Home »Abhivyakti »Jeene Ki Rah » Jeene Ki Rah By Pandit Vijayshankar Mehta

भीतर की अव्यवस्था दूर करना ही धर्म

पं. विजयशंकर मेहता | Mar 21, 2017, 07:19 IST

भीतर की अव्यवस्था दूर करना ही धर्म
कभी किसी कबाड़ी की दुकान देखिएगा। लगेगा इस अटाले की रिसाइकलिंग होगी तब ही यह कुछ बनेगा या इसे नष्ट करने के लिए भी कोई क्रिया करनी पड़ेगी। अब अपने भीतर झांकिए। हमने जो भी व्यक्ति, विचार, स्थितियां भीतर इकट्‌ठी कर रखी हैं वे बिल्कुल उस कबाड़ी की दुकान जैसी अव्यवस्थित हैं। गौर से देखिएगा, सबकुछ अधूरा है। अभी एक व्यक्ति को देखा, बीच में दूसरा आ गया, फिर तीसरा दिखने लगा। कोई अपना हो गया, कोई पराया लगने लगा।
कभी विचारों से बिल्कुल गिर गए तो कभी एकदम श्रेष्ठ हो गए। यह सब कबाड़े की दुकान की तरह है। इसे एक क्रम में जोड़ना ही ध्यान है, धर्म है। लंका कांड में रामजी ने रामेश्वरम् की स्थापना के साथ जो कहा, उसे चौपाइयों के रूप में लिखकर तुलसीदासजी ने इशारा किया है कि हमें भीतर से व्यवस्थित, साफ-सुथरे होना चाहिए। रामजी कहते हैं-‘होई अकाम जो छल तजि सेइहि। भगति मोरी तेहि संकर देइहि।। मम कृत सेतु जो दरसनु करिही। सो बिनु श्रम भवसागर तरिही।।’ जो छल छोड़ और निष्काम होकर रामेश्वरजी की सेवा करेंगे उन्हें शंकरजी मेरी भक्ति देंगे।
मेरे बनाए सेतु के दर्शन करने वाला बिना परिश्रम के संसार से तर जाएगा। यदि छल छोड़कर निष्काम हो जाते हैं तो भीतर सेतु का निर्माण होता है। शरीर से आत्मा तक पहुंचने के लिए सेतु मन है जिसे निश्छल, निष्काम बनाना है। बिना परिश्रम के संसार से पार होने का अर्थ है सफलता के साथ शांति। परिश्रम न करने का मतलब आलस नहीं है। एक ऐसा श्रम जो थकाए नहीं। यह तब ही होगा जब अपने भीतर उतरकर देखेंगे, उस सेतु से गुजरेंगे। मन के सेतु से गुजरकर आत्मा तक पहुंच जाने पर आपके कृत्य और आप एक हो जाते हैं। यहीं से बिना थके सारे अच्छे परिणाम पाए जा सकते हैं।
पं. विजयशंकर मेहता
humarehanuman@gmail.com
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: jeene ki rah by pandit vijayshankar mehta
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Jeene Ki Rah

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top