Home »Bihar »Patna » Sex Workers Working For Awareness In Red Light Areas And Educate Bar Dancers

कभी करती थी जिस्म का सौदा, अब बार गर्ल्स और पुलिस वालों को कर रही है शिक्षित!

Dainikbhaskar.com | Feb 16, 2013, 06:51 AM IST

जिस्म की मंडी में मजबूरन या अज्ञानतावश देह बेचने वाली या बार में डांस करने वाली कई ऐसी महिलाएं न सिर्फ इस दलदल से बाहर निकलने में सफल होती हैं, बल्कि वे इस गंदगी से कई अन्य लड़कियों को निकालने का प्रयास भी कर रही हैं। ऐसी ही एक महिला हैं 35 वर्षीय बेबी। बिहार में पैदा हुई बेबी एक सेक्स वर्कर थी। आजकल वह मुंबई में बार गर्ल्स और एस्कॉर्ट्स को सुरक्षित यौन संबंध और मानवाधिकारों के बारे में शिक्षित कर रही हैं। वह अपने तीन बच्चों और पुलिस को शिक्षित करने के बाद खाली समय में बार डांसर के दिनों में बने पुराने पसंदीदा ग्राहकों के पास चली जाती है।
अपने पुराने दिनों को याद करते हुए बेबी कहती हैं कि उनके पिता जी कोलकाता के बाडा बाजार में फलों के व्यापारी थे। जब वह चंद माह की थी, तभी कोलकाता शिफ्ट हो गए थे। तीन बहनों और चार भाइयों में वह सबसे छोटी थी। उनके जन्म के पहले ही सभी बहनों की शादी हो गई थी। बेबी आगे कहती हैं कि जब वह 16 साल की थी, तब अपने परिवार के खिलाफ जाकर शादी कर ली। उस दौरान दो बच्चे हुए। 22 की उम्र में पति गुजर गए। बच्चों को पालने का बोझ बढ़ गया। मां के घर के सामने रहने वाली एक महिला ने उन्हें मुंबई में काम दिलाने का वादा किया। उसने कहा कि काम के एवज में 8 से 10 हजार रुपये पगार मिलेगी। वह जब मुंबई पहुंची तो पता चला कि वहां सभी महिलाएं सेक्स वर्कर थीं।
बेबी की माने तो वहां का माहौल बहुत अजीब था। महिलाएं सिगरेट और शराब पीती थीं। साथ में ग्राहकों को बुलाती थीं। बेबी ने बताया कि जब उन्होंने यह सब करना मना कर दिया तो उन्हें कपड़े धोने का काम मुझे सौंपा, जिसके एवज में 20 रुपए मिलते थे। यह दिनचर्या का हिस्सा हो गया था। वह किसी तरह से अपने बच्चों का पालन-पोषण कर रही थी। उसी दौरान मलाड रेड लाइट एरिया में एक अधेड़ महिला ने उन्हें जबरन इस काम को करने का दबाव डाला। उसने उनकी पिटाई भी की। साथ ही बच्चों के साथ बुरा करने की धमकी भी दी।
बेबी कहती हैं, "वह मुझे कांदिवली स्टेशन ले गई और हर आदमी को देखकर मुस्कुराने और उसे बुलाने का दबाव डालने लगी। मैंने चिल्लाना चाहा तो उसने कहा कि अगर चिल्लाओगी तो हम दोनों को पुलिस लेकर चली जाएगी, उसके बाद तुम्हारे बच्चों का क्या होगा। लगभग एक सप्ताह बाद उसने मेरे लिए ग्राहक ढूंढ लिया। यह पहली बार था जब मैं किसी गैर मर्द के साथ हमबिस्तर हुई। इसके बदले मुझे 1000 रुपये मिले, जिसमें से 600 रुपये उस महिला ने रख लिए।"
बार डांसर बनने के सवाल पर बेबी ने कहा कि वह अधेड़ महिला के साथ वापस कोलकाता लौट आई और उसने पुलिस की धमकी देकर कुछ पैसे ले लिए। एक ब्यूटी पार्लर में गई और बार डांसर बन गई। बेबी ने बताया कि तीन तरह के बार डांसर होते हैं। एक में आपको डांस करने के साथ सेक्स भी करना पड़ता है। दूसरे में सिर्फ आप डांस करती हैं और अगर आप पैसा कमाना चाहती हैं तो सेक्स करने के बारे में खुद ग्राहक का चुन सकती हैं। तीसरे में आप शराब सर्व करने वाली वेटरेस की भूमिका में होती हैं।
पुलिस की मानसिकता बदलने के सवाल पर बेबी ने कहा कि बार में कई बार हमारे ग्राहक पुलिस वाले भी होते थे। वहीं, कई बार छापेमारी भी होती थी। उस छापेमारी में बार डांसरों के साथ रेप भी होता था, लेकिन वे पुलिस में इसकी शिकायत भी नहीं कर सकती थी। बेबी ने कहा कि हर बार डांसर सेक्स वर्कर नहीं होती है। इसी बात को लेकर मैं पुलिस वालों के सामने गई। मुझे अपने अधिकार भी समझ में आए और इसके बारे में कई पुलिसकर्मियों से बात की। उन्होंने हमारी बातों को गंभीरता से सुना और हमारी मदद को तैयार हो गए। इसके बाद मैं सेक्स वर्कर कम्यूनिटी की एक्टिव मेम्बर बन गई और लोगों को एड्स के प्रति जागरूक करने लगी। साथ में मानवाधिकार के बारे में भी उन्हें बताने लगी। बेबी कहती हैं कि रक्षाबंधन पर पुलिसकर्मियों को हम राखी भी बांधते हैं और उनसे गिफ्ट भी लेते हैं।
आगे की स्लाइड्स में जानें कुछ ऐसी और महिलाओं के बारे में जो सेक्स वर्कर की जिंदगी को छोड़कर समाज की मुख्यधारा से जुड़ गईं...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Sex workers working for awareness in red light areas and educate bar dancers
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Patna

      Trending Now

      Top