Home »Abhivyakti »Jeene Ki Rah» Jeene Ki Rah By Pandit Vijayshankar Mehta

जीवनसाथी को गुरुभाव से देखना शुरू करें

पं. विजयशंकर मेहता | Mar 18, 2017, 06:36 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
जीवनसाथी को गुरुभाव से देखना शुरू करें
बहुत कम लोग ऐसे भाग्यशाली होंगे जिनके जीवन में तब गुरु आ गए हों जब वे माता-पिता से कुछ सीख रहे होते हैं। अधिकतर के जीवन में गुरु तब आते हैं जब वे यौवन में प्रवेश कर चुके होते हैं या गृहस्थी बसा लेते हैं। आज उन लोगों की बात, जिनके जीवन में गृहस्थी उतर चुकी है। गृहस्थी के केंद्र में जीवनसाथी होता है। यदि आपके जीवन में कोई गुरु है तो भी और नहीं है तो भी एक प्रयोग कीजिए।
जीवनसाथी के प्रति कभी-कभी गुरु का भाव रखिए। उसे केवल शरीर या उम्र के साथ चल रहा साथी न मानते हुए उसमें गुरुभाव देखना शुरू कर दें। गुरु से एक निश्चित दूरी बनानी पड़ती है और जब किसी को निश्चित दूरी से देखते हैं तो ज्यादा अच्छे से देख सकेंगे। गुरु हर दिन नया होता है, इसलिए ऐसा भाव रखिएगा कि जीवनसाथी भी प्रतिदिन नवीनता लिए है। गुरु हमें इन्द्रियों की शुद्धता सिखाता है।
इन्द्रियों का सर्वाधिक उपयोग जीवनसाथी के साथ ही होता है। उस एकांत व गोपनीयता में यदि इन्द्रियों की शुद्धता साध ली तो इस रिश्ते के भाव ही बदल जाएंगे। जैसे गुरु-शिष्य के बीच मंत्र होता है वैसे जीवनसाथी के बीच तन होता है। मंत्र की ही तरह तन को भी साधिए। जीवनसाथी के तन को जीएं, भोगे नहीं। गुरु और शिष्य के बीच ऐसा हिसाब चलता है कि यदि गुरु को कुछ मिला है तो वह मंत्र के माध्यम से शिष्य में बांटता है।
इसी प्रकार जीवनसाथी में यदि किसी एक को कोई सुख मिला है तो उसे दोनों बांटें और दुख आता है तो उसे भी अलग-अलग न करें। गुरु तो फिर भी एक सीमा के बाद इशारा देकर हट जाएगा पर जीवनसाथी के साथ यह शुभ होता है कि जब तक दोनों का जीवन है, एक-दूसरे के लिए है। जीवनसाथी के प्रति गुरुभाव आपकी गृहस्थी का अंदाज बदल देगा।
पं. विजयशंकर मेहता
humarehanuman@gmail.com
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: jeene ki rah by pandit vijayshankar mehta
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Jeene Ki Rah

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top