनाल स्कूल की आठवीं क्लास में पढ़ने वाली चार बच्चियों मोनिका, करीना, नेहा और नितिका ने इसमें एक्ट तैयार करके हिस्सा लिया। इन्हें इस शो में जाने के लिए प्रदेश के जाने-माने थिएटर एक्टर दयाल प्रसाद ने प्रेरित किया था। पहली बार ग्रामीण स्कूल से बच्चियां इतने बड़े प्लेटफार्म पर ऑडिशन देने पहुंची और तारीफ बटोरी। इन्हें कला की बारीकियां भी दयाल ही सिखा रहे हैं इस स्कूल की बच्चियों के नाटक स्किट यहां लोगों के बीच पहले ही काफी सराहना बटोरते रहते हैं अब बड़े मंच पर इन्होंने दस्तक दी है। गांव में रहकर निखार रही प्रतिभा... शहरोंमें तो कला सीखने के लिए कहीं एक्टिंग अकादमी है तो कहीं थिएटर से जुड़े लोग बच्चों को इन्हें सिखा रहे हैं। लेकिन जिस ढंग से गांव के माहौल में इन बच्चियों ने अपनी प्रतिभा निखारने का प्रयास किया है वह काबिले तारीफ है। इस काम में दयाल के अलावा स्कूल की एक पीटीआई सुरजीत भी बच्चों को काफी मदद और प्रोत्साहन दे रहे हैं। दयाल का कहना है कि ग्रामीण स्तर के स्कूल की बच्चियों का यह हौसला और प्रतिभा उन्हें काफी आगे ले जाएगा। कमी कहीं नहीं है जरूरत सिर्फ एक प्लेटफार्म मिलने की है टीवी के ऐसे बड़े शो के हिसाब से भी उन्हें तैयारी करवाई जाएगी ताकि वह सबको अपनी प्रतिभा दिखा बड़े मंच पर दिखा सकें।

आरसीएल सीजन-2 : उदयपुर मेवाड़ और चित्तौड़ चेतक ने जीते मुकाबले

आरसीएल सीजन-2 : उदयपुर मेवाड़ और चित्तौड़ चेतक ने जीते मुकाबले

Last Updated: February 15 2017, 06:20 AM

कोटा. एक दिन ब्रेक के बाद फिर से आरसीएल का रोमांच चरम पर रहा। सीजन-2 का लाइव प्रसारण 125 देशों में होने से खेल और कोटा को लोकप्रियता दिन-ब-दिन हासिल हो रही है। मंगलवार काे बीएसएन एकेडमी के बच्चे भी मैच देखने के लिए पहुंचे। उदयपुर मेवाड़ ने जयपुर पिंकसिटी रॉयल्स को छह विकेट और चित्तौड़ चेतक ने बीकानेर डेजर्ट को 68 रनों से हरा दिया। पहले मैच में विधायक प्रहलाद गुंजल, आरसीएल चेयरमैन आमीन पठान, जिम्बाब्वे की इंटरनेशनल प्लेयर चार्ल्स कावेंट्री और बॉलीवुड अभिनेत्री ब्रुना अब्दुल्लाह मौजूद थीं। दूसरे मैच में विधायक चंद्रकांता मेघवाल, शिक्षा उपिनदेशक सुभाष शर्मा, साउथ अफ्रीका के प्लेयर रस्टी थैरोने और मोहम्मद मियां मौजूद थे। बुधवार को श्रीलंका के स्टार क्रिकेटर रह सनथ जयसूर्या आएगे। उनके साथ फरवेज महरुफ भी होंगे। मंगलवार को आरसीएल में छक्कों का शतक भी पूरा हो गया। टूर्नामेंट में अब तक 102 छक्के लग चुके हैं। पहला मैच : जयपुर और उदयपुर के बीच खेला गया। टॉस जीतकर उदयपुर ने जयपुर को बैटिंग का न्यौता दिया। जयपुर की टीम निर्धारित 20 ओवरों में 130 रन ही बना सकी। आेपनर यश खत्री ने 44 गेंदों पर 42 रन बनाए। अंशुमान ने 13 रनों का योगदान दिया। इसके अलावा कोई भी खिलाड़ी दहाई अंक तक नहीं पहुंच पाया। उदयपुर के नरेंद्र चौधरी ने चार ओवर में 22 रन देकर चार विकेट झटके। लक्ष्य का पीछा करने उतरी उदयपुर की टीम ने 15.4 ओवर में लक्ष्य हासिल कर लिया। ओपनर प्रशांत चौधरी ने 16 गेंदों पर 25 रन और हेमंत चौधरी ने 42 गेंदों पर 52 रन बनाए। मैन ऑफ मैच नरेंद्र चौधरी रहे। दूसरा मैच: चित्तौड़ चेतक ने पहले बल्लेबाजी करते हुए बीकानेर की टीम के सामनेे 143 रनों का लक्ष्य रखा। नरेश गहलोत ने 33 गेंदों पर 32 और राहुल तोमर ने 22 गेंदों पर 21 रन बनाए। चेतन बिष्ट ने 29 गेंदों 46 रन बनाए। बीकानेर की ओर से साकेत गौतम ने 38 रन देकर तीन विकेट लिए। बीकानेर की शुरुआत ठीक रही, लेकिन ओपनिंग बैट्समैन के आउट होने के बाद नियमित अंतराल पर विकेट गिरते रहे। इससे स्थिति खराब हो गई आेपनर सूर्यप्रकाश ने 24 गेंदों पर 28 रन बनाए। इसके अलावा कोई भी बल्लेबाज टिक नहीं सका और पूरी टीम 74 रन पर आउट हो गई। चार ओवर में 25 रन देकर चार विकेट लिए। इस प्रदर्शन के आधार पर उनको मैच ऑफ दी मैच चुना गया। आज के मैच सुबह नौ बजे: कोटा चंबल टाइगर्स वर्सेज जोधपुर जोधाना रॉयल्स सुबह 12:30 बजे: बीकानेर डेजर्ट चैलेंजर वर्सेज अजमेर मेरु वॉरियर्स

Flicker