Home »Abhivyakti »Editorial » During His Visit To French

भारत-फ्रांस संबंधों को मजबूती

Bhaskar News | Feb 18, 2013, 00:08 IST

फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने अपनी यात्रा के दौरान यह जताने में कोई कोताही नहीं बरती कि उनके देश की रणनीतिक एवं व्यापारिक गणना में भारत कितना अहम है।
एशिया में अपनी यात्रा के लिए सबसे पहले उन्होंने भारत को चुना, परमाणु शक्ति संपन्न अन्य देशों के नेताओं के विपरीत भारत के परमाणु दुर्घटना उत्तरदायित्व कानून का विरोध नहीं किया, रक्षा सौदों में भ्रष्टाचार से चिंतित भारतीय जनभावना का ख्याल करते हुए रफाल लड़ाकू विमानों के सौदे को स्वच्छ रखने का आश्वासन दिया।
अफगानिस्तान पर भारत की चिंताओं के मुताबिक स्पष्टीकरण दिया और बेलाग अपने देश का रुख दोहराया कि फ्रांस संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्थायी सदस्यता के दावे का समर्थन करता है। इसके बावजूद ओलांद भारत से कुछ ठोस लेकर नहीं लौटे।
126 रफाल विमानों और जैतापुर के लिए फ्रेंच कंपनी से परमाणु रिएक्टरों की खरीद पर बातचीत आगे बढ़ी, लेकिन करार नहीं हुआ। फिर भी यह नहीं कहा जा सकता कि ओलांद की यात्रा नाकाम रही। बल्कि उनके दौरे से आपसी समझदारी एवं सद्भाव का जो माहौल बना, उसे एक दूरगामी निवेश माना जा सकता है। फिर जमीन से हवा में मार करने वाली मैत्री मिसाइल के साझा तौर पर निर्माण के लिए हुआ समझौता दोनों देशों के रक्षा संबंधों को नए मुकाम पर ले गया है।
भारत के फ्रांस से रक्षा संबंध दशकों पुराने हैं। दोतरफा रिश्तों के मामलों में फ्रांस ने अपनी नीतियां हमेशा स्वतंत्र ढंग से तय की हैं। 1998 में जब पोकरण-2 परमाणु परीक्षणों के बाद ज्यादातर विकसित देशों ने भारत पर प्रतिबंध लगा दिए, तो उस माहौल में फ्रांस ने भारत के साथ अपने रिश्ते को रणनीतिक स्तर पर ले जाने का निर्णय लिया था। आज फ्रांस आर्थिक संकट में है। नए बाजार तलाश रहा है।
ऐसे में उभरती अर्थव्यवस्था वाले भारत पर उसकी सहज ही निगाह टिकी है। वो चाहता है कि दोनों देशों के संबंध रक्षा सौदों तक ही सीमित नहीं रहें, बल्कि आम कारोबार के क्षेत्र में भी आगे बढ़ें, जो फिलहाल अपनी संभावना से बहुत कम है। दोनों देशों के नजरिये और हितों में समानता को रेखांकित करते हुए ओलांद इसकी जमीन तैयार करने में अवश्य सफल रहे हैं।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: During his visit to French
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Editorial

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top