Home »Bihar »Patna» Sushil Modi Is Sizing Up In Gujrat CM Narendra Modi In Bihar

PHOTOS: 'नमो' यानि नरेंद्र मोदी पर भारी है यहां का 'सुमो', जानिए कैसे!

अजय कुमार | Jan 18, 2013, 10:21 IST

  • पटना। आखिरकार नमो (नरेंद्र मोदी) पर बिहार के सुमो (सुशील मोदी) भारी पड़े। बिहार में बीजेपी के नये अध्यक्ष के पद पर अपने पसंदीदा मंगल पांडेय की ताजपोशी करा यह भी जाहिर कर दिया कि पाटलिपुत्र में उनकी ही चलेगी। अहमदाबाद में भले नमो की चले। नरेंद्र मोदी की तरह हार्ड लाइनर की छवि वाले तमाम चेहरे सुशील मोदी की रणनीति के आगे धाराशायी होते गये। नरेंद्र मोदी के बर्थ डे पर केक काट खुद को उनका वैचारिक चेहरा साबित करने वाले मंत्री गिरिराज सिंह को ऐसे पलटे कि वह मंगल पांडेय के प्रस्तावक बन गये। सूरत और अहमदाबाद में नरेंद्र मोदी की तारीफों के पहाड़ खड़ा करने वाले स्वास्थ्य मंत्री अश्विनी चौबे भी बिहार वाले मोदी के रास्ते से हट गये।
    आगे की स्लाइड्स में जानें, कैसे पीछे हटते गए लोग, क्या चली मोदी ने चाल...
  • अध्यक्ष पद पर दोबारा बैठने की चाहत रखने वाले डा सीपी ठाकुर को केंद्रीय नेतृत्व ने आसानी से मना लिया। अब उनके सामने अपनी से अधिक चिंता अपने बेटे विवेक ठाकुर को लेकर है। विवेक को बीते चुनावों में टिकट देने की मांग उठी थी। पर बात नहीं बनी। अब आगे विधानसभा और लोकसभा चुनाव के दो मौके आने वाले हैं। ऐसे में डॉ ठाकुर पीछे हट गये। आठ बार से विधायक बन रहे अवनीश सिंह ने चुनाव के पहले विद्रोही तेवर दिखाये थे। पर ऐन वक्त पर वह भी पीछे हट गये यह कहते हुए: केंद्रीय नेतृत्व को हमने अपनी बात सुना दी। हमारा मकसद पूरा हुआ। इस ताजपोशी से यह भी साफ हुआ कि बिहार बीजेपी पर सुशील मोदी की पकड़ कहीं ज्यादा मजबूत हुई है। वह गठबंधन की बड़ी पार्टी जदयू के साथ रिश्तों को कैसे दूर तक ले जाएंगे, इसकी भूमिका वह निभाएंगे। इसका अर्थ यह भी हुआ कि राज्य में बीजेपी का जदयू के साथ संबंध बना रहेगा। बीच-बीच में राजनीतिक हलकों में यह बात उठती-उड़ती रही कि दोनों दलों के बीच छत्तीस की भूमिका तैयार हो रही है। राष्ट्रपति चुनाव के दौरान दोनों दलों ने अपनी-अपनी पसंद के उम्मीदवारों का समर्थन किया था।

  • बीजेपी के अंदरखाने से यह बात भी सामने आ रही है कि नीतीश कुमार, सरकार की कतिपय नाकामियों और नरेंद्र मोदी के पक्ष में बयान देकर पार्टी नेतृत्व को सकते में डालने वाले डॉ सीपी ठाकुर से उसने किनारा कर लेना ही मुनासिब समझा।

  • मंगल पांडेय के अध्यक्ष बनने के बाद कम से कम अब बयानों को लेकर पार्टी नेतृत्व की फजीहत नहीं होगी। मंगल पांडेय को मोदी के पसंद के अनुसार ही पिछले दिनों विधान परिषद में भेजा गया गया था। 44 साल के पांडेय को पार्टी का युवा चेहरा माना जा रहा है। उन्होंने 1990 में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से अपना राजनीतिक कॅरियर शुरू किया था। उन्हें आमतौर पर मिलनसार और सभी धड़ों को साथ लेकर चलने वाले के रूप में देखा जाता है।

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Sushil Modi is sizing up in Gujrat CM Narendra Modi in Bihar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Patna

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top